X

Fact Check : दलित को जिंदा जलाने के नाम पर वायरल हुआ राजस्‍थान का वीडियो

  • By Vishvas News
  • Updated: July 22, 2019

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में एक जिंदा जलते हुए शख्‍स को पुलिसवालों की ओर भागते हुए देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि वीडियो में दिख रहा शख्‍स दलित है। यूपी के योगीराज में उसे जिंदा जला दिया गया। विश्‍वास टीम की पड़ताल में पता चला कि वायरल वीडियो यूपी का नहीं, बल्कि राजस्थान का है। 7 जुलाई को राजस्‍थान के झुंझुनूं जिले के गुड़ा में एक व्‍यक्ति ने खुद को आग लगा ली थी।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

Shakshi Sharma नाम के फेसबुक अकाउंट पर 21 जुलाई को एक वीडियो अपलोड करते हुए दावा किया गया, ”#मोदीराजमेंसबसेज्यादादलितोंपर जुलमकिएजारहेहैं। दलितों को जिंदा जला दिया कानून व्यवस्था चौपट। जिस भी भाई ने यह वीडियो शेयर नहीं किया ना, तो थू है उसकी जिंदगी पर और मैं समझता हूं मेरे हिसाब से इस से घटिया इंसान और कोई नहीं होगा। यह भारत देश है यहां पर गरीबों की नहीं सुनी नहीं जाती यहां पर अमीर खरीद लेते हैं चंद रुपयों में इनका जमीर। मोदीहै तोमुमकिन हैयोगीका #गुंडाराजशिखरकी_और

इस वीडियो को अब तक 800 से ज्‍यादा बार शेयर किया जा चुका है। यही वीडियो अलग-अलग दावों के साथ सोशल मीडिया के दूसरे प्‍लेटफॉर्म पर भी वायरल हो रहा है।

पड़ताल

विश्‍वास टीम ने सबसे पहले वायरल हो रहे वीडियो को ध्‍यान से देखा। इसके बाद हमे InVID टूल की मदद से वायरल हो रहे वीडियो के कई प्रिंटशॉट लिए। अपनी खोज को आगे बढ़ाते हुए इन प्रिंटशॉट को गूगल रिवर्स इमेज में अपलोड करके सर्च करना शुरू किया। कुछ देर की मेहनत के बाद हमें Youtube पर यही वीडियो मिली। इसमें बताया गया कि घटना झुंझुनूं की है। वहां एक व्‍यक्ति ने खुद को आग लगा ली थी।

A1 TV News के यूट्यूब चैनल पर 7 जुलाई को अपलोड इस वीडियो में जलते हुए आदमी को पुलिसवालों की तरफ भागते हुए देखा जा सकता है।

विश्‍वास टीम ने इसके बाद गूगल में “झुंझुनूं में एक व्यक्ति ने खुद को लगाई आग” टाइप करके सर्च किया। हमें इससे संबंधित कई खबरें मिलीं।

पड़ताल के दौरान हमें News18 की वेबसाइट पर मौजूद एक खबर से पता चला कि झुंझुनूं जिले के गुड़ा गांव में वनविभाग के का दस्‍ता पहुंचा तो बाबूलाल नाम के एक शख्‍स ने केरोसिन डालकर खुद को आग लगा ली। घटना 7 जुलाई 2019 की है। इस शख्‍स पर आरोप था कि इसे वन विभाग की जमीन पर कब्‍जा जमाया हुआ था।

इसके बाद विश्‍वास टीम ने गुड़ा पुलिस स्‍टेशन में फोन किया। वहां हमारी बात हेड कॉन्स्‍टेबल बाबूलाल से हुई। उन्‍होंने बताया कि आग लगाने वाला वीडियो झुंझुनूं जिले के गुड़ा गांव का है। आग लगाने वाले शख्‍स की 11 जुलाई की शाम को मौत हो चुकी है। शख्‍स दलित नहीं, बल्कि सैनी था,जो कि राजस्‍थान में ओबीसी के तहत आते हैं।

इसके बाद विश्‍वास टीम ने जयपुर स्थित दैनिक जागरण के संवाददाता मनीष गोधा से संपर्क किया। उन्‍होंने बताया कि यह घटना राजस्थान के झुंझुनू जिले के गुड़ा गांव की है। यहां पर सरकारी जमीन पर अतिक्रमण हटाने के लिए एक दस्ता गया था। इसी दौरान अतिक्रमण करने वाले व्यक्ति बाबूलाल सैनी ने खुद पर केरोसिन डाल लिया और आग लगा ली। इसके बाद इसने अतिक्रमण रोधी दस्ते के एक कर्मचारी को भी अपनी चपेट में लेने की कोशिश की। बाद में इस व्यक्ति की जयपुर के सवाई मानसिंह अस्‍पताल में मौत हो गई।

अंत में हमने राजस्‍थान के वीडियो को यूपी के नाम पर वायरल करने वाले फेसबुक अकाउंट Shakshi Sharma की सोशल स्‍कैनिंग की। हमें पता चला कि इस अकाउंट को छह हजार से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं। प्रोफाइल में यूजर ने खुद को सिवनी का बताया हुआ है।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास टीम की पड़ताल में पता चला कि वायरल वीडियो उत्‍तर प्रदेश का नहीं, बल्कि राजस्‍थान के झुंझुनूं जिले के गांव का है। वीडियो में दिख रहे व्‍यक्ति को किसी ने आग नहीं लगाई थी, बल्कि उन्‍होंने खुद को आग के हवाले कर दिया था। व्‍यक्ति दलित नहीं, बल्कि ओबीसी समुदाय का था।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews।com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later