X

Quick Fact Check: भारत में हुए धार्मिक कार्यक्रम को फिर से दुबई का बता कर किया जा रहा है वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: March 10, 2021

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर फिर से एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें बुरका पहने कुछ महिलाओं को राम भजन गाते सुना जा सकता है। पोस्ट के साथ दावा किया गया है कि यह वीडियो दुबई की एक मस्जिद का है।

विश्वास न्यूज़ ने इस वीडियो की पहले भी पड़ताल की थी, उस समय हमने पाया था कि यह दावा गलत है। हमने पाया कि था कि वीडियो इंडिया के आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में स्थित पुट्टपर्थी साईं आश्रम का है, जहाँ 10 जुलाई 2012 को सर्वधर्म सद्बावना कार्यक्रम का आयोजन किया गया था, जिसमें भाग लेने मिडिल ईस्ट की कई जगहों से लोग आए थे।

क्या हो रहा है वायरल

वायरल पोस्ट में बुरका पहने कुछ महिलाओं को राम भजन गाते सुना जा सकता है। वीडियो में कुछ पुरुषों को भी गाते देखा जा सकता है। पुरुषों ने सऊदी अरब का पारम्परिक परिधान थोब पहना हुआ है। पोस्ट में दावा किया गया है कि यह वीडियो दुबई की एक मस्जिद का है। पोस्ट में डिस्क्रिप्शन लिखा है “🏹🚩जय श्री राम🚩🏹*✊🏻👊🏻⛳ दुबई में मुस्लिम ओरतो ने नई पहल करते हुए मस्ज़िद में राम भजन प्रस्तुत किया और उनके शेख पतियों ने ताली बजाकर लय बद्ध उनका साथ दिया, हिन्दुस्तान में होता तो इस्लाम खतरे में आ जाता। शेयर किजिये और 125 करोड लोगो तक पहुचाये।”

इस पोस्ट के आर्काइव्ड वर्जन को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

पड़ताल

वीडियो को ठीक से देखने पर वीडियो के ख़त्म होने पर पुट्टपर्थी के साईं बाबा की तस्वीर आती है।

हमने पड़ताल शुरू की और इस वीडियो को इनविड टूल पर डाल कर इसके कीफ्रेम्स निकाले, फिर उन्हें गूगल रिवर्स इमेज पर सर्च किया। इस सर्च में हमारे हाथ एक वीडियो लगा, जिसका डिस्क्रिप्शन था – “श्री सत्य साईं बाबा वरी भजन।” हमने इसके बाद इस फोटो को दोबारा से श्री सत्य साईं बाबा वरी भजन कीवर्ड्स के साथ गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया। इस बार हमारे हाथ Dec 30, 2012 को यूट्यूब पर अपलोड किया गया एक वीडियो लगा, किसका डिस्क्रिप्शन था- “मिडिल ईस्ट से HIS अरब भक्तों द्वारा सत्य साईं बाबा भजन।” इस वीडियो का डिटेल्ड डिस्क्रिप्शन था, “भगवान श्री सत्य साईं बाबा दैवीय अवतार हैं और दुनिया भर में 185 देशों में उनके लाखों अनुयायी हैं, जो सभी धर्मों को मानते हैं। यह वीडियो मिडिल-ईस्ट के उनके अरब भक्तों के भक्ति संगीत का संकलन है।” इस डिस्क्रिप्शन में कहीं भी इस कार्यक्रम की जगह की पुष्टि नहीं है।

हमने पुष्टि के लिए आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में स्थित पुट्टपर्थी साईं आश्रम में कॉल किया तो हमारी बात इनके PRO श्रीकांत दास से हुई। उन्होंने हमें बताया असल में यह वीडियो आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में स्थित पुट्टपर्थी साईं आश्रम का है, जहाँ 10 जुलाई 2012 को यह कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जिसमें भाग लेने मिडिल ईस्ट की कई जगहों से लोग आये थे। ये वीडियो किसी मस्जिद का नहीं, बल्कि उनके पुट्टपर्थी साईं आश्रम का है।

इस पोस्ट को Niraj Rajpurohit नाम के एक फेसबुक यूजर ने शेयर किया था। यूजर झारखण्ड का रहने वाला है।

पूरी पड़ताल यहाँ पढ़ें।

निष्कर्ष: हमारी पड़ताल में यह दावा गलत निकला। यह वीडियो दुबई की किसी मस्जिद का नहीं, बल्कि आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में स्थित पुट्टपर्थी साईं आश्रम का है, जहाँ 10 जुलाई 2012 को यह कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जिसमें भाग लेने मिडिल-ईस्ट की कई जगहों से लोग आए थे।

  • Claim Review : दुबई में मुस्लिम ओरतो ने नई पहल करते हुए मस्ज़िद में राम भजन प्रस्तुत किया और उनके शेख पतियों ने ताली बजाकर लय बद्ध उनका साथ दिया, हिन्दुस्तान में होता तो इस्लाम खतरे में आ जाता। शेयर किजिये और 125 करोड लोगो तक पहुचाये
  • Claimed By : Niraj Rajpurohit
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later