X

Fact Check: बारिश में खुश होते कंगारुओं की पुरानी तस्वीर को ऑस्ट्रेलिया के बुशफायर से जोड़ने का दावा भ्रामक

  • By Vishvas News
  • Updated: January 27, 2020

विश्वास न्यूज (नई दिल्ली)। सोशल मीडिया पर दो कंगारुओं की एक तस्वीर वायरल हो रही है। इसमें दोनों को अपने हाथ उठा आकाश की तरफ देखते हुए दिखाया जा रहा  है। इस पोस्ट को 7 जनवरी 2020 को एक कैप्शन के साथ शेयर किया गया है। इस कैप्शन में दावा किया गया है कि ऑस्ट्रेलिया में बुशफायर के दौरान बारिश हुई तो ये कंगारू डांस कर रहे थे। विश्वास न्यूज ने इस वायरल पोस्ट की पड़ताल की और पाया कि ये तस्वीरें भ्रामक दावे के साथ शेयर की जा रही हैं। असल में इस तस्वीर को 2014 में ऑस्ट्रेलियाई नेचर फोटोग्राफर चार्ल्स डेविस (Charles Davis) ने खींचा था और इसका ऑस्ट्रेलिया में लगी आग से कोई संबंध नहीं है।

क्या है वायरल पोस्ट में

Jo Hunt नाम के एक यूजर ने सोशल मीडिया पर 7 जनवरी 2020 को एक पोस्ट शेयर की। इस पोस्ट में दो कंगारू हाथ को ऊपर उठाए आकाश की तरफ देख कूदते हुए दिख रहे हैं। इस फोटो के साथ दिए गए कैप्शन में लिखा है, ‘#dancing in the #rain Let it pour down on Australia. #kangaroo #roo #kanga #wildlife #australia #australianbushfires #raindance’। इस पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

अपनी पड़ताल के दौरान विश्वास न्यूज ने पाया कि ये पोस्ट सोशल मीडिया के अन्य प्लेटफॉर्म पर भी अलग-अलग दावों के साथ शेयर की गई है। हमने वायरल फोटो पर Google Reverse Image सर्च किया। हमें यही तस्वीर फोटोग्राफर चार्ल्स डेविस की वेबसाइट पर भी मिली। यहां आप चार्ल्स डेविस की वेबसाइट पर मौजूद इस तस्वीर का स्क्रीनशॉट देख सकते हैं।

हमने आगे अपनी पड़ताल जारी रखी। हमें यही तस्वीर Charles Davis Photography नाम के फेसबुक पेज पर भी मिली। इस तस्वीर को 14 मई 2017 को यह बताते हुए शेयर किया गया था कि ये अवॉर्ड जीत चुकी है। इसके कैप्शन में लिखा है, ‘बारिश की खुशी, यह मुझे पहला बड़ा अवॉर्ड जिताने वाला शॉट था, जिससे 2014 का ANZANG ब्लैक एंड वाइट फोटोग्राफर ऑफ द ईयर अवॉर्ड मिला। जब भी पसंदीदा तस्वीर के बारे में पूछा जाता है ये हमेशा दिमाग में आती है। इस तस्वीर को खींचने के लिए बारिश में घंटों बैठना पड़ा। मुझे आज भी भरोसा नहीं है कि ये दोनों साथ में आए। इन दो कंगारुओं के बीच के संतुलन से मुझे प्यार है। ये परफेक्ट के आसपास है।’

विश्वास न्यूज ने फोटोग्राफर चार्ल्स डेविस से ईमेल पर संपर्क किया। हमने उनसे पूछा कि क्या यह तस्वीर उन्होंने खींची है या नहीं और क्या इसका संबंध ऑस्ट्रेलिया की आग से है। उन्होंने जवाब दिया कि तस्वीर उन्होंने ही ली और इसका हालिया आग से कोई लेना-देना नहीं है। फोटो 2014 की है। हाल में ऑस्ट्रेलिया के कुछ हिस्सों में बारिश हुई है, लेकिन आग अभी भी लगी हुई है। उनके ईमेल का स्क्रीनशॉट यहां नीचे देखा जा सकता है:

फोटोग्राफर ने 14 जनवरी 2020 को इंस्टाग्राम पर एक सफाई भी पोस्ट की है। इसमें लिखा है, ‘यह मेरे लिए दुखद है कि मुझे इस पोस्ट को तब भी लिखना पड़ रहा है जब मेरे घर के आसपास की सारी चीजें जल रही हैं। पिछले दो हफ्तों से इस तस्वीर, मेरी तस्वीर का इस्तेमाल सोशल मीडिया पर झूठ फैलाने में किया जा रहा है। लोग यह कहते हुए तस्वीर पोस्ट कर रहे हैं कि ऑस्ट्रेलिया में आग के दौरान हुई बारिश के बाद कंगारू खुशी मना रहे हैं। मैंने 2014 में इस तस्वीर को खींचा था। ये कंगारू अब शायद राख हो चुके हैं और निश्चित तौर पर किसी तरह की खुशी नहीं मना रहे। मैं बता सकता हूं कि बारिश कम हुई है और हर चीज अब भी जल रही है। अगर आपको कोई भी इस तस्वीर के साथ झूठ फैलाता दिखे तो उसे ये बताएं। अपने काम की चोरी होते देखना ही काफी बुरा है, लेकिन इसका इस्तेमाल सोशल मीडिया पर दूसरों के झूठ को बढ़ावा देने में होना अच्छा नहीं है।’ उनके इंस्टाग्राम पोस्ट के स्क्रीनशॉट को यहां देखा जा सकता है:

फोटोग्राफर ने यही सफाई अपने फेसबुक पेज पर भी पोस्ट की है। यहां उस पोस्ट का स्क्रीनशॉट भी देखा जा सकता है:


हालिया न्यूज रिपोर्ट्स के मुताबिक, 7 जनवरी 2020 को जब ये वायरल पोस्ट शेयर हुई तो उसके आसपास ऑस्ट्रेलिया के कुछ हिस्सों में बारिश हुई थी। हालांकि, यह बारिश ऑस्ट्रेलिया में लगी भारी आग को बुझाने के लिए काफी नहीं रही। यहां पर ऐसी ही कुछ न्यूज के स्क्रीनशॉट देखे जा सकते हैं:

विश्वास न्यूज ने ऑस्ट्रेलिया के बुशफायर से जुड़ी एक फेक पोस्ट का पहले भी खुलासा किया था उस आर्टिकल का स्क्रीनशॉट यहां देखा सकता है:

निष्कर्ष: दो कंगारुओं की इस वायरल तस्वीर को भ्रामक दावे के साथ पेश किया गया है। यह दावा गलत है कि ऑस्ट्रेलिया बुशफायर के दौरान हुई बारिश के बाद कंगारू खुशी में उछल रहे हैं। वायरल पोस्ट को 7 जनवरी 2020 को शेयर किया गया है। हालांकि, मूल रूप से ऑस्ट्रेलिया के नेचर फोटोग्राफर चार्ल्स डेविस ने 2014 में इस तस्वीर को खींचा था। इस तस्वीर का ऑस्ट्रेलिया में लगी हालिया आग से कोई लेना-देना नहीं है।

  • Claim Review : बारिश में खुश होते कंगारुओं की तस्वीर को ऑस्ट्रेलिया के बुशफायर से जोड़ने का दावा
  • Claimed By : FB User: Jo Hunt
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

  • वॅाट्सऐप नंबर 9205270923
  • टेलीग्राम नंबर 9205270923
  • ईमेल contact@vishvasnews.com
जानिए वायरल खबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later