X

Fact Check: मणिकर्ण में चट्टान के गिरने का 2015 का वीडियो 2019 में किया जा रहा वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: August 22, 2019

नई दिल्ली (विश्वास टीम)- पिछले दिनों हिंदुस्तान के ज़्यादातर हिस्सों में ज़बर्दस्त बारिश हुई है। बारिश की वजह से लोगों की जान और माल का काफी नुकसान हुआ है। इसी तर्ज़ में एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में न्यूज़ क्लिप है जिसमें ब्रेकिंग न्यूज़ के तौर पर बताया गया है कि मणिकर्ण गुरुद्वारा साहिब में चट्टान के गिरने से एक बड़ा हादसा हुआ है और इसकी चपेट में आकर कुछ लोगों की जान भी चली गयी है। विश्वास न्यूज़ की पड़ताल में यह दावा भ्रामक साबित होता है। दरअसल, कुल्लू के मणिकर्ण गुरुद्वारा में चट्टान गिरने का मामला 2015 में हुआ था और जिस न्यूज़ की क्लिप लगाई गयी है वो भी 2015 में उसी वक़्त की है।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक यूजर तरसेम गिल ने 21 अगस्त को एक वीडियो शेयर किया जिसमें IndiaTv का लोगो देखा जा सकता है। टीवी की खबर ब्रेकिंग न्यूज़ के तौर पर है जिसमें बताया जा रहा है कि मणिकर्ण में चट्टान का बड़ा हिस्सा गुरद्वारे की इमारत पर गिर गया है जिसकी वजह से 10 लोगों की जान चली गयी है। वहीं, इस क्लिप में यह भी बताया गया कि राहत और बचाव का काम भी जारी है। इस वीडियो में हादसे की जगह को भी देखा जा सकता है।

इस वीडियो को अब तक 60 हज़ार से ज़्यादा लोग देख चुके है। वहीं, इस वीडियो को ढाई हज़ार से ज़यादा लोगों ने शेयर किया है।

पड़ताल

चूँकि, खबर बड़ी थी तो हमने अपनी पड़ताल की शुरुआत न्यूज़ सर्च से की। हमने manikaran gurudwara incident कीवर्ड डाल कर सर्च किया और हमारे हाथ ABP Sanjha के ऑफिशियल यूट्यूब अकाउंट पर 18 अगस्त 2015 एक वीडियो मिला यह वही वीडियो था जिसे हाल का बता कर वायरल किया जा रहा था। अब यह तो साफ हो चुका था कि यह वीडियो पुराना है जिसे हाल का बता कर वायरल किया जा रहा है।

साल 2015 में अगस्त के महीने में मणिकर्ण गुरुद्वारे में चट्टान गिरने का कोई हादसा हुआ था इस खबर को पक्का करने के लिए हमने गूगल पर टाइम टूल का इस्तेमाल किया। हमने 1 अगस्त 2015 से 31 अगस्त 2015 तक की तारीख सेट की और सर्च करना शुरू क्या। हमारे सर्च में बहुत से लिंक्स खुल कर आ गए।

इन सभी न्यूज़ लिंक में मणिकर्ण में चट्टान के गिरने की खबर थी और वही वीडियो था जिसे हाल का बता कर वायरल किया जा रहा है। इस सर्च में हमारे हाथ इंडिया टीवी के वेरिफाइड यूट्यूब अकाउंट से 18 अगस्त 2015 को शेयर किया हुआ वही वीडियो लगा जिसे अब वायरल किया जा रह है।

हमने दोबारा न्यूज़ सर्च किया और हमारे हाथ 19 अगस्त 2015 को दैनिक जागरण के वेब एडिशन में छपी खबर लगी। खबर में इसी इमारत की तस्वीर को देखा जा सकता है जो वायरल वायरल वीडियो में है। खबर की सुर्खी थी, ”मणिकर्ण गुरुद्वारे में चट्टानें गिरी, सात की मौत”, खबर के मुताबिक़, कुल्लू के ऐतिहासिक गुरुद्वारे में चट्टानें गिर गयी हैं। आप खबर को दिए गए लिंक में पढ़ सकते है।

अपनी खबर की तस्दीक़ के लिए विश्वास टीम ने मणिकर्ण गुरुद्वारे के मुख्य सेवादार से बात की और उन्होंने हमें बताया कि ये 4 साल पुरानी वीडियो है जिसे फिर से वायरल किया जा रहा है। उन्होंने साथ में यह भी बताया कि पिछले तीन-चार दिन से इस वीडियो की हक़ीक़त जानने लिए लोग उन्हें दिनभर फ़ोन कर रहे हैं और वह सबको बता रहे हैं की यह पुरानी वीडियो है।हाल -फिलहाल में यहाँ ऐसा कोई हादसा पेश नहीं आया है।

अब बारी इस वीडियो को वायरल करने वाले फेसबुक यूजर Tarsem Gill की सोशल स्कैनिंग करने की। हमने पाया कि इस प्रोफाइल से एक ख़ास समुदाय के वीडियो शेयर किये जाते हैं।

निष्कर्ष: विश्वास टीम ने पाया की मणिकर्ण गुरुद्वारा में चट्टान गिरने का मामला 2015 है। अभी हाल में वहां ऐसा कोई हादसा नहीं हुआ है, वायरल किया जा रहा वीडियो भ्रामक है।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

  • Claim Review : मणिकरण में चट्टान का बड़ा हिस्सा गुरद्वारे की इमारत पर गिर गया है
  • Claimed By : FB User- Tarsem Gill
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ
जानिए वायरल खबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later