X

Fact Check: एक ही फ्रेम में रेल, नाव, बस और प्लेन को दिखाती यह तस्वीर वाराणसी की नहीं है

विश्वास न्यूज़ की जांच में वायरल तस्वीर के साथ किया गया दावा गलत निकला। पोस्ट में ट्रांसपोर्ट के ‘सभी माध्यमों’ को एक साथ दिखाती वायरल तस्वीर वाराणसी की नहीं है। तस्वीर में एरोप्लेन को अलग से एडिट करके जोड़ा गया है।

  • By Vishvas News
  • Updated: November 11, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर वायरल एक तस्वीर में ट्रांसपोर्ट के ‘सभी माध्यमों’ को जिसमें नदी में नाव, आसमान में एरोप्लेन, ब्रिज पर बस और रेलगाड़ी सभी को एक साथ देखा जा सकता है। तस्वीर को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि ये तस्वीर वाराणसी की है। सोशल मीडिया यूज़र्स इसे सच मानते हुए समान दावे के साथ शेयर कर रहे हैं। विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल दावा गलत निकला। तस्वीर में प्लेन को अलग से एडिट करके जोड़ा गया है और तस्वीर वाराणसी की नहीं है, बल्कि आंध्र प्रदेश की है।

क्या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर “Mukul Dixit ” ने 9 नवंबर को एक तस्वीर को वाराणसी का बताते हुए शेयर किया। इसके साथ दावा किया गया : ‘एक ही फोटो फ्रेम में ट्रांसपोर्ट के सभी माध्यम , तस्वीर बनारस की है।’

फेसबुक पोस्‍ट के कंटेंट को यहां ज्‍यों का त्‍यों लिखा गया है। पोस्‍ट को सच समझ कर दूसरे यूजर्स भी वायरल कर रहे हैं। पोस्ट के आर्काइव वर्जन को यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

वायरल तस्वीर की सच्चाई जानने के लिए हमने फोटो को गूगल रिवर्स इमेज के जरिए सर्च किया। इस दौरान हमें यह तस्वीर साल 2021 में Krishna P नाम के एक फेसबुक यूजर द्वारा शेयर मिली। 17 नवंबर 2021 को शेयर फोटो के साथ लिखा गया था ,’4 modes of transportation in one pic Beautiful edit “इस पोस्ट में फोटो का क्रेडिट ‘Aurobindo_sf’ नाम की एक इंस्टाग्राम आईडी को दिया गया है। वायरल तस्वीर को “Our Rajamahendravaram ” नाम के फेसबुक पेज पर भी देखा जा सकता है।

पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए हमने Aurobindo_sf नाम की इंस्टाग्राम आईडी के बारे में सर्च किया। हमने इस इंस्टाग्राम आईडी को खंगालना शुरू किया। हमें यहां वायरल तस्वीर 30 अक्टूबर 2021 को शेयर मिली। तस्वीर की लोकेशन पोस्ट में गोदावरी नदी,  राजामुंदरी बताई गई है और तस्वीर के साथ लिखा है, “4 modes of transportation in one pic RAIL,WATER, ROAD and AIR pic taken from onboard TIRUMALA EXPRESS bound to VISAKHAPATNAM

Note : aeroplane is added to this pic . you can see original pic in 2nd post

हिंदी अनुवाद : ट्रांसपोर्ट के 4 माध्यम रेल, पानी, सड़क और हवा एक तस्वीर में, विशाखापट्टनम जाने वाली तिरुमाला एक्सप्रेस से ली गई तस्वीर।

नोट : इस तस्वीर में हवाई जहाज जोड़ा गया है। आप दूसरी पोस्ट में असली तस्वीर देख सकते हैं।



इंस्टाग्राम आईडी के बायो में मौजूद जानकारी के मुताबिक, यह पेज गोपी नाम के एक फोटोग्राफर का है। यूजर के इस पेज पर कई अलग-अलग रेलगाड़ियों की तस्वीरें मौजूद हैं।

अधिक जानकारी के लिए हमने ‘Aurobindo_sf’ फोटोग्राफर से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया की यह तस्वीर उन्होंने ही खींची है और तस्वीर में प्लेन को अलग से जोड़ा गया है। उन्होंने हमें बताया कि यह तस्वीर राजामुंदरी में ली गई है।

पड़ताल के अंत में हमने तस्वीर को वाराणसी के नाम पर वायरल करने वाले यूजर की जांच की। जांच से पता चला कि यूजर बरेली का रहने वाला है। फेसबुक पर यूजर को 3,976 लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ की जांच में वायरल तस्वीर के साथ किया गया दावा गलत निकला। पोस्ट में ट्रांसपोर्ट के ‘सभी माध्यमों’ को एक साथ दिखाती वायरल तस्वीर वाराणसी की नहीं है। तस्वीर में एरोप्लेन को अलग से एडिट करके जोड़ा गया है।

  • Claim Review : एक ही फोटो फ्रेम में ट्रांसपोर्ट के सभी माध्यम तस्वीर बनारस की है ।
  • Claimed By : Mukul Dixit
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later