X

Fact Check: नारियल तेल से डेंगू रोकने का दावा फर्जी है

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि नारियल तेल की मदद से डेंगू फैलने से रोका जा सकता है। इस मैसेज को श्री साईसुधा हॉस्पिटल के डॉक्टर बी सुकुमार के नाम से आगे बढ़ाया जा रहा है। Time News International नाम के फेसबुक पेज पर इस पोस्ट को शेयर किया गया है।

क्या है वायरल पोस्ट में

सोशल मीडिया पर पोस्ट के रूप में एक मैसेज फैलाया जा रहा है। इसके मुताबिक, ‘यह मैसेज आप सभी लोगों को सूचित करने के लिए है कि डेंगू फैल रहा है। कृपया अपने घुटनों से लेकर नीचे पंजों तक नारियल का तेल लगाएं। यह एंटीबॉयोटिक है। डेंगू का मच्छर घुटनों से अधिक ऊंचाई पर नहीं उड़ सकता। इसे दिमाग में रख, इसका इस्तेमाल शुरू कर दें। इस मैसेज को जितना फैला सकते हैं उतना फैलाएं। आपका एक मैसेज कई जिंदगियां बच सकता है।’

इस मैसेज को श्री साईसुधा हॉस्पिटल के डॉ बी सुकुमार के नाम से आगे बढ़ाया जा रहा है।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने श्री साईसुधा हॉस्पिटल के डॉ बी सुकुमार से संपर्क कर अपने पड़ताल की शुरुआत की। हमने उनके नाम से वायरल हो रहे मैसेज के संदर्भ में उनसे बात की। डॉक्टर ने कहा, ‘यह मैसेज फर्जी है। मैंने ऐसा कोई बयान नहीं दिया है। यह मैसेज चार सालों से मेरे नाम से फैलाया जा रहा है। यह मेरे नाम का गलत इस्तेमाल कर रहा है। मैंने कभी ऐसा लेटर नहीं लिखा और न ही कभी डेंगू के लिए नारियल तेल के इस्तेमाल का नुस्खा दिया है।’

विश्वास न्यूज ने डेंगू रोकने के संबंध में ऑनलाइन मौजूद कई रिपोर्ट्स देखीं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, डेंगू वायरस मुख्य रूप से एडीज एजिप्टी प्रजाति की मादा मच्छरों से फैलता है।

हमने इस संबंध में डॉक्टर सजीव कुमार से भी संपर्क किया। उन्होंने कहा कि नारियल तेल डेंगू का कोई इलाज नहीं है।

यूएस नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसीन के मुताबिक, वर्जिन नारियल तेल में कुछ एंटीमाइक्रोबायल गुण होते हैं, लेकिन ऐसा कोई ट्रायल मौजूद नहीं है जो यह साबित करता हो कि यह एक्टिव इंफेक्शन में कारगर है।

ऐसा कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है जो यह साबित करे कि नारियल तेल डेंगू को रोक सकता है।

हमने इस पोस्ट को शेयर करने वाले फेसबुक पेज Time News International की सोशल प्रोफाइल को भी स्कैन किया। यह पेज 12 फरवरी 2016 को बनाया गया था और पड़ताल तक इसके 3 लाख 46 हजार 903 फॉलोवर्स थे।

निष्कर्ष

वायरल पोस्ट का यह दावा कि नारियल तेल डेंगू को रोक सकता है, फर्जी है। डॉक्टर बी सुकुमार ने डेंगू में नारियल तेल के इस्तेमाल का प्रिसिक्रिप्शन नहीं लिखा है। वायरल पोस्ट में उनके नाम का इस्तेमाल फर्जी है।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews।com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

जानिए सच्‍ची और झूठी सबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके क्विज खेले

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later