X

Fact Check: आतिशबाजी का यह वीडियो ताइवान का है, दीवाली से जोड़कर गलत दावे से किया जा रहा है वायरल

ताइवान में सालाना आयोजित होने वाले धार्मिक यात्रा बैशातुन माजू के दौरान होने वाली आतिशबाजी के वीडियो को कनाडा में दीवाली के दौरान भारतीयों के आतिशबाजी का बताकर गलत दावे से वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: November 8, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में सड़क किनारे आतिशबाजी को होते हुए देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि आतिशबाजी का यह वीडियो अमेरिका में रहने वाले भारतीयों की तरफ से मनाई गई दिवाली के त्योहार से संबंधित है, जिस दौरान उन्होंने सड़कों पर भव्य तरीके से आतिशबाजी की।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा गलत निकला। वायरल हो रहा आतिशबाजी का वीडियो न तो दिवाली के त्योहार से संबंधित है और न ही अमेरिका। यह ताइवान स्थित एक धार्मिक त्योहार बैशातुन माजू के आयोजन के दौरान हुई आतिशबाजी का वीडियो है, जिसे गलत दावे के साथ भारत में सोशल मीडिया पर अलग-अलग देशों में रहने वाले भारतीयों के दिवाली मनाए जाने के दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘ਰੰਗ ਪੰਜਾਬ ਦੇ’ ने वायरल वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, ”ਕੈਨੇਡਾ ਵਿੱਚ ਗੰਦ ਪਾ ਰਹੇ ਭਾਰਤੀ ਲੋਕ।” (”भारत के लोग कनाडा में गंदगी फैला रहे हैं”)

कई अन्य यूजर्स ने इसे अमेरिका में भारतीयों के दिवाली मनाए जाने का बताकर अपनी प्रोफाइल से साझा किया है।

पड़ताल

InVID टूल की मदद से मिले की-फ्रेम्स को रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें यह वीडियो ‘青年文創園區「歡樂耶誕園遊會」- 手作達人學苑’ यूजर की प्रोफाइल पर लगा मिला, जिसे उन्होंने 18 अप्रैल 2021 को ‘白沙屯媽祖出巡 …’ (बैशातुन माजू) का बताते हुए शेयर किया है।

इस की-वर्ड से सर्च करने पर हमें यू-ट्यूब ‘白沙屯拱天宮’ चैनल पर 2021 को अपलोड किया गया करीब दो घंटे का वीडियो मिला, जो इससे संबंधित है। इस वीडियो में आतिशबाजी की आवाज और कई फ्रेम में सड़क पर हो रही आतिशाबाजी को देखा जा सकता है।

मंडारिन भाषा में दी गई जानकारी के मुताबिक, यह वीडियो वर्ष 2021 में ताइवान में आयोजित (शिन चाऊ वर्ष) बैशातुन माजू धार्मिक त्योहार का है। कई अन्य यू-ट्यूब चैनल पर भी इस त्योहार के आयोजन का वीडियो अपलोड किया हुआ है।

सर्च करने पर हमें ताइवान सरकार के विदेश मंत्रालय की वेबसाइट पर इस धार्मिक त्योहार के बारे में विस्तृत जानकारी मिली। दी गई जानकारी के मुताबिक, ‘बैशातुन माजू के दौरान जैसे ही यात्रा गुजरती है, लोग देवता के आने का जश्न मनाने के लिए पटाखे चलाते हैं।’ इस त्योहार का आयोजन ताइवान के गोंग त्यान मंदिर में पिछले 150 सालों से अधिक समय से मनाया जाता है।

हमारी अब तक की पड़ताल से यह स्पष्ट है कि सड़क पर आतिशबाजी का वायरल हो रहा वीडियो अमेरिका या कनाडा में रहने वाले भारतीयों की तरफ से दिवाली के उत्सव से संबंधित नहीं है, बल्कि ताइवान में सालाना आयोजित होने वाले एक धार्मिक त्योहार की है।

इस वीडियो को लेकर हमने ताइवान की कई बार यात्रा कर चुके सॉफ्टवेयर इंजीनियर अभिजीत कुमार से संपर्क किया। उन्होंने बताया, ‘ताइवान सरकार की तरफ से इस धार्मिक यात्रा को पर्यटकों के बीच जोर-शोर से प्रचारित किया जाता है। ताइवान सरकार पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए इस धार्मिक यात्रा को शोकेस के तौर पर भी प्रस्तुत करती है।’

वायरल वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर की प्रोफाइल को करीब छह लाख से अधिक लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष : ताइवान में सालाना आयोजित होने वाले धार्मिक यात्रा बैशातुन माजू के दौरान होने वाली आतिशबाजी के वीडियो को कनाडा में दिवाली के दौरान भारतीयों के आतिशबाजी का बताकर गलत दावे से वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : कनाडा में रहने वाले भारतीयों ने दीवाली में जमकर की आतिशबाजी
  • Claimed By : FB User-ਰੰਗ ਪੰਜਾਬ ਦੇ
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later