X

Fact Check: सावधान! पेटीएम केवाईसी के सस्पेंड होने का फर्जी मैसेज हो रहा वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: January 6, 2020

विश्वास न्यूज (नई दिल्ली)। हाल के दिनों में कई पेटीएम यूजर्स को मैसेज मिल रहा है कि उनकी केवाईसी सस्पेंड हो गई है। मैसेज में यूजर्स से कहा जा रहा है कि उन्हें इस रीऐक्टिवेट कराने के लिए एक नंबर पर कॉल करना होगा वरना उनका अकाउंट 24 घंटे के अंदर ब्लॉक हो जाएगा। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह वायरल मैसेज फर्जी निकला है। दरअसल इसे लोगों के साथ फर्जीवाड़े की नियत से भेजा जा रहा है।

क्या है वायरल मैसेज में

पेटीएम ग्राहकों को एक टेक्स्ट मैसेज मिल रहा है। इस मैसेज में अंग्रेजी में लिखा है, “Dear (paytm) customer your paytm KYC has been suspended PAY-TM office PH 7679046492 A/C will block within 24hr Thank you.” यह मैसेज यूजर्स से कह रहा है कि उनकी पेटीएम केवाईसी ब्लॉक हो गई है। उन्हें पेटीएम ऑफिस के नंबर 7679046492 पर फोन करना होगा वरना उनका अकाउंट 24 घंटे के भीतर ब्लॉक हो जाएगा।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल शुरू की तो पेटीएम यूजर्स के कई सारे ट्वीट मिले। इसमें यूजर पेटीएम से पूछते मिले कि जो मैसेज उन्हें मिला है वो प्रमाणिक है या नहीं।

ऐसे ही एक ट्वीट का जवाब पेटीएम के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से दिया गया है। इस जवाब में लिखा है कि यह मैसेज पेटीएम की तरफ से कोई आधिकारिक कम्युनिकेशन नहीं है। इसमें आगे लिखा है, ‘कृपया ऐसे फर्जी कॉल करने वाले/संदेशों से बचकर रहें। इसे हमारे सामने लाने के लिए शुक्रिया, हम इसके खिलाफ उचित कदम उठाएंगे।’

पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर ने खुद ट्वीट कर यूजर्स को ऐसे मैसेज पर भरोसा नहीं करने को कहा है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि धोखाधड़ी करने वालों के निशाने पर लोगों के पेटीएम अकाउंट हैं।

पेटीएम के मुताबिक केवल आधिकारिक केवाईसी पॉइंट या पेटीएम रिप्रेजेंटेटिव द्वारा आपके घर पर ही केवाआईसी की जा सकती है।

पेटीएम की फ्रॉड रोकथाम नीति के मुताबिक, किसी को भी अपने पासवर्ड, पासकोड, एमपिन, पिन, सीवीवी या ओटीवी को किसी के साथ साझा नहीं करना चाहिए। ऐसा तब भी नहीं करना चाहिए जब कॉलर यह दावा कर रहा हो कि वह किसी संगठन या फिर पेटीएम से ही क्यों नहीं बात कर रहा है।

विश्वास न्यूज ने वायरल मैसेज में दिए गए नंबर पर कॉल किया। जिस शख्स ने फोन उठाया उसने हमें प्लेस्टोर से टीमव्यूवर (TeamViewer) इंस्टॉल कर TeamViewer का नंबर उसके साथ शेयर करने को कहा। TeamViewer एक ऐप है जो इंस्टॉल होने के बाद दूसरे लोगों को वर्चुअल तरीके से आपके डिवाइस को नियंत्रित करने की अनुमति देता है। TeamViewer ऐप दूर से स्क्रीन शेयरिंग को कंट्रोल कर सकता है और कंप्यूटर व मोबाइल डिवाइसों के बीच फाइल ट्रांसफर कर सकता है। हमने जब उस शख्स से उसकी पहचान पूछी तो उसने खुद को पेटीएम का कर्मचारी बताया। जब हमने आगे उसके अड्रेस के बारे में पूछताछ की तो उसने इस जानकारी को साझा करने से इनकार कर दिया। जब हमने उससे कहा कि पेटीएम कंपनी ने इस मैसेज को फर्जी बताया है तो उसने कॉल डिसकनेक्ट कर दी।

खुद को पेटीएम का कर्मचारी बता रहे स्कैमर और विश्वास न्यूज के बीच बातचीत का संक्षिप्त अंश:

विश्वास:  हमें एक मैसेज मिला है कि हमारी पेटीएम केवाईसी सस्पेंड हो गई है। ये क्या हो रहा है?

स्कैमर: अगर आपने केवाईसी नहीं कराया तो आपका अकाउंट फ्रीज हो जाएगा?

विश्वास: तब हमें क्या करना चाहिए?

स्कमैर: मैं आपको बताऊंगा कि केवाईसी कैसे अपडेट करनी है। आपको कुछ आसान स्टेप फॉलो करने हैं। Google Play Store में ‘Click Support’  टाइप करें और TeamViewer ऐप्लिकेशन पर क्लिक करें। TeamViewer  ऐप्लिकेशन को इंस्टॉल करें और स्क्रीन पर दिख रहे पिन को हमारे साथ शेयर करें।

विश्वास: हमें यह ऐप्लिकेशन नहीं मिल रहा (ऐसा जानबूझकर कहा गया ताकि हम ज्यादा जानकारी निकाल सकें), क्या आप अपना अड्रेस बता सकते हैं ताकि हम वहां आ सकें?

स्कैमर: हम आपको अड्रेस नहीं दे सकते।

विश्वास: पेटीएम ने बताया है कि उन्होंने ऐसा कोई मैसेज शेयर नहीं किया है और वे यूजर्स से कभी भी ऐसी जानकारी नहीं मांगते। यह मैसेज फर्जी है।

स्कैमर: ये कैसे फेक हो सकता है (फिर झल्लाते हुए फोन काट देता है)।

Truecaller में इस नंबर के लिए ये जानकारी डिस्प्ले हो रही हैं:

विश्वास न्यूज ने पेटीएम कस्टमर केयर से संपर्क किया। आयुष नाम के एक अधिकारी ने बताया, ‘पेटीएम ऐसे मैसेज नहीं भेजता या केवाईसी के लिए आपको कोई ऐप डाउनलोड करने के लिए नहीं कहता। किसी दूसरे ऐप को डाउनलोड कर केवाईसी की भी नहीं जा सकती। यह फर्जी मैसेज ऑनलाइन शेयर किया जा रहा है। हम लोगों से अनुरोध करते हैं कि वे इस तरह के किसी फर्जी मैसेज का शिकार न बनें।’

हमने इस संबंध में पेटीएम कस्टमर केयर को मेल भी किया जिसका हमें ये जवाब मिला:


निष्कर्ष: पेटीएम केवाईसी सस्पेंड होने का फेक मैसेज वायरल हो रहा है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में सामने आया है कि पेटीएम ने ऐसा कोई मैसेज नहीं भेजा है और ये धोखाधड़ी की कोशिश है।

  • Claim Review : पेटीएम केवाईसी के सस्पेंड होने का मैसेज हो रहा वायरल
  • Claimed By : Scammer
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

  • वॅाट्सऐप नंबर 9205270923
  • टेलीग्राम नंबर 9205270923
  • ईमेल contact@vishvasnews.com
जानिए वायरल खबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later