X

Fact Check: अकबरुद्दीन ओवैसी ने BJP और कांग्रेस दोनों का जनाजा निकालने की बात की थी, वायरल वीडियो क्लिप एडिटेड है

बीजेपी के साथ मिलकर कांग्रेस का जनाजा उठाए जाने के दावे के साथ वायरल हो अकबरुद्दीन ओवैसी का वीडियो क्लिप काफी पुराने भाषण का एक अंश है, जिसे संदर्भ से अलग कर साझा किया जा रहा है। वास्तव में उन्होंने बीजेपी के साथ साथ कांग्रेस का भी जनाजा निकालने की बात की थी।

  • By Vishvas News
  • Updated: December 5, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। दो राज्यों समेत अन्य उप-चुनाव और स्थानीय निकाय के चुनावों के बीच सोशल मीडिया पर एआईएमआईएम के अकबरुद्दीन ओवैसी का एक वीडियो वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो के जरिए ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की बी टीम बताते हुए दावा किया जा रहा है कि अकबरुद्दीन ओवैसी ने एक जनसभा में कहा कि वह मोदी जी के साथ मिलकर कांग्रेस का जनाजा उठाएंगे।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा गलत और दुष्प्रचार निकला। वायरल वीडियो अकबरुद्दीन ओवैसी के भाषण का एक छोटा वीडियो क्लिप है, जिसे सुनने पर ऐसा लगता है कि उन्होंने बीजेपी के साथ मिलकर कांग्रेस को खत्म करने की बात की हो, लेकिन वास्तव में उन्होंने बीजेपी और कांग्रेस दोनों को खत्म करने की बात की थी। अपने पूरे भाषण में उन्होंने बीजेपी के साथ-साथ कांग्रेस पर निशाना साधा था।

क्या है वायरल?

सोशल मीडिया यूजर ‘Natraj Kamboj Ex Major’ ने वायरल वीडियो (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए एआईएमआईएम को बीजेपी की बी टीम बताते हुए लिखा है, ”
मनीषा चौबे@ChobeyManisha
यह रहा सबसे बड़ा सबूत !
संतरों की B टीम का , जनाजा उठाएंगे
मोडी जी के साथ मिलकर कांग्रेस का??”

सोशल मीडिया पर फेक दावे के साथ वायरल हो रहा अकबरुद्दीन ओवैसी के पुराने भाषण का एडिटेड वीडियो क्लिप

सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर कई अन्य यूजर्स ने इस वीडियो क्लिप को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

वायरल वीडियो क्लिप करीब एक मिनट लंबा है, जिसमें अकबरुद्दीन ओवैसी को यह कहते हुए सुना जा सकता है, ”…..इस कांग्रेस का जनाजा भी उठाउंगा। बड़ी धूम से नरेंद्र मोदी के साथ इस कांग्रेस का जनाजा भी उठाउंगा।”

स्पष्ट है कि वायरल हो रहा वीडियो किसी भाषण एक छोटा क्लिप है और यह सोशल मीडिया पर दु्ष्प्रचार का सबसे प्रचलित तरीका है, जब किसी नेता के भाषण के एक अंश को उसके संदर्भ से अलग कर वायरल किया जाता है , जिससे उसके मायने और मतलब अलग हो जाते हैं।

संदेह का दूसरा कारण यह भी है कि ओवैसी बंधु सार्वजनिक तौर पर कांग्रेस के साथ-साथ बीजेपी के आलोचक रहे हैं। ऐसे में इस बात पर यकीं नहीं किया जा सकता है कि अकबरुद्दीन ओवैसी ने बीजेपी के साथ मिलकर कांग्रेस को खत्म करने की बात की हो।

सर्च में अकबरुद्दीन ओवैसी के फेसबुक पेज पर उनके वायरल भाषण का वीडियो मिला, जिसे 31 जनवरी 2016 को साझा किया गया है। दी गई जानकारी के मुताबिक, उन्होंने बाबानगर में एक सार्वजनिक बैठक के दौरान बीजेपी और कांग्रेस दोनों पर निशाना साधा था।

ओवैसी ने मुस्लिमों की दुर्दशा के लिए बीजेपी के साथ-साथ कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा, ”…….बड़े बड़े तूफान आए और टकरा के चले गए, मजलिस कभी कमजोर नहीं हुआ।…..अब ये आए हैं और वैसे भी जाएंगे। बीजेपी से मुकाबला हम कर रहे हैं और हम ही करेंगे। अरे आएं बताएं कांग्रेसी गुलामों, इंदिरा गांधी दारुस्सलाम को आई थी, मजलिस गांधी भवन को नहीं गई। दारुस्सलाम की चौखट की धूल चाटने पर मजबूर इंदिरा गांधी हुई थी। लिख लो मेरी बात….अकबरुद्दीन ओवैसी ये सोनिया गांधी, ये राहुल गांधी, ये जितने भी गांधी हैं और उनके जितने गुलाम हैं, उनको दुबारा दारो सलाम की चौखट चाटने पर मजबूर कर दूंगा। अब इनको मैं नहीं छोड़ने वाला। असद साहब की जरूरत नहीं है, पूरा हिंदुस्तान में इनका पीछा मैं करुंगा। बड़ी धूम से नरेंद्र मोदी के साथ इस कांग्रेस का जनाजा भी उठाउंगा।”

‘4tv News Channel’ के आधिकारिक यू-ट्यूब चैनल पर भी करीब छह साल पहले उनके इस भाषण का वीडियो अपलोड किया गया है, जो हैदराबाद के बाबा नगर में आयोजित जनसभा के दौरान का है।

वायरल वीडियो को लेकर विश्वास न्यूज ने एआईएमआईएम के प्रवक्ता आसिम वकार से संपर्क किया। उन्होंने कहा, ”यह वीडियो काफी समय से वायरल होता रहा है। यह उनके पुराने भाषण (करीब 2014-15) का है और इसे पूरा सुनने पर कही गई बातों का मतलब अपने आप स्पष्ट हो जाता है।”

वायरल वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर को फेसबुक पर करीब 700 से अधिक लोग फॉलो करते हैं।

इससे पहले भी अलग-अलग चुनावी मौकों पर ऐसे कई मैसेज वायरल हुए हैं, जिसे लेकर दावा किया गया है कि ओवैसी दल विशेष की बी टीम के तौर पर काम कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के बाद ऐसा ही एक मैसेज वायरल हुआ था, जिसमें दावा किया गया था असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने 403 विधानसभा सीटों वाले उत्तर प्रदेश की कुल 165 सीटों पर चुनाव लड़ा और इन सभी सीटों पर ओवैसी की पार्टी की वजह से बीजेपी के उम्मीदवार विपक्षी दल के मुकाबले 2000 से कम मतों के अंतर से जीतने में सफल रहे। विश्वास न्यूज ने अपनी जांच में इस दावे को तथ्यात्मक रूप से गलत पाया था, जिसकी फैक्ट चेक रिपोर्ट को यहां पढ़ा जा सकता है।

निष्कर्ष: बीजेपी के साथ मिलकर कांग्रेस का जनाजा उठाए जाने के दावे के साथ वायरल हो अकबरुद्दीन ओवैसी का वीडियो क्लिप काफी पुराने भाषण का एक अंश है, जिसे संदर्भ से अलग कर साझा किया जा रहा है। वास्तव में उन्होंने बीजेपी के साथ साथ कांग्रेस का भी जनाजा निकालने की बात की थी।

  • Claim Review : मोदी जी के साथ मिलकर कांग्रेस का जनाजा उठाएंगे ओवैसी।
  • Claimed By : FB User-Natraj Kamboj Ex Major
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later