X

Fact Check: वायरल तस्वीर में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के साथ दिख रहा बच्चा फ्लॉयड की बेटी नहीं है, फर्जी दावा वायरल

Vishvas News की पड़ताल में पता चला कि वायरल दावा भ्रामक है। तस्वीर लेने वाले फ़ोटोग्राफ़र ने स्पष्ट किया है कि फ़ोटो में दिख रहा बच्चा फ्लॉयड की बेटी नहीं है।

  • By Vishvas News
  • Updated: December 2, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज़)। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है, जिसमें उन्हें एक बच्चे के सामने एक घुटने पर बैठे हुए देखा जा सकता है। पोस्ट को इस दावे के साथ वायरल किया जा रहा है कि वह अमेरिका में पुलिस हिरासत में मारे गए अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की बेटी से माफी मांग रहे हैं। विश्वास न्यूज़ की पड़ताल में सामने आया कि वायरल दावा भ्रामक है। फोटो में दिख रहा बच्चा फ्लॉयड की बेटी नहीं है।

क्या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर ‎’हिमांशी सिहं’ ने वायरल तस्वीर को पोस्ट करते हुए लिखा, “अमेरिका विश्व गुरु क्यों हैं? नव निर्वाचित अमेरिकी राष्ट्रपति ‘जोय बाइडेन’ सार्वजनिक रुप से घुटनों पर आकर उस बेटी से माफ़ी मांगते हुए, जिसके बाप को पुलिस ने सिर्फ काले होने पर मार दिया था। क्या हमारे यहाँ मोदीराज में इस दृश्य की कल्पना भी की जा सकती है..! जिस दिन मोदीजी किसानों से लखीमपुर या दिल्ली बॉर्डर पर ऐसे माफी मांग लेंगे देश प्रगति की राह में बढ़ जाएगा। जय जवान जय किसान!”

इस पोस्ट का आर्काइव लिंक यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

आपको बता दें कि अफ्रीकी-अमेरिकी व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की 25 मई 2020 को पुलिस हिरासत में हुई मृत्यु के बाद पूरे अमेरिका में विरोध प्रदर्शन देखे गए थे। 21 अप्रैल 2021 को प्रकाशित english.jagran.com की एक खबर के अनुसार, “अनुवादित: एक ऐतिहासिक निर्णय में मिनियापोलिस के पूर्व पुलिस अधिकारी, डेरेक चाउविन को पिछले साल अफ्रीकी-अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के तीनों आरोपों में दोषी पाया गया है। मिनियापोलिस में 12 सदस्यीय संघीय जूरी ने मंगलवार को चाउविन को तीनों मामलों में दोषी पाया।” खबर के अनुसार- इस निर्णय को सराहते हुए अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा, “अनुवादित: प्रणालीगत नस्लवाद हमारे देश की आत्मा पर एक धब्बा है। अश्वेत अमेरिकियों के लिए न्याय की गर्दन दबाना, गहरा भय और आघात है। यह दर्द काले और भूरे अमेरिकियों को हर दिन अनुभव होती है। हम यहीं नहीं रुक सकते। वास्तविक परिवर्तन और सुधार देने के लिए, हम काले और भूरे लोगों या किसी को भी यह सुनिश्चित करना होगा कि हम इस तरह की त्रासदी को फिर से घटित नहीं होने देंगे।”

www.today.com की 21 अप्रैल की एक खबर के अनुसार “अनुवादित: जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या में मिनियापोलिस के पूर्व पुलिस अधिकारी डेरेक चाउविन को दोषी ठहराए जाने के फैसले के बाद, राष्ट्रपति जो बिडेन ने कहा कि उन्होंने मंगलवार को फ्लॉयड की छोटी बेटी से बात की।” इस खबर के अनुसार जो बिडेन ने यह भी कहा था कि वे फ्लॉयड की बेटी से उनके अंतिम संस्कार के दिन भी मिले थे। पूरी खबर यहाँ पढ़ें।

अब यह बात तो साफ़ थी कि बाइडेन फ्लॉयड की बेटी से मिले थे। मगर हमें यह जानना था कि क्या इस तस्वीर में दिख रहा बच्चा फ्लॉयड की ही बेटी है या नहीं। हमने इस तस्वीर के मूल स्रोत को ढूंढ़ने के लिए गूगल रिवर्स इमेज सर्च टूल का इतेमाल किया।

2020 के सितम्बर महीने में www.wxyz.com पर हमें यह तस्वीर मिली। तस्वीर के साथ लिखा था, “Democratic presidential candidate former Vice President Joe Biden visits with C.J. Brown, right, and Clement Brown, the son and father of the owner of Three Thirteen, as Biden arrives to shop for his grandchildren at the store in Detroit. Biden is visiting Michigan for campaign events.”

हमें यह तस्वीर राष्ट्रपति जो बाइडेन की इंस्टाग्राम प्रोफाइल पर भी मिली।

हमें रॉयटर्स पिक्चर्स की संपादक कोरिन पर्किन्स द्वारा किये गए एक ट्वीट में भी यह तस्वीर मिली। पोस्ट के अनुसार, इस तस्वीर को रॉयटर्स पिक्चर्स के उत्तरी अमेरिका के फोटोग्राफर लीह मिलिस ने खींचा था।

विश्वास न्यूज़ ने इस विषय में रॉयटर्स, वॉशिंगटन के वरिष्ठ फ़ोटोग्राफ़र लीह मिलिस से संपर्क किया। मिलिस ने स्पष्ट किया कि तस्वीर में मौजूद लड़का डेट्रॉयट का है और फ्लॉयड की बेटी नहीं है। मिलिस ने फर्जी दावों का खंडन करते हुए एक ट्वीट भी पोस्ट किया था, जिसे नीचे देखा जा सकता है।

फेसबुक यूजर ‎हिमांशी सिहं की सोशल स्कैनिंग से पता चला कि वे मुंबई से हैं और फेसबुक पर उनके 690 फ़ॉलोअर्स हैं।

निष्कर्ष: Vishvas News की पड़ताल में पता चला कि वायरल दावा भ्रामक है। तस्वीर लेने वाले फ़ोटोग्राफ़र ने स्पष्ट किया है कि फ़ोटो में दिख रहा बच्चा फ्लॉयड की बेटी नहीं है।

  • Claim Review : अमेरिका विश्व गुरु क्यों हैं? नव निर्वाचित अमेरिकी राष्ट्रपति 'जोय बाइडेन' सार्वजनिक रुप से घुटनों पर आकर उस बेटी से माफ़ी मांगते हुए, जिसके बाप को पुलिस ने सिर्फ काले होने पर मार दिया था। क्या हमारे यहाँ मोदीराज में इस दृश्य की कल्पना भी की जा सकती है..! जिस दिन मोदीजी किसानों से लखीमपुर या दिल्ली बॉर्डर पर ऐसे माफी मांग लेंगे देश प्रगति की राह में बढ़ जाएगा। जय जवान जय किसान!
  • Claimed By : ‎हिमांशी सिहं
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later