Fact Check : न्‍यूज चैनल के नाम पर Viral हो रहा है फर्जी ट्वीट

नई दिल्‍ली (विश्‍वास टीम)। सोशल मीडिया में रिपब्लिक टीवी का एक फर्जी स्‍क्रीनशॉट वायरल हो रहा है। इसके ऊपर लिखा हुआ है कि सिख रेजिमेंट ने भारत के लिए लड़ने से किया इनकार। विश्‍वास टीम की पड़ताल में पता चला कि यह पोस्‍ट फर्जी है। रिपब्लिक टीवी की स्‍क्रीन से छेड़छाड़ करके यह झूठ फैलाया गया है। इसे लेकर रिपब्लिक टीवी और भारतीय सेना ने भी सफाई दी है।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में?

सबसे पहले बात करते हैं कि उस ट्वीट की, जो काफी तेजी से वायरल हो रहा है। गुरमीत कौर (@Gurmeetkaur2020) ने अपने ट्विटर हैंडल पर रिपब्लिक टीवी का फर्जी स्‍क्रीनशॉट अपलोड करते हुए दावा किया था कि सिख रेजिमेंट ने भारत के लिए लड़ने से इनकार कर दिया है। देखते-देखते यह ट्वीट फेसबुक और ट्विटर में फैल गया।

पड़ताल

विश्‍वास टीम ने सबसे पहले वायरल हो रहे ट्वीट के एक-एक प्‍वाइंट को ध्‍यान से देखा। पढ़ा। ट्वीट के मुताबिक, इसके ऊपर दाएं तरफ शाम 4:49 बजे का जिक्र है।

InVID के ट्वीट सर्च ऑप्‍शन पर जाकर हमने Fake की वर्ड के बाद @republic टाइप करके सर्च किया तो हमें रिपब्लिक टीवी एक ट्वीट मिला। इसमें अर्नब गोस्‍वामी का बयान था। इसमें लिखा हुआ है : Thank you @adgpi for your tweet. Republic TV has always stood by the Indian Army & always will.The attempt to spread fake news has failed. Vile Pakistani propaganda has been rejected by the people of India. The Nation stands as one with the Indian Army: Arnab Goswami #NationFirst

रिपब्लिक टीवी का ट्वीट

इसके साथ इंडियन आर्मी के पब्लिक इन्फॉर्मेशन के एडीजी (@adgpi) का एक ट्वीट है। इसमें उन्‍होंने गुरमीत कौर के ट्वीट को शेयर करते हुए लिखा कि भारतीय सेना के खिलाफ ऐसा प्रोपागंडा फैलाने के लिए यह झूठी खबर फैलाई जा रही है। भारतीय सेना की ओर से इसके बारे में हिंदी और अंग्रेजी दोनों में ट्वीट करके बताया गया है।

भारतीय सेना का ट्वीट

अब हमें यह जानना था कि जिस गुरमीत कौर का ट्वीट वायरल हो रहा है, वह कौन है। इसके लिए हमने फिर से वायरल हो रहे ट्वीट को ध्‍यान से देखा। गुरमीत कौर का ट्विटर हैंडल @Gurmeetkaur2020 मिला। इसके बाद InVID में इस ट्विटर हैंडल को टाइप करके सर्च किया तो हमें कई ऐसे ट्वीट मिले, जिसमें गुरमीत कौर को टैग किया गया था। लेकिन जब हमने इसपर क्लिक किया गया तो पता लगा कि अब ऐसा कोई हैंडल मौजूद नहीं है। यानि इस अकाउंट को रिमूव कर दिया गया है।

फर्जी खबर फैलाने वाली गुरमीत कौर का ट्विटर हैंडल अब मौजूद नहीं है

InVID से हमें वायरल हो रही पोस्‍ट से जुड़े तीन ऐसे और ट्वीट मिले, जो हमें सच्‍चाई के करीब ले गए। ये ट्वीट रिटायर्ड मेजर गौरव आर्य ने किया। फिलहाल आर्य रिपब्लिक टीवी से जुड़े हुए हैं। गौरव ने लिखा कि ‘इस फर्जी अभियान की शुरुआत पाक टीवी ने की थी। लेकिन अफसोस कि कुछ भारतीयों ने तथ्यों की जांच किए बिना आंख बंद करके ट्वीट करना शुरू कर दिया।’ रिटायर्ड मेजर गौरव आर्य के तीनों ट्वीट आप नीचे पढ़ सकते हैं।

हमें पाकिस्‍तानी न्‍यूज चैनल ‘अबतक’ के यूट्यूब चैनल पर एक खबर मिली। 5 मार्च 2019 को अपलोड की गई इस खबर को अब तक 13 हजार से ज्‍यादा लोग देख चुके हैं।

पाकिस्‍तानी न्‍यूज चैनल ने फर्जी ट्वीट के आधार पर फैलाई फेक खबर

जब हमने ‘अबतक’ चैनल के बारे में सर्च किया तो हमें विकीपिडिया से पता चला कि यह पाकिस्‍तान का एक ऊर्दू चैनल है। इसका मुख्‍यालय कराची में हैं। इस चैनल को चलाने वाली कंपनी का नाम अपना टीवी ग्रुप है। यह चैनल 19 अप्रैल 2013 को लॉन्‍च हुआ था।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास टीम की जांच में पता चला कि सिख रेजिमेंट के नाम पर वायरल हो रही पोस्‍ट फर्जी है। रिपब्लिक टीवी ने ऐसी कोई खबर प्रसारित नहीं की थी।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

  • Claim Review : सिख रेजिमेंट ने भारत के लिए लड़ने से किया इनकार
  • Claimed By : Gurmeet kaur
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later