X

Fact Check: नमक के साथ प्याज खाने से 15 मिनट में कोरोना संक्रमण ठीक होने का दावा झूठा

  • By Vishvas News
  • Updated: April 21, 2021

विश्वास न्यूज (नई दिल्ली)। भारत में बढ़ते कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच इससे जुड़ी फर्जी और भ्रामक सूचनाएं भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। ऐसी ही एक पोस्ट सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि नमक के साथ प्याज खाने से 15 मिनट के अंदर कोरोना संक्रमित पॉजिटिव से नेगेटिव हो जाएंगे। विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल दावा झूठा निकला है।

क्या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर हकिम पुजारा ने एक पोस्ट शेयर की है, जिसमें लिखा है- ‘सेंधा नमक के साथ कच्ची प्याज (लाल डार्क वाली) छीलकर खाने से 15 मिनिट बाद लोग पॉजिटिव से निगेटिव हो रहे हैं ये एकदम सत्य है आप खुद करके देखे… कोरोना हो या ना हो कच्ची प्याज सेंधा नमक लगा कर रोज खाते रहें वायरस गले में ही मर जायेगा… आपको लाभ हो तो सबको शेयर जरूर करें।’

इस पोस्ट के आर्काइव्ड वर्जन को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने इस दावे की पड़ताल के लिए परिवार एवं स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय और विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की आधिकारिक वेबसाइट को खंगाला। हमने प्याज और नमक से जुड़े असर के बारे में जानना चाहा, लेकिन हमें इनसे जुड़ी कोई जानकारी नहीं मिली।

विश्वास न्यूज ने इस संबंध में इस संबंध में इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल के पल्मोनोलॉजिस्ट डॉक्टर निखिल मोदी से संपर्क किया। उन्होंने इस दावे को पूरी तरह से खारिज कर दिया।

अमेरिका के नेशनल ओनियन एसोसिएशन के मुताबिक, इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि कटा हुआ कच्चा प्याज कीटाणुओं या विषाक्तता को खत्म करता है। 1500 शताब्दी के समय में यह माना जाता रहा कि कमरे में कटा हुआ प्याज रखने से बुबोनिक प्लेग से बचा जा सकता है। कीटाणुओं के खोज से पहले यह माना जाता रहा था कि संक्रामक रोग छुआछूत या विषैली हवा से फैलते हैं। झूठ होते हुए भी यह मान्यता लोक चिकित्सा का हिस्सा रही और चेचक, इन्फ्लूएंजा और अन्य संक्रामक बीमारियों को दूर करने का दावा करती रही। ओनियन एसोसिएशन की इस जानकारी को यहां देखा जा सकता है।

स्वास्थ्य से जुड़ी सूचनाओं के प्रामाणीकरण को समर्पित प्रयास health-desk.org के मुताबिक, लहसुन और प्याज एक ही परिवार के सदस्य हैं। लहसुन की तरह प्याज को भी रोगाणुरोधी और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुणों के लिए जाना जाता है। हालांकि, इसको लेकर अध्ययन काफी सीमित हैं। अबतक ऐसी कोई स्टडी सामने नहीं आई है, जो कोविड-19 के इलाज के रूप में प्याज का मूल्यांकन करे। इसके अलावा ऐसा कोई वैज्ञानिक सबूत भी नहीं है, जो यह पुष्टि करे कि प्याज कोविड-19 के संक्रमण को ठीक कर सकता है या इससे बचा सकता है।

कोरोना से बचाव का सबसे असरदार तरीका अपने हाथों की सफाई, मास्क पहना, स्वच्छता को अपना और सोशल डिस्टेंसिंग यानी सामाजिक दूरी का पालन करना है।

कोविड-19 के काफी संक्रामक दौर में भारत ने जनवरी 2021 में व्यापक पैमाने पर वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू की है। सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन (CDSCO) ने आपातकालीन इस्तेमाल के लिए भारत में दो वैक्सीन Covishield® (भारत के सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा बनाई जा रही एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन) और Covaxin® (भारत बायोटेक द्वारा निर्मित) को मंजूरी दी है।

विश्वास न्यूज ने इस पोस्ट को शेयर करने वाले फेसबुक यूजर हकीम पुजारा की प्रोफाइल को स्कैन किया। इस प्रोफाइल के 1300 से अधिक फॉलोअर्स थे।

निष्कर्ष: प्याज और नमक के सेवन से 15 मिनट में कोरोना वायरस के संक्रमण के ठीक हो जाने का दावा झूठा है।

  • Claim Review : नमक के साथ प्याज खाने से 15 मिनट के अंदर कोरोना संक्रमित पॉजिटिव से नेगेटिव हो जाएंगे।
  • Claimed By : फेसबुक यूजर हकीम पुजारा
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later