X

Fact Check: यूपी में रेपिस्ट को गोली मारने की पुरानी खबर भ्रामक दावे से हो रही वायरल

यूपी के रामपुर में रेपिस्ट को गोली मारने की खबर करीब दो साल पुरानी है। यूपी पुलिस के इस एनकाउंटर में आरोपी की मौत नहीं हुई थी, बल्कि वह घायल हुआ था। बाद में कोर्ट ने आरोपी को बच्ची से रेप और मर्डर का दोषी मान फांसी की सजा सुनाई थी। इस पुरानी खबर को गलत दावे के साथ अभी की बता कर वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: June 25, 2021

विश्‍वास न्‍यूज (नई दिल्‍ली)। सोशल मीडिया पर यूपी में हुए एक पुलिस एनकाउंटर से जुड़ी एक पोस्ट शेयर की जा रही है। इस पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि रामपुर के एसपी अजयपाल शर्मा ने 6 वर्षीय बच्ची के रेपिस्ट को एनकाउंटर कर मार दिया। विश्वास न्यूज की पड़ताल में ये दावा भ्रामक निकला है। यह मामला करीब दो साल पुराना है। तब रामपुर पुलिस ने मुठभेड़ के बाद रेप के एक आरोपी को अरेस्ट किया था। मुठभेड़ में आरोपी की मौत नहीं हुई थी, बल्कि वह घायल हुआ था। इसी पुरानी घटना को अब गलत दावों से वायरल किया जा रहा है।

क्या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर पुष्पेन्द्र सिंह चौहान ने 23 जून 2021 को वायरल पोस्ट शेयर की है। वायरल पोस्ट के मुताबिक यह न्यूज इंडिया 1 चैनल की ब्रेकिंग प्लेट है। इसपर लिखा है कि देश में पहली बार यूपी पुलिस ने किसी रेपिस्ट को गोली मारी है। इस ब्रेकिंग प्लेट को शेयर करते हुए यूजर ने लिखा है, ‘यूपी में सर पे चुनाव है, लेकिन बाबा जी बेख़ौफ बल्ले बाजी कर रहे, जय योगीराज❣️💪😂 👇 रामपुर के SP अजयपाल शर्मा जी ने 6 वर्ष की बच्ची के बलात्कारी #मुहम्मद_नाज़िल को 3गोलियां मार कर 72 हूरों के पास पहुँचा दिया …. #up_police #ajaypalsharma.. SP अजयपाल शर्मा जी को हम सब की तरफ से सहृदय धन्यवाद व सम्मान 🙏🙏’।

इस पोस्ट की बातों को यहां ज्यों का त्यों पेश किया गया है। इस पोस्ट के आर्काइव्ड वर्जन को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है। फेसबुक यूजर Amit Rathore, गोपाल महात्मा और Niharika Rajpoot ने भी यही वायरल दावा शेयर किया है।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने सबसे पहले वायरल ब्रेकिंग प्लेट पर लिखे टेक्स्ट को गूगल पर ओपन सर्च किया। हमें News1 India नाम के एक यूट्यूब चैनल पर 23 जून 2019 को पोस्ट की गई एक वीडियो रिपोर्ट मिली। इस रिपोर्ट में बताया गया है कि यूपी के रामपुर में पुलिस ने रेपिस्ट को गोली मार अरेस्ट कर लिया है। वीडियो रिपोर्ट के मुताबिक, यह कार्रवाई रामपुर के एसपी अजयपाल शर्मा के नेतृत्व में हुई है। इस रिपोर्ट में अजयपाल शर्मा को एनकाउंटर स्पेशलिस्ट बताया जा रहा है। ब्रेकिंग प्लेट का वायरल स्क्रीनशॉट इसी वीडियो से लिया गया है। इस पुरानी वीडियो रिपोर्ट में कहीं भी यह जिक्र नहीं है कि एनकाउंटर में आरोपी मारा गया। इसे यहां नीचे देखा जा सकता है।

इस जानकारी के आधार पर हमने इस मामले को इंटरनेट पर और सर्च किया। हमें हमारे सहयोगी दैनिक जागरण की वेबसाइट पर 24 जुलाई 2019 को प्रकाशित एक रिपोर्ट मिली। इस पुरानी रिपोर्ट में भी वायरल घटना का जिक्र है। रिपोर्ट के मुताबिक, रामपुर के सिविल लाइंस थाना क्षेत्र में 7 मई 2019 को एक छह साल की बालिका गायब हो गई। 21 जून 2019 को उसकी लाश बरामद हुई। पुलिस जांच में पता चला कि मोहल्ले के नाजिल नाम के युवक ने बच्ची से रेप किया और फिर हत्या कर लाश छिपा दी। आरोपी युवक को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया, उसके पैरों में गोली लगी। इस रिपोर्ट को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

इसी तरह दैनिक जागरण की ही 10 जनवरी 2020 की एक पुरानी रिपोर्ट में रामपुर से एसपी डॉ. अजय पाल शर्मा के ट्रांसफर का जिक्र है। इस रिपोर्ट में रामपुर में 7 महीने के कार्यकाल के दौरान उनके कामों का जिक्र है। बच्ची से रेप और मर्डर के मामले का भी जिक्र करते हुए बताया गया है कि पुलिस ने प्रभावी ढंग से पैरवी कर महीने में ही कोर्ट से दोष सिद्ध करा दोषी को फांसी की सजा दिलवाई। इस रिपोर्ट को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

विश्वास न्यूज की अबतक की पड़ताल से यह बात स्पष्ट हो चुकी थी रामपुर की जिस घटना को अभी का बताकर शेयर किया जा रहा है, वह करीब 2 साल पुरानी है। तब अजय पाल शर्मा रामपुर के एसपी थे, अभी नहीं हैं। बच्ची से रेप और मर्डर के मामले में पुलिस ने आरोपी युवक को एनकाउंटर के बाद अरेस्ट किया था, लेकिन उसकी जान नहीं गई थी, बल्कि पैर में गोली लगी थी। दोषी को फांसी की सजा सुनाई जा चुकी है।

विश्वास न्यूज ने इस वायरल दावे के संबंध में रामपुर के सिविल लाइंस थाने के एसएचओ से बात की। उन्होंने भी बताया कि यह मामला पुराना है और दोषी को अदालत से सजा सुनाई जा चुकी है।

विश्वास न्यूज ने इस वायरल दावे को शेयर करने वाले फेसबुक यूजर पुष्पेन्द्र सिंह चौहान की प्रोफाइल को स्कैन किया। यूजर मैनपुरी, यूपी के रहने वाले हैं और फैक्ट चेक किए जाने तक इस प्रोफाइल के 507 फॉलोअर्स थे।

निष्कर्ष: यूपी के रामपुर में रेपिस्ट को गोली मारने की खबर करीब दो साल पुरानी है। यूपी पुलिस के इस एनकाउंटर में आरोपी की मौत नहीं हुई थी, बल्कि वह घायल हुआ था। बाद में कोर्ट ने आरोपी को बच्ची से रेप और मर्डर का दोषी मान फांसी की सजा सुनाई थी। इस पुरानी खबर को गलत दावे के साथ अभी की बता कर वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : रामपुर के एसपी अजयपाल शर्मा ने 6 वर्षीय बच्ची के रेपिस्ट को एनकाउंटर कर मार दिया।
  • Claimed By : फेसबुक यूजर पुष्पेन्द्र सिंह चौहान
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later