X

Fact Check: यह न्यूज़ पेपर कटिंग फर्जी है; सांप्रदायिक तनाव फैलाने के लिए वायरल किया जा रहा है गलत पोस्ट

  • By Vishvas News
  • Updated: July 16, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज): सोशल मीडिया पर एक अखबार की कटिंग इस दावे के साथ शेयर की जा रही है कि मौलाना जफर शेख ने बौद्धों और एससी-एसटी संप्रदाय के लोगों को देशद्रोही बताते हुए उनपर किसी काम के  लिए भरोसा न करने की सलाह दी है। विश्वास न्यूज ने पाया कि वायरल दावा फर्जी है। यह अखबार की कटिंग डिजिटल रूप से बनाई गई थी और ऐसी कोई खबर प्रकाशित नहीं की गई थी।

क्या है वायरल पोस्ट में?

ट्विटर यूजर रोहन नासिक्कर @ ROHANM1508 ने वायरल हो रहे अखबार की कटिंग को 11 जुलाई, 2021 को अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया और लिखा: “अनुवादित: मुसलमानों को कभी भी बौद्धों और एससी एसटी से कभी कोई काम नहीं कराना चाहिए: मौलाना जफर शेख ने कहा। यह घटना नागपुर की है। आप अन्य जातियों के लोगों को उच्च वेतन देकर उन्हें काम पर रख सकते हैं लेकिन इन लोगों पर भरोसा न करें।”

यहां पोस्ट और आर्काइव वर्जन देखें।

पड़ताल:

Vishvas News ने खोजबीन शुरू की कि कहीं किसी धर्मगुरु ने इस तरह का कोई बयान तो नहीं दिया है। हमें कहीं भी ऐसी कोई खबर नहीं मिली।

इस वायरल न्यूज़ पेपर क्लिपिंग जैसी ही एक और पेपर कटिंग पहले भी वायरल हुई थी। उस समय हमने अपनी पड़ताल में पाया था कि वह कटिंग डिजिटल रूप से बनाई गई थी। इन दोनों में समानता को देखते हुए हमने पाया कि यह पेपर कटिंग भी डिजिटल रूप से बनाई गई है।

यहाँ नीचे ऐसी डिजिटल पेपर क्लिप का एक और उदाहरण देखा जा सकता है।

अंत में विश्वास न्यूज ने एएनआई नागपुर संवाददाता के सौरभ जोशी से बातचीत की। उन्होंने हमें बताया कि हाल में शहर में ऐसा कोई आयोजन नहीं हुआ था, जहां किसी धार्मिक गुरु ने मुसलमानों या बौद्धों के बारे में ऐसी कोई बात की हो। अखबार की कटिंग भी नागपुर के अखबारों जैसी नहीं लगती। वायरल पोस्ट फर्जी है।

अंत में, हमने इस वायरल तस्वीर को साझा करने वाले ट्विटर की सोशल स्कैनिंग की। रोहन नासिक्कर मुंबई के रहने वाले हैं और उन्हें 186 लोग फॉलो करते हैं, जबकि ट्विटर पर उन्हें 252 लोग फॉलो करते हैं।

  • Claim Review : बौद्ध SC मधील लोकांना कामावर ठेऊ नये - मौलाना जाफर शेख नागपूर मधील गोष्ट आहे त्यात अस लिहिलंय की एकवेळ इतर धर्मियांना जास्त पगार ध्या परंतु ह्यांच्या वर भरोसा ठेऊ नका हे लोक खूप नीच असतात जिथे जातात तिथे चोरी धोका देतात याना कामावर ठेऊ नका असे आदेश देण्यात आले आहेत
  • Claimed By : Rohan नाशिककर @ROHANM1508
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later