X

Fact Check: चीन के फाइटर जेट की मॉर्फ्ड तस्वीर वायरल, इजरायली हमले और भारतीय नर्स सौम्या से कोई संबंध नहीं

  • By Vishvas News
  • Updated: May 19, 2021

विश्वास न्यूज (नई दिल्ली)। इजरायल और फलस्तीन के बीच चल रहीं हिंसक झड़प के बीच इससे जुड़े ढेरों दावे सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। दोनों देशों की इस हालिया झड़प में केरल की एक महिला सौम्या संतोष की भी मौत हुई है। इस बीच सोशल मीडिया पर फाइटर जेट की एक तस्वीर शेयर की जा रही है, जिसपर अंग्रेजी में सौम्या (Soumya) लिखा है। सोशल मीडिया यूजर्स दावा कर रहे हैं कि इजरायल ने अपने फाइटर प्लेन पर सौम्या का नाम लिखकर उससे फलस्तीन के आर्मी चीफ के घर पर बम गिरा अपनी श्रद्धांजलि दी है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में ये दावा झूठा निकला है। चीन के फाइटर जेट की तस्वीर को मॉर्फ्ड कर अलग से सौम्या नाम लिखा गया है। इसका इजरायल और भारतीय नर्स की हालिया मौत से कोई लेना-देना नहीं है।

क्या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर Satendra Kharak ने 17 मई 2021 को वायरल तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा है, ‘इजराइल ने अपनी फाइटर प्लेन पर #भारतीय बेटी का नाम #सौम्या को नमन लिखकर उससे #फिलिस्तीन आर्मी चीफ के घर पर बम गिरा दिया..सच्ची श्रद्धांजलि।’

इस पोस्ट के आर्काइव्ड वर्जन को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

पड़ताल

आपको बता दें कि इजरायल और फलस्तीन के बीच चल रहे हिंसक संघर्ष की चपेट में आकर पिछले दिनों एक भारतीय महिला सौम्या संतोष की मौत हो गई। केरल की रहने वाली सौम्या इजरायल के अश्केलोन शहर में राकेट हमले का शिकार हो गईं। सोशल मीडिया पर यूजर्स कथित तौर पर सौम्या का नाम लिखे फाइटर जेट की तस्वीर के साथ दावा कर रहे हैं कि इजरायल ने फलस्तीन के आर्मी चीफ के घर पर बम गिरा सौम्या को श्रद्धांजलि दी है।

विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल के क्रम में सबसे पहले वायरल तस्वीर पर गूगल रिवर्स इमेज सर्च टूल का इस्तेमाल किया। हमें यह तस्वीर Quora स्पेस Armchair Generals पर मिली। इसके एक कॉन्ट्रिब्यूटर Lin Xieyi ने 2 अप्रैल 2020 को J-10C updates के साथ फाइटर जेट की कई तस्वीरें शेयर की हैं। इनमें पहली तस्वीर वायरल तस्वीर है। हालांकि, इसपर Soumya नहीं लिखा है, बाकी सबकुछ एक जैसा ही है। इसे यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

मल्टीपल गूगल रिवर्स इमेज सर्च के बाद हमें यह तस्वीर daydaynews.cc वेबसाइट पर 2 अप्रैल 2020 को प्रकाशित एक रिपोर्ट में मिली। इस रिपोर्ट में वायरल तस्वीर को चीन का फाइटर जेट J-10C बताया गया है। इस रिपोर्ट में भी वायरल तस्वीर पर सिर्फ Soumya नहीं लिखा है, बाकी दोनों तस्वीरें एक ही हैं। इस रिपोर्ट को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

विश्वास न्यूज को इंटरनेट पर ओपन सर्च टूल का इस्तेमाल करते हुए की गई खोजबीन में ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं मिली, जो फाइटर जेट पर भारतीय महिला सौम्या का नाम लिख किए गए इजरायली हमले की पुष्टि करती हो। हमें मीडिया रिपोर्ट्स में यह जानकारी जरूर मिली कि इजरायल और फलस्तीन के बीच चल रहे संघर्ष के दौरान पिछले दिनों इजरायल ने हमास की टॉप लीडरशिप के घरों पर निशाना जरूर साधा है। विश्वास न्यूज की अबतक की पड़ताल से ये साफ हो चुका था कि सोशल मीडिया यूर्जस जिस तस्वीर को शेयर कर रहे हैं वह इजरायली नहीं, बल्कि चाइनीज फाइटर जेट J-10C है और एडिटिंग टूल्स की मदद से Soumya नाम बाद में जोड़ा गया है। इस तस्वीर को world-defense.com पर मौजूद फोरम में यहां और चाइनीज वेबसाइट gushiciku.cn पर मौजूद रिपोर्ट में भी यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

विश्वास न्यूज ने इस वायरल तस्वीर को एविएशन और डिफेंस मामलों को कवर करने वाली मैग्जीन ‘वायु एयरोस्पेस एंड डिफेंस रिव्यू’ के मैनेजिंग एडिटर विक्रमजीत संग शेयर किया। उन्होंने भी पुष्टि करते हुए बताया कि यह चाइनीज फाइटर जेट J-10C की तस्वीर है और इसे इजरायली बताने का दावा पूरी तरह गलत है। विश्वास न्यूज ने इस वायरल तस्वीर को शेयर करने वाले फेसबुक यूजर Satendra Kharak की प्रोफाइल को स्कैन किया। यूजर पुणे के रहने वाले हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की पड़ताल में फाइटर जेट की वायरल तस्वीर संग किया जा रहा दावा झूठा निकला है। चीन के फाइटर जेट की तस्वीर को मॉर्फ्ड कर अलग से सौम्या नाम लिखा गया है। इसका इजरायल-फलस्तीन के बीच चल रही जंग और भारतीय नर्स की हालिया मौत से कोई लेना-देना नहीं है।

  • Claim Review : इजरायल ने अपने फाइटर प्लेन पर सौम्या का नाम लिखकर उससे फलस्तीन के आर्मी चीफ के घर पर बम गिरा अपनी श्रद्धांजलि दी है।
  • Claimed By : फेसबुक यूजर Satendra Kharak
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later