X

Fact Check: लड़के-लड़कियों द्वारा स्टेज पर किये गए अनुसाशित करतब का यह वीडियो टोक्यो ओलिंपिक का नहीं है

हमने अपनी जांच में पाया कि दावा झूठा है। यह वीडियो टोक्यो ओलिंपिक का नहीं है।

  • By Vishvas News
  • Updated: August 12, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज़)| हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें बहुत-से लड़के-लड़कियों को बड़े ही अनुसाशित तरीके से चलते हुए करतब करते देखा जा सकता है। वीडियो को विभिन्न सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं द्वारा साझा किया जा रहा है और साथ में दावा किया जा रहा है कि यह टोक्यो ओलिंपिक के समापन समारोह का वीडियो है। हमने अपनी जांच में पाया कि दावा झूठा है। यह वीडियो टोक्यो ओलिंपिक का नहीं है।

क्या है ये वायरल पोस्ट?

फेसबुक यूजर Ashok Kr Sharma ने वीडियो साझा किया और लिखा, “Tokyo Olympic 2021….Wonderful closing Ceremony at the #Olympics like each person was digitally programmed….”

इस पोस्ट का आर्काइव वर्जन यहां देखा जा सकता है

पड़ताल

वायरल पोस्ट को जांचने के लिए हमने सबसे पहले ओलिंपिक के वेरिफाइड YouTube चैनल पर टोक्यो ओलिंपिक के समापन समारोह को देखा। हमें कहीं भी ये सीन नहीं दिखा।

वायरल वीडियो के स्क्रीन ग्रैब को रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें वायरल वीडियो euronews के वेरिफाइड यूट्यूब चैनल पर Nov 15, 2013 को अपलोडेड मिला। वीडियो के साथ डिस्क्रिप्शन में लिखा था, “निप्पॉन स्पोर्ट्स साइंस यूनिवर्सिटी में जापानी छात्रों के एक समूह ने इस साल गुरुवार (14 नवंबर) को अपने विश्वविद्यालय के उत्सवों में सिंक्रनाइज़ प्रिसिशन वॉकिंग का करतब किया।”


हमें यह वीडियो tvasahi के वेरिफाइड यूट्यूब चैनल पर Nov 20, 2013 को इसी डिस्क्रिप्शन के साथ अपलोडेड मिला।

हमने इस विषय जागरण के स्पोर्ट्स कॉरेस्पॉन्डेंट अभिषेक त्रिपाठी से बात की। उन्होंने भी कन्फर्म किया कि वायरल विज़ुअल्स टोक्यो ओलिंपिक की क्लोजिंग सेरेमनी का नहीं है।

हमने इस वायरल वीडियो को शेयर करने वाले Ashok Kr Sharma का अकाउंट स्कैन किया। इन्हें फेसबुक पर 4,931 लोग फॉलो करते हैं। यूजर उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर के रहने वाले हैं।

निष्कर्ष: हमने अपनी जांच में पाया कि दावा झूठा है। यह वीडियो टोक्यो ओलिंपिक का नहीं है।

  • Claim Review : Tokyo Olympic 2021.... Wonderful closing Ceremony at the Olympics like each person was digitally programmed
  • Claimed By : Ashok Kr Sharma
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later