X

Fact Check: कटा सिर लेकर थाने पहुंचे युवक की तस्वीर को भ्रामक दावे के साथ किया जा रहा है वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: September 14, 2020


नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें एक युवक के हाथ में कटे सिर को देखा जा सकता है। पोस्ट के साथ दावा किया जा रहा है कि पीड़ित ने आरोपी की बहन का रेप किया था, जिसके बाद लड़की के भाई ने बलात्कारी का सिर काट दिया। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा भ्रामक निकला। आरोपी की बहन के साथ रेप नहीं हुआ था। पीड़ित ने आरोपी की मां को अपशब्द कहे थे और कुछ साल पहले उसकी मां से छेड़छाड़ भी की थी, जिसका बदला लेने के लिए महिला के बेटे ने 2018 में उसका गला काट दिया था। तस्वीर को भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक पर शेयर की गयी तस्वीरों में एक व्यक्ति के हाथ में एक कटा हुआ सर देखा जा सकता है। तस्वीरों के साथ लिखा हुआ है, “This guy from India whose sister was raped and he chopped off the rapist’s head and brought it to the police station. May be we need more men like him.” जिसका हिंदी अनुवाद होता है “भारत में एक लड़की के साथ रेप हुआ तो लङकी का भाई बलात्कारी का सिर काट कर थाने ले गया।’’

पोस्ट का आर्काइव लिंक यहां देखें।

पड़ताल

पोस्ट की पड़ताल करने के लिए हमने गूगल रिवर्स इमेज की मदद से इन तस्वीरों को सर्च किया। हमें पता चला कि यह घटना 29 सितंबर 2018 में कर्नाटक के मंडया जिले में घटी है। thenewsminute.com पर 29 सितंबर 2018 को प्रकाशित एक खबर में हमें यह तस्वीर मिली। न्यूज रिपोर्ट् के मुताबिक, मंडया जिले में रहने वाले पशुपति नाम के व्यक्ति ने अपने दोस्त गिरीश की हत्या कर उसका सिर धड़ से अलग कर दिया था। इसके बाद वह कटे हुए सिर को लेकर मलावली सर्किल इंस्पेक्टर के दफ्तर पहुंचा था। आरोपी के मुताबिक, गिरीश ने उसकी मां को अपशब्द कहे थे।

हमें यह खबर news18.com पर भी 30 सितंबर को प्रकाशित मिली। इस खबर के अनुसार, पीड़ित ने आरोपी की मां को अपशब्द कहे थे, जिसके बाद यह घटना हुई।

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया में 30 सितंबर 2018 को पब्लिश्ड खबर के अनुसार, आरोपी के खिलाफ बेलाकावडी पुलिस स्टेशन में हत्या का मामला दर्ज किया गया था। खबर के मुताबिक, आरोपी और पीड़ित दोनों बचपन के दोस्त थे। पुलिस के मुताबिक, ‘तीन साल पहले गिरीश ने कथित रूप से पशुपति की मां के साथ दुर्व्यवहार करने की कोशिश की। इसके बाद दोनों के बीच लड़ाई हुई और लोगों को बीच-बचाव करना पड़ा था।’

इस विषय में ज़्यादा पुष्टि के लिए हमने मांड्या सब डिवीज़न के डीएसपी एल नवीन से बात की। उन्होंने कहा “यह घटना 2018 की है। आरोपी और पीड़ित दोनों बचपन के दोस्त थे। दोनों की कुछ समय से बातचीत बंद थी। दोनों की घटना के दिन किसी बात पर बहस हुई, जिसके बाद पशुपति ने गिरीश का गला काट दिया था। आरोपी की बहन के साथ कोई रेप नहीं हुआ था। हां, स्टेटमेंट के अनुसार बहस के दौरान गिरीश ने पशुपति की मां के लिए अपशब्द ज़रूर कहे थे और कुछ साल पहले उसकी मां से छेड़छाड़ भी की थी। केस अभी चल रहा है।”

इस पोस्ट को फेसबुक पर हाल में Vikash Kr नाम के एक फेसबुक यूजर ने शेयर किया था। यूजर अयोध्या का रहने वाला है।

इस घटना से जुड़ा वीडियो भी कुछ समय पहले इस दावे के साथ वायरल हुआ था कि यह घटना चेन्नई की है। विश्वास न्यूज़ ने उस समय भी पड़ताल की थी और पाया था कि वीडियो कर्नाटक का है। पूरी पड़ताल यहां पढ़ें।

Instagram video:

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल हो रहा दावा भ्रामक निकला। संबंधित तस्वीर कर्नाटक के मंड्या जिले में 2018 में हुई घटना की हैं। पीड़ित ने आरोपी की मां को अपशब्द कहे थे और कुछ साल पहले उसकी मां से छेड़छाड़ भी की थी, जिसका बदला लेने के लिए महिला के बेटे ने 2018 में उसका गला काट दिया था।। तस्वीरों को भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

  • Claim Review : This guy from India whose sister was raped and he chopped off the rapist's head and brought it to the police station. May be we need more men like him
  • Claimed By : Vikash Kr
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later