X

Fact Check: ओडिशा के पुराने वीडियो को कोलकाता का बताकर फैलाया जा रहा है भ्रम

  • By Vishvas News
  • Updated: May 5, 2021

नई दिल्ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रही है, जिसमें भीड़ को एक पुलिस की गाड़ी पर हमला करते देखा जा सकता है। पोस्ट के साथ दावा किया जा रहा है कि यह कोलकाता का वीडियो है, जहां चुनाव के नतीजे आने के बाद ये हाल है। विश्वास न्यूज़ की पड़ताल में दावा गलत निकला।

असल में यह वीडियो ओडिशा का है। वीडियो भद्रक जिले के तिहड़ी ब्लॉक का है जहाँ एक व्यक्ति की मौत के बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस जीप पर हमला कर दिया था। हालांकि, यह बात सही है कि 2 मई को विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित होने के तुरंत बाद पश्चिम बंगाल में हिंसा भड़क गई थी, जिसमें जानमाल के नुकसान की कई खबरें आयीं थीं ।

क्या है वायरल पोस्ट में?

वायरल वीडियो में भीड़ को एक पुलिस की गाड़ी पर हमला करते देखा जा सकता है। पोस्ट के साथ दावा किया जा रहा है, “BengalViolence #PresidentRuleInBengal Policeman came to control the situation & then TMC goons attacks on Police.#tmcgoons #BengalViolence #नींदसेजागोअमितशाह_जी”

इस पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

जांच के लिए हमने इस वीडियो के InVID टूल की मदद से कीफ्रेम्स निकाले और फिर इन कीफ्रेम्स को गूगल रिवर्स इमेज पर ढूंढा। हमें ओडिया टीवी चैनल कलिंगा टीवी के यूट्यूब चैनल पर एक खबर में यह क्लिप्स मिले। 13 जनवरी को पब्लिश्ड खबर के अनुसार, “कथित तौर पर पुलिस द्वारा पिटाई से युवक की मौत के बाद भद्रक के स्थानीय लोगों ने पुलिस वैन को खदेड़ दिया।”

हमें यह क्लिप्स कनक न्यूज़ के यूट्यूब चैनल पर अपलोडेड एक वीडियो में भी मिला। 13 जनवरी 2021 को अपलोडेड इस वीडियो की खबर के अनुसार, यह घटना भद्रक की ही थी।

odishatv.in की खबर के अनुसार, “युवक की कथित आत्महत्या से नाराज, भद्रक जिले के एक गांव के निवासियों ने बुधवार को एक पुलिस वैन में आग लगा दी। तिहाड़ी पुलिस सीमा के तहत हटुरी गाँव के बापी महलिकनाम के युवक की मौत से गाँव में बड़े पैमाने पर अशांति फैल गई। उसका शव पास के एक तालाब से बरामद किया गया था।”

इस विषय में पुष्टि के लिए हमने दैनिक जागरण के कोलकाता ब्यूरो चीफ जे के वाजपेयी से संपर्क साधा। उन्होंने कहा, “यह वीडियो बंगाल का नहीं,ओडिशा का है। हालांकि, बंगाल में भी ऐसी कई घटनाएं सामने आयीं हैं।”

पुष्टि के लिए हमने ओडिशा के जाने माने टीवी चैनल कनक टीवी के वेब डिवीज़न के डिप्टी एडिटर प्रदीप कुमार रथ से भी संपर्क साधा। हमने फ़ोन पर बात करते हुए उन्होंने कहा “यह वीडियो ओडिशा के भद्रक का है। एक व्यक्ति की मौत से गुस्साई भीड़ ने पुलिस जीप पर हमला किया था और उसमें आग लगा दी थी।”

इंग्लिश जागरण की 4 मई को प्रकाशित खबर के अनुसार, “पश्चिम बंगाल में हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में तृणमूल कांग्रेस की असाधारण जीत के बाद, राज्य के कई हिस्सों में हिंसा भड़क उठी, जिससे 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोग घायल हो गए।” ज़्यादा जानकारी के लिए ये खबरें पढ़ें।

अब बारी थी इस पोस्ट को साझा करने वाले ट्विटर यूजर ANIL PATIDAR @anilhindu116 के प्रोफाइल को स्कैन करने की। प्रोफाइल को स्कैन करने पर हमने पाया कि यूजर राजस्थान का रहने वाला है।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ की पड़ताल में दावा गलत निकला। असल में यह वीडियो ओडिशा का है। वीडियो भद्रक जिले के तिहड़ी ब्लॉक का है, जहाँ एक व्यक्ति की मौत के बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस जीप पर हमला कर दिया था। हालांकि, यह बात सही है कि 2 मई को विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित होने के तुरंत बाद पश्चिम बंगाल में हिंसा भड़क गई थी, जिसमें जानमाल के नुकसान की कई खबरें आयीं थीं।

  • Claim Review : Even Police has been targeted by Jihadi TMC goons.
  • Claimed By : Khullamkhulla
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later