X

Fact Check: राहुल गांधी ने हिंदुस्तानी छात्रों के अमेरिका जाकर भारत का झंडा लहराने की बात की थी, वायरल वीडियो क्लिप एडिटेड और दुष्प्रचार

अंग्रेजी बनाम हिंदी विवाद में 'भारत जोड़ो' यात्रा के दौरान राजस्थान के अलवर में राहुल गांधी के भाषण के एक अंश को संदर्भ से अलग दुष्प्रचार की मंशा के साथ शेयर किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: December 29, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। कांग्रेस की ”भारत जोड़ो” यात्रा के बीच सोशल मीडिया पर राहुल गांधी के भाषण का एक वीडियो क्लिप वायरल हो रहा है, जिसमें उन्हें यह कहते हुए सुना जा सकता है कि अगर जरूरत पड़ी तो वह अमेरिका में जाकर हिंदुस्तान का झंडा लहराएंगे। इस बयान के दौरान एक जगह उनकी जुबां लड़खड़ाती हुई सुनाई देती है और वायरल वीडियो क्लिप के जरिए यह साबित करने की कोशिश की जा रही है कि उन्होंने जो कुछ कहा, वह उससे सहमत नहीं थे।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा दुष्प्रचार निकला। वायरल वीडियो क्लिप एडिटेड है, जिसे उसके संदर्भ से अलग कर शेयर किया जा रहा है। वास्तव में यह वीडियो क्लिप राजस्थान के अलवर में ‘भारत जोड़ो’ यात्रा के दौरान उनके भाषण का है, जिसमें उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेताओं पर अंग्रेजी के खिलाफ बोलने को लेकर निशाना साधा था और इसी संदर्भ में उन्होंने कहा था, बीजेपी के लोग नहीं चाहते कि हिंदुस्तान के गरीब, किसान और मजदूर का बेटा अंग्रेजी सीखें। राहुल ने कहा मैं चाहता हूं कि हिंदुस्तान के गरीब से गरीब किसान का बेटा एक दिन जाकर अमेरिकी युवाओं से प्रतिस्पर्धा करे और उसी की भाषा में उसे हराए। उन्होंने कहा कि राजस्थान के हर बच्चे को अंग्रेजी सीखने का अवसर मिलना चाहिए और हर बच्चे को लगना चाहिए कि वह हिंदी सीख सकता है और जरूरत पड़ने पर पूरी दुनिया के साथ (अंग्रेजी में) बात कर सकता है और जरूरत पड़ने पर वह अमेरिका में जाकर भारत का झंडा लहरा सकता है।

स्पष्ट है कि राहुल गांधी ने जो बयान दिया था, वह बच्चों को मातृभाषा में शिक्षा दिए जाने के साथ अंग्रेजी सिखाए जाने के बारे में था और उनके इसी भाषण के एक अंश को उसके संदर्भ से अलग कर शेयर किया जा रहा है, जिससे उसके मायने मतलब बदल जा रहे हैं।

क्या है वायरल?

सोशल मीडिया यूजर ‘bjp8mandvi’ ने वायरल वीडियो (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए राहुल गांधी पर निशाना साधा है।

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट

कई अन्य यूजर्स ने इस वीडियो क्लिप को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

सोशल मीडिया पर किसी नेता विशेष के खिलाफ दुष्प्रचार का यह सबसे प्रचलित तरीका है, जिसमें उनके भाषण के एक अंश को सोशल मीडिया पर शेयर किया जाता है। राहुल गांधी का वायरल वीडियो क्लिप इसी श्रेणी में आता है। वीडियो को देखने और सुनने से यह स्पष्ट हो जाता है कि यह उनके बयान का एक हिस्सा है।

वायरल क्लिप में उन्हें बस इतना कहते हुए सुना जा सकता है, ”……पूरी दुनिया के साथ कम्युनिकेट कर सकता हूं मैं….पूरी दुनिया के साथ बातचीत कर सकता हूं। अगर जरूरत पड़ी तो अमेरिका में जाकर मैं हिंदुस्तान का झंडा उख….अअअअअ लहराऊंगा।” बयान को सुनकर इसक संदर्भ स्पष्ट नहीं हो पाता और ऐसा लगता है कि राहुल गांधी अपने बारे में बात कर रहे हैं।

संदर्भ को समझने के लिए हमने ऑरिजिनल वीडियो को सर्च किया। वायरल हो रहा क्लिप ‘भारत जोड़ो’ यात्रा के दौरान राजस्थान के अलवर में राहुल गांधी के भाषण का है। इस वीडियो को राहुल गांधी के आधिकारिक यूट्यूब पर 19 दिसंबर 2022 को अपलोड किया गया है।

करीब डेढ़ घंटा लंबे इस वीडियो में वह राजस्थान सरकार की तारीफ करते हुए बीजेपी और केंद्र सरकार पर निशाना साधते हैं। इसी दौरान वह अंग्रेजी बनाम हिंदी विवाद को लेकर बीजेपी नेताओं पर निशाना साधते (1.08.05 के फ्रेम में) हुए कहते हैं, ”….हमारे विपक्ष के नेता जो हैं, बीजेपी के नेता हैं, जहां भी जाते हैं अंग्रेजी के खिलाफ बातें करते हैं। स्कूलों में अंग्रेजी नहीं होनी चाहिए। बंगाली होनी चाहिए, हिंदी होनी चाहिए, लेकिन अंग्रेजी नहीं होनी चाहिए। कभी आप एक काम कीजिए, ये नेता जो कहते हैं कि अंग्रेजी नहीं होनी चाहिए, उनके पास जाइए और पूछिए कि भैया बात तो आप ये अच्छी कर रहे हो, मगर आपका बेटा कौन से स्कूल में जाता है? क्या इंग्लिश मीडियम में जाता है? हां या न!….हां। इनके सारे के सारे बच्चे, अमित शाह जी से लेकर, इनके सब चीफ मिनिस्टर के बच्चे, एमपी के बच्चे, एमएलए के बच्चे…सारे के सारे बच्चे इंग्लिश मीडियम स्कूल में जाते हैं और भाषण देते हैं कि भैया अंग्रेजी किसी को बोलनी नहीं चाहिए।”

इसके बाद वह राजस्थान में अंग्रेजी भाषी स्कूल और अंग्रेजी शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तारीफ करते हुए कहते हैं, ”…..मैं यह नहीं कर रहा हूं कि हिंदी नहीं पढ़नी चाहिए, तमिल, मराठी, बंगाली…हिंदुस्तान की सब भाषाएं पढ़नी चाहिए। अगर आप बाकी दुनिया से बात करना चाहते हो, चाहे वह अमेरिका, इंग्लैंड या जापान के लोग हों, तो वहां हिंदी काम नहीं आएगी। वहां अंग्रेजी ही काम आएगी।”

उन्होंने कहा, ”…..हम चाहते हैं कि हिंदुस्तान के गरीब से गरीब किसान का बेटा एक दिन जाकर अमेरिका के युवाओं से कॉम्पिटीशन करे और उसी की भाषा में उसे हराए। ये हमारा दृष्टिकोण है।……….राजस्थान के हर बच्चे को अंग्रेजी का अवसर मिलना चाहिए। हर बच्चे को लगना चाहिए कि मैं हिंदी सीख सकता हूं, अपनी मातृभाषा सीख सकता हूं और पूरी दुनिया के साथ कम्युनिकेट कर सकता हूं और बातचीत कर सकता हूं। अगर मुझे जरूरत पड़ी तो मैं अमेरिका में जाकर हिंदुस्तान का झंडा….अअअअ…लहराऊंगा।”

स्पष्ट है कि वह राजस्थान के बच्चों को अंग्रेजी और उनकी मातृभाषा में शिक्षा दिए जाने के बारे में बात कर रहे थे और इस दौरान उनकी जुबान फिसली भी थी, जिसे उन्होंने तत्काल सुधार लिया। वायरल वीडियो क्लिप को लेकर हमने कांग्रेस के प्रवक्ता अभिमन्यु त्यागी से संपर्क किया। उन्होंने वायरल क्लिप को राहुल गांधी के खिलाफ दुष्प्रचार बताते हुए कहा कि बीजेपी इस यात्रा से डर गई है और बीजेपी आईटी सेल के लोग राहुल गांधी के भाषणों के साथ छेड़छाड़ कर उसके एडिटेड क्लिप को वायरल कर रहे हैं।

‘भारत जोड़ो’ यात्रा के शुरू होने के बाद से इससे संबंधित दुष्प्रचारों के मामलों में तेजी आई है। विश्वास न्यूज ने अपनी विश्लेषणात्मक रिपोर्ट में इस ट्रेंड्स का विस्तृत आकलन किया है, जिसकी रिपोर्ट को यहां पढ़ा जा सकता है।

वायरल वीडियो क्लिप को दुष्प्रचार की मंशा से शेयर करने वाले यूजर को इंस्टाग्राम पर करीब आठ सौ लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: अंग्रेजी बनाम हिंदी विवाद में ‘भारत जोड़ो’ यात्रा के दौरान राजस्थान के अलवर में राहुल गांधी के भाषण के एक अंश को संदर्भ से अलग दुष्प्रचार की मंशा के साथ शेयर किया जा रहा है।

  • Claim Review : राहुल गांधी ने की देश को अपमानित करने की बात।
  • Claimed By : Insta User-bjp8mandvi
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later