X

Fact Check: ताइवान में आए भूकंप के वीडियो को इंडोनेशिया में हाल में आए भूकंप का बताकर किया जा रहा वायरल

इंडोनेशिया में हाल ही में आए तेज भूकंप के दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो ताइवान में 18 सितंबर 2022 को आए भूकंप का है, जिसे भ्रामक दावे के साथ इंडोनेशिया का बताकर वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: January 14, 2023

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। हाल ही में इंडोनेशिया में आए तेज भूकंप के झटकों के बाद सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि यह इंडोनेशिया में आए भूकंप से संबंधित है। वायरल वीडियो में भूकंप के तेज झटकों को साफ-साफ देखा जा सकता है।

विश्वास न्यूज ने अपनी जांच में पाया कि वायरल हो रहा वीडियो वास्तव में ताइवान में 18 सितंबर 2022 को आए भूकंप का है, न कि इंडोनेशिया का। हाल ही में इंडोनेशिया में आए भूकंप में काफी नुकसान हुआ था।

क्या है वायरल?

सोशल मीडिया यूजर ‘Amber Sharma’ ने वायरल वीडियो (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”#earthquake Video From #Indonesia Magnitude 7.7, tremors felt over 2000 kilometers. Nature is very fragile & We humans are playing with Mother #Nature.” (”#इंडोनेशिया के भूकंप का वीडियो #तीव्रता 7.7 से, 2000 किलोमीटर से अधिक महसूस किए गए झटके। प्रकृति बहुत नाजुक है और हम इंसान #प्रकृति के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।”)

कई अन्य यूजर्स ने इस वीडियो को इंडोनेशिया का बताते हुए समान दावे से वायरल किया है। ट्विटर पर भी कई यूजर्स ने इस वीडियो को समान दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट को रिवर्स इमेज सर्च करने पर ताइवान न्यूज डॉटकॉम की वेबसाइट पर 19 सितंबर 2022 की प्रकाशित रिपोर्ट मिली, जिसमें वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट का इस्तेमाल किया गया है।

ताइवान न्यूज डॉटकॉम की वेबसाइट पर 19 सितंबर 2022 की प्रकाशित रिपोर्ट में इस्तेमाल की गई तस्वीर वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट है।

दी गई जानकारी के मुताबिक, पहाड़ की चढ़ाई करने वाले दल को हुआलिन झुओस्की की पहाड़ी पर उस वक्त बचाव के लिए जमीन पर लेटना पड़ा, जब वहां 6.8 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। रविवार को दोपहर 2.44 मिनट पर दक्षिणपूर्वी ताइवान में भूकंप के झटके महसूस किए गए और इस वजह से काफी नुकसान भी हुआ।

ताइवान न्यूज के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर भी इस घटना के वीडियो को अपलोड किया गया है, जो तीन महीने पुराना है।

न्यूज रिपोर्ट्स के मुताबिक, 10 जनवरी को इंडोनेशिया के मालुकू में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 7.6 मापी गई थी और इसके बाद सुनामी की चेतावनी जारी की गई थी। साथ ही इस भूकंप के झटके ऑस्ट्रेलिया तक महसूस किए गए थे।

वायरल वीडियो को लेकर विश्वास न्यूज ने इंडोनेशियाई फैक्ट चेकिंग एजेंसी सीईके फैक्टा डॉटकॉम से संपर्क किया। फैक्ट चेकर आदि स्याफितरा ने बताया कि भूकंप का यह वीडियो इंडोनेशिया का नहीं है।

वायरल वीडियो को भ्रामक दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर ने अपनी प्रोफाइल में स्वयं को फिल्म का डायरेक्टर बताया है।

2022 में विश्वास न्यूज ने केवल हिंदी में करीब डेढ़ हजार से अधिक फैक्ट चेक रिपोर्ट्स को प्रकाशित किया और इन रिपोर्ट्स का विश्लेषण हमें साल के दौरान भारतीय परिदृश्य में मिस-इन्फॉर्मेशन के ट्रेंड्स के बारे में रोचक जानकारी देता है। विश्वास न्यूज की इस विशेष रिपोर्ट को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

निष्कर्ष: इंडोनेशिया में हाल ही में आए तेज भूकंप के दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो ताइवान में 18 सितंबर 2022 को आए भूकंप का है, जिसे भ्रामक दावे के साथ इंडोनेशिया का बताकर वायरल किया जा रहा है।

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later