X

Fact Check: राहुल गांधी ने नहीं की हिंदुओं को देश से बाहर निकालने की बात, वायरल वीडियो एडिटेड

देश से हिंदुओं को बाहर निकाले जाने के दावे के साथ राहुल गांधी के नाम से वायरल हो रहा बयान भ्रामक है और इस दावे के साथ वायरल हो रहा क्लिप एडिटेड है, जिसे मूल भाषण से अलग कर सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। राहुल गांधी ने जयपुर की कांग्रेस की 'महंगाई हटाओ' रैली में 'हिंदुत्ववादियों' को सत्ता से हटाकर 'हिंदुओं' का शासन लाए जाने की बात की थी।

  • By Vishvas News
  • Updated: October 3, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। ‘भारत जोड़ो’ यात्रा के बीच सोशल मीडिया पर राहुल गांधी के भाषण का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसे लेकर दावा किया जा रहा है कि उन्होंने भारत से हिंदुओं को बाहर निकालने की धमकी दी है।

विश्वास न्यूज ने अपनी जांच में पाया कि वायरल हो रहा दावा फेक और राहुल गांधी के खिलाफ किया जा रहा दुष्प्रचार है। वायरल वीडियो क्लिप उनके पुराने भाषण का एक अंश है, जिसे संदर्भ से अलग कर साझा किया जा रहा है। जयपुर में आयोजित कांग्रेस की ‘महंगाई हटाओ’ रैली में उन्होंने केंद्र और नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए देश से ‘हिंदुत्ववादियों’ को बाहर निकालने की अपील के साथ ‘हिंदुओं’ का शासन लाए जाने की अपील की थी।

क्या है वायरल?

सोशल मीडिया यूजर ‘Golu Singh Rajput’ ने वायरल वीडियो (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”सुनलो भारत के हिंदुओ, राहुल गाँधी एक बार फिर तुम्हे बाहर निकालने की चेतावनी दे रहा है।”

सोशल मीडिया पर फेक दावे के साथ वायरल राहुल गांधी के वीडियो का स्क्रीनशॉट

कई अन्य यूजर्स ने इस वीडियो क्लिप को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

वायरल वीडियो करीब 10 सेकेंड का वीडियो क्लिप है और यह फेक न्यूज को फैलाने का एक स्थापित पैटर्न है, जिसके तहत किसी व्यक्ति के खिलाफ दुष्प्रचार किया जाता है, जिसमें किसी भाषण के एक अंश को बीच से निकालकर उसके क्लिप को गलत या भ्रामक दावे के साथ शेयर कर दिया जाता है, जबकि मूल भाषण में उस बात का संदर्भ अलग और स्पष्ट होता है।

वायरल वीडियो में राहुल गांधी को यह कहते हुए सुना जा सकता है, ”…..और हमें एक बार फिर इन हिंदू…हिंदुत्ववादियों को बाहर निकालना है।” इन की-वर्ड्स से न्यूज सर्च करने पर हमें कई संबंधित न्यूज रिपोर्ट्स मिली।

टाइम्स ऑफ इंडिया की वेबसाइट पर 13 दिसंबर 2021 को (Oust Hindutvawadis, bring rule of Hindus, says Rahul Gandhi) हेडलाइन से लिखी गई रिपोर्ट के मुताबिक, राजस्थान के जयपुर की एक रैली में राहुल गांधी ने बीजेपी और केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए ‘हिंदुत्ववादियों’ को सत्ता से हटाए जाने की अपील करते हुए ‘हिंदुओं का शासन’ लाए जाने की अपील की।

टाइम्स ऑफ इंडिया की वेबसाइट पर 13 दिसंबर 2021 की रिपोर्ट

कई अन्य रिपोर्ट्स से भी इसकी पुष्टि होती है कि राहुल ने हिंदू नहीं, बल्कि हिंदुत्ववादियों को बाहर निकाले जाने की बात की। उन्होंने इसे स्पष्ट करते हुए बताया कि हिंदू वह है, जो सबसे गले लगता है और सभी धर्मों का आदर करता है, जबकि हिंदुत्ववादी वे हैं, जिन्हें हर हाल में सत्ता चाहिए और वे देश की अधिकांश समस्याओं के लिए जिम्मेदार है।

सोशल मीडिया सर्च में यह पूरा भाषण राहुल गांधी के वेरिफाइड यू-ट्यूब चैनल पर मिला, जिसे हैशटैग #हिन्दूहूँहिंदुत्ववादी_नहीं के साथ 12 दिसंबर 2021 को अपलोड किया गया है।

दी गई जानकारी के मुताबिक, राहुल गांधी का यह भाषण 12 दिसंबर 2021 को लाइव स्ट्रीम किया गया था, जब उन्होंने जयपुर में आयोजित महंगाई हटाओ रैली को संबोधित करते हुए केंद्र सरकार और बीजेपी पर निशाना साधा था।

30 मिनट 16 सेकेंड के फ्रेम में राहुल गांधी को 10.04 मिनट पर यह कहते हुए सुना जा सकता है, ”….हिंदुत्ववादी को उसका डर डुबा देता है और इस डर से उसके दिल में नफरत पैदा होती है। डर से नफरत पैदा होती है, गुस्सा आता है, क्रोध आता है…वहीं हिंदू डर का सामना करता है..उसके दिल में शांति पैदा होती है, उसके दिल में प्यार पैदा होता है, उसके दिल में शक्ति पैदा होती है। भाईयों और बहनों ये हिंदुत्ववादी और हिंदुओं के बीच में फर्क है। मैंने आपको ये भाषण क्यों दिया…क्योंकि आप लोग हिंदू हो, हिंदुत्ववादी नहीं और ये देश हिंदुओं का देश है, हिंदुत्ववादियों का नहीं। और आज अगर इस देश में महंगाई है, दर्द है, दुख है तो ये काम हिंदुत्ववादियों ने किया है। हिंदुत्ववादियों को किसी भी हालत में सत्ता चाहिए…जैसे महात्मा गांधी ने कहा कि मैं सच्चाई चाहता हूं, सच्चाई ढूंढता हूं, मुझे सत्ता नहीं चाहिए…वैसे ही यह कहते हैं मुझे सत्ता चाहिए। सच्चाई से कोई लेना-देना नहीं। सच्चाई जाए भाड़ में, मुझे कुर्सी मिल जाए बस।”

राहुल गांधी अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहते हैं, ‘….और 2014 से इन लोगों का राज है। हिंदुत्वादियों का राज है, हिंदुओं का नहीं। सही है न……हिंदुत्ववादियों का राज है, हिंदुओं का नहीं और हमें एक बार फिर इन हिंदुत्ववादियों को बाहर निकालना है और एक बार फिर हिंदुओं का राज लाना है।’

स्पष्ट है कि राहुल गांधी ने हिंदुओं को देश से बाहर निकालने की बात नहीं की थी, बल्कि उन्होंने हिंदुत्ववादियों को बाहर निकालते हुए देश में हिंदुओं का शासन लाने की अपील की थी। न्यूज एजेंसी ANI ने भी अपने ट्विटर हैंडल से राहुल गांधी के इस भाषण के शेयर किया है।

हमने वायरल वीडियो क्लिप को यूपी कांग्रेस के प्रवक्ता अभिमन्यु त्यागी से संपर्क किया। उन्होंने कहा, ‘राहुल गांधी और कांग्रेस का जो विचार हिंदुत्ववादियों को लेकर व्यक्त किया है, वही विचार विवेकानंद और टैगोर का भी था। राहुल गांधी ने साफ-साफ हिंदुत्ववादियों को बाहर निकालने की बात की थी न कि हिंदुओं को।’

गौरतलब है कि पिछले कई हफ्तों से राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो’ यात्रा जारी है और इस दौरान सोशल मीडिया पर ऐसी कई तस्वीरें और वीडियो को इस यात्रा से जोड़कर भ्रम फैलाने की कोशिश की गई, जिसकी फैक्ट चेक रिपोर्ट्स को यहां क्लिप कर पढ़ा जा सकता है।

निष्कर्ष: देश से हिंदुओं को बाहर निकाले जाने के दावे के साथ राहुल गांधी के नाम से वायरल हो रहा बयान भ्रामक है और इस दावे के साथ वायरल हो रहा क्लिप एडिटेड है, जिसे मूल भाषण से अलग कर सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। राहुल गांधी ने जयपुर की कांग्रेस की ‘महंगाई हटाओ’ रैली में हिंदुत्ववादियों को सत्ता से हटाकर हिंदुओं का शासन लाए जाने की बात की थी।

  • Claim Review : राहुल गांधी ने की देश से हिंदुओं को निकालने की बात
  • Claimed By : FB User- Golu Singh Rajput
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later