X

Quick Fact Check: डब्ल्यूएचओ ने नहीं कहा कि पत्तागोभी खाने से बढ़ सकता है कोरोना का खतरा

  • By Vishvas News
  • Updated: August 10, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक पोस्ट फिर से वायरल हो रही है, जिसमें वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन डब्ल्यूएचओ के हवाले से दावा किया जा रहा है कि कोरोनावायरस से बचने के लिए पत्तागोभी खाने से परहेज करें। विश्वास न्यूज ने पड़ताल में पाया कि वायरल हो रहा पोस्ट फर्जी है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर Manauar Hussain ने यह पोस्ट साझा किया है, जिसमें लिखा गया है: पत्ता गोभी हो सके तो मत खाना ठीक सुना आपने। WHO की रिपोर्ट के अनुसार, पत्ता गोभी की परत में Corona Virus सबसे ज्यादा समय ठहर रहा है।

पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने पड़ताल शुरू करते हुए सबसे पहले डब्ल्यूएचओ की वेबसाइट पर देखा, लेकिन हमें डब्ल्यूएचओ की वेबसाइट पर पत्तागोभी को लेकर ऐसी कोई चेतावनी नहीं मिली।

सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल्स एंड प्रिवेंशन (CDC) की वेबसाइट पर मौजूद फूड सेफ्टी रिपोर्ट में भी यह लिखा गया है कि इस बात के कोई पुख्ता सबूत नहीं मिले हैं कि कोविड 19 खाने की वस्तुओं से भी फैलता है।

विश्वास न्यूज इस पोस्ट का पहले भी फैक्ट चेक कर चुका है। पूरा फैक्ट चेक यहां पढ़ा जा सकता है।

फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (FSSAI) के ज्वाइंट डायरेक्टर डॉ. एसी मिश्रा के अनुसार, कोरोनावायरस फूड आइटम्स से भी फैलता है ऐसे अब तक कोई प्रमाण नहीं मिले हैं। हालांकि, खाना खाने से पहले पानी व साबुन से करीब 20 सेकंड तक अच्छे से हाथ धोएं। वहीं, फल व सब्जियां भी खाने से पहले अच्छे से धो लेना जरूरी है।

फेसबुक पर यह पोस्ट Manauar Hussain नाम के यूजर ने शेयर की है। विश्वास न्यूज ने जब इस पेज की प्रोफाइल को स्कैन किया तो पाया कि यूजर ने यह प्रोफाइल हाल में ही बनाई है और यह उसका पहला पोस्ट था।

निष्कर्ष: डब्ल्यूएचओ ने नहीं कहा कि कोरोनावायरस से बचना है तो पत्तागोभी से परहेज करें।

  • Claim Review : डब्ल्यूएचओ ने चेतावनी दी है कि कोविड 19 से बचना है तो पत्तागोभी खाने से बचें।
  • Claimed By : FB User: Manauar Hussain
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later