X

Fact Check: इजरायल में कोरोना वायरस से कोई मौत नहीं होना और नींबू व बाइकार्बोनेट की चाय से संक्रमण ठीक होने का दावा झूठा है

  • By Vishvas News
  • Updated: April 11, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। एक अप्रैल 2020 को सोशल मीडिया पर एक वायरल पोस्ट शेयर की गई है। इसमें दावा किया जा रहा है कि कोरोना (COVID-19) वायरस के संक्रमण से इजरायल में अबतक एक भी मौत नहीं हुई है। इसमें आगे दावा किया गया है कि नींबू और बाइकार्बोनेट से बनी चाय इस वायरस को तत्काल मार देती है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह वायरल दावा झूठा पाया गया है।

क्या है वायरल पोस्ट में

सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही इस पोस्ट में लिखा है, ‘इजरायल में C-19 से कोई मौत नहीं! उसने उन्हें एक शानदार खबर दी। मुझे जैसी खबर मिली है मैं वैसी ही इसे बता रहा हूं। C-19 वायरस का इलाज या इसे खत्म करने का तरीका खोज लिया गया। इजरायल से सूचना है कि वहां वायरस से कोई मौत नहीं हुई। रेसिपी सिंपल है। पहला नींबू, दूसरा बाइकार्बोनेट। मिलाइए और हर दोपहर को गरमागरम चाय की तरह पीजिए। नींबू और गर्म बेकिंग सोडा मिलकर वायरस को तुरंत मार देंगे, इसे पूरी तरह से आपके शरीर से खत्म कर देंगे। ये दो चीजें प्रतिरक्षा तंत्र को अल्कलाइज करते हैं, जब रात होती है तो सिस्टम एसिडिक हो जाता है और रक्षातंत्र कमजोर पड़ जाता है। यही वजह है कि इजरायल के लोग इस वायरस को लेकर रिलैक्स हैं। इजरायल में हर कोई रात में एक कप गर्म पानी में नींबू और थोड़ा बेकिंग सोडा मिला कर पीता, क्योंकि इसकी पुष्टि हो गई है कि यह वायरस को मारता है। मैंने इसे अपने परिवार और दोस्तों के साथ शेयर किया है, ताकि हम में से किसी को वायरस न पकड़े। अब मैं इसे आपपर छोड़ रहा हूं। कृप्या इसे तुरंत आगे बढ़ाएं।’

इस पोस्ट के आर्काइव्ड वर्जन को यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

इस वायरल पोस्ट का पहला दावा ये है कि इजरायल में अबतक कोरोना वायरस से किसी की मौत नहीं हुई है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में पता चला कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक, एक अप्रैल को 10:00 CET तक इजरायल में कोरोना वायरस के 5129 कन्फर्म केस थे और इससे 21 लोगों की मौत हो चुकी थी।

इसलिए इस पोस्ट का पहला दावा फर्जी निकला कि इजरायल में कोरोना वायरस से किसी की मौत नहीं हुई।

दूसरा दावा कह रहा है कि नींबू और बायकार्बोनेट से बनी गर्म चाय कोरोना वायरस को मार देती है।

विश्वास न्यूज को WHO के Covid-19 पर ताजा पीयर रिव्यूड साइंटिफिक फाइंडिंग डेटाबेस में कहीं भी नींबू या बायकार्बोनेट का जिक्र नहीं मिला।

वायरल पोस्ट का दावा है कि नींबू और बायकार्बोनेट इम्यून सिस्टम को अल्कलाइज कर देते हैं और इससे सिस्टम से कोरोना वायरस से निकल जाएगा।

यह फर्जी दावा इस थ्योरी से भी निकल सकता है कि अल्कलाइजिंग डाइट कैंसर को रोकती है। दिसंबर 2019 में एक ऐसी ही पोस्ट वायरल हुई थी, जिसमें दावा किया गया था कि बेकिंग सोडा कैंसर का इलाज कर सकता है। दावे में कहा गया था कि ये हमारे इम्यून सिस्टम को अल्कलाइज कर देता है और कैंसर सेल्स को बाहर निकाल देता है।

आंकोलॉजिस्ट डॉक्टर मनीष सिंघल के मुताबिक, इससे कोई मतलब नहीं है कि आप कितनी मात्रा में बायकार्बोनेट लेते हैं, आपकी किडनी इसे छानकर बाहर कर देगी। किसी शरीर का नेचुरल pH 7.35 से 7.45 है और ये इतना ही रहता है। हमारा शरीर इसे हमेशा संतुलित करता है, जबतक कि कुछ गड़बड़ी न हो जाए।

विश्वास न्यूज ने इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल के पल्मोनोलॉजिस्ट डॉक्टर निखिल मोदी से बात की। वह इस दावे को खारिज करते हुए कहते हैं, ‘यह फर्जी है। इसका कोई सबूत नहीं है कि गर्म चाय कोरोना वायरस का इलाज कर सकती है। अबतक कोरोना वायरस के संक्रमण का कोई इलाज नहीं है। इस दावे की विज्ञान पुष्टि नहीं करता।’

Mohan Kashira नाम के यूजर ने इस पोस्ट को फेसबुक पर शेयर किया है। हमने सोशल प्रोफाइलिंग की तो पता चला कि ये बेंगलुरु के रहने वाले हैं।

Disclaimer: कोरोनावायरसफैक्ट डाटाबेस रिकॉर्ड फैक्ट-चेक कोरोना वायरस संक्रमण (COVID-19) की शुरुआत से ही प्रकाशित हो रही है। कोरोना महामारी और इसके परिणाम लगातार सामने आ रहे हैं और जो डाटा शुरू में एक्यूरेट लग रहे थे, उसमें भी काफी बदलाव देखने को मिले हैं। आने वाले समय में इसमें और भी बदलाव होने का चांस है। आप उस तारीख को याद करें जब आपने फैक्ट को शेयर करने से पहले पढ़ा था।

निष्कर्ष: पोस्ट का यह दावा फर्जी है कि कोरोना वायरस से इजरायल में एक भी मौत नहीं हुई है। साथ ही यह दावा भी गलत है कि नींबू और बायकार्बोनेट को मिलाकर तैयार की गई गर्म चाय कोरोना वायरस के संक्रमण का इलाज कर सकती है।

  • Claim Review : इजरायल में कोरोना वायरस से कोई मौत नहीं , नींबू व बाइकार्बोनेट की चाय से संक्रमण ठीक
  • Claimed By : Fb user: Mohan Kashira
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later