X

Fact Check: असम में नहीं की गई है लॉकडाउन की घोषणा, यह पोस्ट भ्रामक है

  • By Vishvas News
  • Updated: February 25, 2021

गुवाहाटी (विश्वास न्यूज़)। हाल ही में एक फोटो सोशल मीडिया और वॉट्सऐप पर व्यापक रूप से वायरल हो रहा है, जिसमें कहा गया है कि असम सरकार ने इस साल 30 अप्रैल, 2021 से जून तक लॉकडाउन की घोषणा की है। अंग्रेजी साप्ताहिक समाचार पत्र GPlus के लोगो का उपयोग करते हुए यह दावा किया गया है कि असम सरकार ने कोविड-19 के चलते यह घोषणा की है।

हमने अपनी जांच में पाया कि इस वायरल पोस्ट के साथ किए गए दावे पूरी तरह से गलत हैं। विश्वास न्यूज़ ने साप्ताहिक अखबार GPlus की वरिष्ठ पत्रकार, वर्षा दास से संपर्क किया। उसने स्पष्ट किया, “वायरल पोस्ट पूरी तरह से फर्जी है। नई पोस्ट 23 मार्च, 2020 को प्रकाशित समाचार के स्क्रीनशॉट को एडिट करके गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।”

क्या है वायरल पोस्ट में?

वॉट्सऐप पर वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि असम सरकार ने 30 अप्रैल से जून 2021 तक असम में फिर से तालाबंदी की घोषणा की है।

पड़ताल

23 मार्च, 2020 को असम में पहली बार लॉकडाउन की घोषणा की गई थी। Google रिवर्स इमेज सर्च के उपयोग के साथ हमें GPlus के फेसबुक पेज पर एक पोस्ट मिली, जो 23 मार्च, 2020 को प्रकाशित हुई थी। यह ग्राफिक वायरल पोस्ट के समान था, सिवाय तारीख के। इस पोस्ट को आप यहाँ क्लिक करके देख सकते हैं।

जब हमने 23 मार्च, 2020 के GPlus के पोस्ट की वायरल पोस्ट के साथ तुलना की, तो यह स्पष्ट हो गया कि यह उसी का एडिटेड संस्करण है। दोनों के बीच समानताएं नीचे देखी जा सकती हैं।

आगे की जांच के लिए हमने सरकार के विभागों के सत्यापित सोशल मीडिया हैंडल की जाँच की, लेकिन कहीं भी हमें वायरल दावे की पुष्टि करने वाला कोई पोस्ट नहीं मिला।

हमने राज्य के वित्त, परिवर्तन और विकास, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, पीडब्ल्यूडी, शिक्षा (उच्च, माध्यमिक और प्राथमिक) मंत्री डॉ हिमंत बिस्वा शर्मा से भी संपर्क किया। उसने पुष्टि की, “अब राज्य में कोई और लॉकडाउन नहीं लगेगा।”

विश्वास न्यूज़ ने साप्ताहिक अखबार GPlus की वरिष्ठ पत्रकार, वर्षा दास से भी संपर्क किया। उन्होंने स्पष्ट किया, “वायरल पोस्ट पूरी तरह से फर्जी है और हम पहले ही इस बारे में स्पष्टीकरण जारी कर चुके हैं। 23 मार्च, 2020 को प्रकाशित किये गए ग्राफ़िक को एडिट करके उसे वायरल किया जा रहा है।” आप नीचे दिए गए लिंक में इसे स्पष्ट देख सकते हैं।

निष्कर्ष: असम में कोई भी तालाबंदी की घोषणा नहीं की गई है। यह पोस्ट एक फोटो एडिटिंग टूल का उपयोग करके बनाई गई थी। यह पोस्ट भ्रामक है।

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later