X

Fact Check : योगी आदित्यनाथ की होली की ये तस्‍वीरें उस वक्‍त की हैं, जब वे CM नहीं थे

विश्‍वास टीम की जांच में पता चला कि जिस तस्‍वीर को इस बार होली पर वायरल किया जा रहा है, वह दो साल पुरानी है। उस वक्‍त योगी आदित्‍यनाथ यूपी के मुख्‍यमंत्री नहीं थे। ऐसे में यह कहना गलत है कि योगी आदित्‍यनाथ पहले ऐसे मुख्‍यमंत्री हैं, जिन्‍होंने रेनकोट पहन कर होली खेली।

  • By Vishvas News
  • Updated: March 27, 2019

नई दिल्‍ली (विश्‍वास टीम)। फेसबुक, ट्विटर और वॉट्सऐप पर एक तस्‍वीर वायरल हो रही है। इसमें उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ को रेनकोट पहनकर होली खेलते हुए दिखाया गया है। पोस्‍ट में दावा किया गया है कि योगी आदित्‍यनाथ भारत के पहले ऐसे मुख्‍यमंत्री हैं, जो रेनकोट पहनकर होली खेलते हैं। विश्‍वास टीम ने जब इस तस्‍वीर की पड़ताल की तो सच्‍चाई कुछ और ही निकली। जिस तस्‍वीर को अब वायरल किया जा रहा है, दरअसल वह दो बरस पुरानी है। उस वक्‍त वे यूपी के सीएम नहीं थे।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

सबसे पहले बात करते हैं वायरल तस्‍वीर की। इसमें योगी आदित्‍यनाथ की दो तस्‍वीरों का यूज करते हुए अंग्रेजी में लिखा है : India’s first specimen Chief Minister to celebrate holi wearing Raincoat.

इस तस्‍वीर को 25 मार्च को फेकू एक्‍सप्रेस (@thenewfekuexpress) नाम के फेसबुक पेज से अपलोड किया गया है। अब तक इसे दो हजार से ज्‍यादा बार शेयर किया जा चुका है। 287 लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे चुके हैं। फेसबुक के अलावा WhatsApp और Twitter पर भी ये पोस्‍ट फैली हुई है।

पड़ताल

सबसे पहले हमें यह जानना था कि इस बार की होली योगी आदित्‍यनाथ ने कैसे मनाई थी। InVID की मदद से हमने 21 मार्च (होली) की तारीख का यूपी के मुख्‍यमंत्री का ट्वीट सर्च किया। योगी आदित्‍यनाथ के ट्विटर हैंडल @myogiadityanath पर हमें होली से जुड़ा एक वीडियो और कुछ तस्‍वीरें मिलीं।

इससे हमें पता चला कि मुख्‍यमंत्री ने इस बार सफेद ग्‍लास का चश्‍मा पहना हुआ था। जबकि वायरल तस्‍वीर में योगी आदित्‍यनाथ काला चश्‍मा पहने हुए हैं। इसी तरह वायरल तस्‍वीर में योगी आदित्‍यनाथ गीली होली खेलते हुए दिख रहे हैं। जबकि इस बार की तस्‍वीर और वीडियो में मुख्‍यमंत्री सूखी होली में दिख रहे हैं। नीचे दी गई तस्‍वीर में आप देख सकते हैं कि मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने किस प्रकार से इस बार सूखी होली खेली थी। यह तस्‍वीर हमें मुख्‍यमंत्री के ट्विटर हैंडल से मिली।

2019 की होली की तस्‍वीरें

अब यह जानना था कि जिस फोटो को वायरल किया जा रहा है, वह कहां से आई। इसके लिए हमने गूगल रिवर्स इमेज में सर्च किया,लेकिन वहां हमें कुछ नहीं मिला। इसके बाद हमने गूगल में yogi adityanath play holi टाइप करके सर्च किया। वहां हमें Asia News Express के Youtube चैनल पर 13 मार्च 2017 को अपलोड एक वीडियो मिला। इसमें योगी आदित्‍यनाथ भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ होली सेलिब्रेट करते हुए नजर आ रहे हैं। इसी दौरान उन्‍होंने मीडिया से भी बात की थी। वायरल तस्‍वीर को इसी वीडियो से बनाया गया है। ओरिजनल वीडियो आप यहां देख सकते हैं।

दो साल पुराने वीडियो का स्‍क्रीनशॉट

इस वीडियो में आप 2:45 मिनट पर योगी आदित्‍यनाथ को पत्रकारों से बात करते हुए देख सकते हैं। इससे एक बात तो साफ हुई कि योगी आदित्‍यनाथ की वायरल तस्‍वीरें उस वक्‍त की हैं, जब वे सीएम नहीं थे।

योगी आदित्‍यनाथ के विकीपीडिया पेज के अनुसार, उन्‍होंने 19 मार्च 2017 को यूपी के मुख्‍यमंत्री के तौर पर काम करना शुरू किया, जबकि विधानसभा चुनाव का परिणाम 11 मार्च 2017 को आया था। 2017 में 13 मार्च को होली थी। वायरल तस्‍वीर भी 13 मार्च 2017 की ही है। उस वक्‍त तक योगी आदित्‍यनाथ यूपी के मुख्‍यमंत्री नहीं थे।

योगी आदित्‍यनाथ के विकीपीडिया पेज का स्‍क्रीनशॉट

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

निष्कर्ष: विश्‍वास टीम की जांच में पता चला कि जिस तस्‍वीर को इस बार होली पर वायरल किया जा रहा है, वह दो साल पुरानी है। उस वक्‍त योगी आदित्‍यनाथ यूपी के मुख्‍यमंत्री नहीं थे। ऐसे में यह कहना गलत है कि योगी आदित्‍यनाथ पहले ऐसे मुख्‍यमंत्री हैं, जिन्‍होंने रेनकोट पहन कर होली खेली।

  • Claim Review : मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने रेनकोट पहनकर खेली होली
  • Claimed By : Fenku Express FB Page
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later