X

Fact Check: भारतीय महिला रेसलर की फाइट का पुराना वीडियो फर्जी दावे के साथ वायरल

विश्वास न्यूज़ ने अपनी जांच में वायरल दावा फर्जी पाया। यह वीडियो पुराना है और वीडियो में दिख रही दोनों महिलाएं भारतीय रेसलर हैं।

  • By Vishvas News
  • Updated: August 25, 2022

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। दो महिलाओं की फाइट का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। 2 मिनट 16 सेकंड के इस वीडियो को शेयर कर यूज़र दावा कर रहे हैं कि एक पाकिस्तानी महिला मुक्केबाज़ ने बम्बई में मैच जीतने के बाद किसी भी खिलाड़ी को उसे हराने के लिए चुनौती दी। तभी वहां बैठी एक दर्शक महिला विजया लक्ष्मी ने इस चुनौती को स्वीकार किया और रिंग में आ के लड़ाई की। विश्वास न्यूज़ ने वीडियो की पड़ताल में पाया कि यह वीडियो पुराना है। वीडियो में दिख रही दोनों महिला रेसलर भारत की ही हैं।

क्या हो रहा है वायरल?

फेसबुक यूजर “Venkatraman Venkatesan” ने दो महिलाओं की फाइट का वीडियो अपलोड करते हुए लिखा: “A Pakistani lady boxer after winning the match in Bombay, challenged with pride for any one from India to come forward to defeat her. A Spectator lady Vijaya Lakshmi from Tuthukudi in Tamil Nadu freely moved to boxing ring with determination and accepted the roaring challenge. See the scene.*”

फैक्ट चेक के उद्देश्य से इस पोस्ट में लिखी गई बातों को यहां ज्यों का त्यों पेश किया गया है। इस पोस्ट के आर्काइव वर्जन को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

पड़ताल

विश्वास न्यूज़ ने वायरल दावे की पड़ताल शुरू करते हुए सबसे पहले वायरल वीडियो को ध्यान से देखा। वीडियो में CWE और www .g8 cwe . com लिखा नज़र आया। जिसका मतलब है कि यह रेसलिंग मैच CWE की रिंग में हुआ है। हमने वायरल वीडियो CWE के यूट्यूब चैनल पर ढूँढना शुरू किया। हमें CWE के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर 13 जून 2016 में यह वीडियो अपलोड मिला। वीडियो के साथ हेडलाइन लिखी गई थी: कविता ने बीबी बुल बुल का ओपन चैलेंज स्वीकार किया।” वीडियो को यहाँ देखें।

वायरल वीडियो से जुड़ी खबर हमें DNA इंडिया की वेबसाइट पर भी मिली। 30 सितम्बर 2017 को प्रकाशित खबर में वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट का इस्तेमाल करते हुए बताया गया, ‘बीबी बुल बुल, जो भारत की पहली पेशेवर महिला पहलवान हैं, को हरियाणा की पूर्व पुलिस अधिकारी, पावर-लिफ्टिंग और ‎MMA चैंपियन कविता ने कॉन्टिनेंटल रेसलिंग एंटरटेनमेंट (CWE) के हब में एक द्वंद्व युद्ध के दौरान नीचे गिरा दिया था। जालंधर (पंजाब)।’ पूरी खबर यहां पढ़ें।

ABP Sanjha के यूट्यूब चैनल पर 9 जुलाई 2016 को अपलोड वीडियो में इससे जुड़ी खबर को देखा जा सकता है। वायरल वीडियो से जुडी अन्य खबर को यहां पढ़ा जा सकता है।

महिला रेसलर्स के बीच फाइट का यह वीडियो पहले भी इसी दावे के साथ वायरल होता रहा है। तब विश्वास न्यूज ने इस वायरल वीडियो की पड़ताल की थी। आप हमारी पहले की पड़ताल को यहां पढ़ सकते हैं।

पहले हमने इस दावे की पुष्टि के लिए बीबी बुलबुल से संपर्क किया था। उन्होंने हमें बताया था, “यह वीडियो हाल का नहीं पुराना है और इस वीडियो में मेरे साथ कविता देवी फाइट कर रही है। मैं कोई पाकिस्तानी नहीं, बल्कि भारतीय रेसलर हूं। वायरल हो रहा दावा बिल्कुल फर्जी है।”

अधिक जानकारी के लिए हमने डब्ल्यूडब्ल्यूई रेसलर कविता देवी से संपर्क किया। हमारी बात उनके भाई संदीप दलाल से हुई। उन्होंने हमें बताया कि वायरल दावा गलत है। यह वीडियो काफी पुराना है और वीडियो में दिख रही महिलाएं रेसलर बुलबुल और कविता देवी है। दोनों महिलाएं भारतीय हैं।

पड़ताल के अंत में हमने इस वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले यूज़र की जांच की। जांच से पता चल कि यूजर के फेसबुक पर चार हज़ार से ज्यादा फ्रेंड्स हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ ने अपनी जांच में वायरल दावा फर्जी पाया। यह वीडियो पुराना है और वीडियो में दिख रही दोनों महिलाएं भारतीय रेसलर हैं।

  • Claim Review : भारतीय महिला विजया लक्ष्मी ने पाकिस्तानी महिला मुक्केबाज से की फाइट।
  • Claimed By : Venkatraman Venkatesan
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later