X

Fact Check: चेचेन युद्ध पर बनी फिल्म का दृश्य रूसी सैनिकों के अत्याचार के गलत दावे के साथ वायरल

चेचेन युद्ध पर बनी पुरानी फिल्म के एक दृश्य को चेचेन युद्ध का बताकर मौजूदा रूस-यूक्रेन युद्ध के संदर्भ में गलत दावे से वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: March 14, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। रूस-यूक्रेन संघर्ष को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में कुछ सैनिकों को सामान्य नागरिकों पर गोली चलाते हुए देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है यह 1999 में यूक्रेनी सेना के चेचेन्या पर हमले से संबंधित है, जिसमें यूक्रेनी सैनिकों ने बेरहमी के साथ एक बूढ़े व्यक्ति को गोलियों से भून दिया था, जब वह अपनी पत्नी के साथ सूरत अल-फातिहा पढ़ रहे थे और अब बदले हुए समय में यूक्रेन को चेचेन सैन्य बलों के कहर का सामना करना पड़ रहा है।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा गलत और मगगढ़ंत निकला। वायरल हो रहा वीडियो किसी भी तरह के युद्ध या सैन्य संघर्ष से संबंधित नहीं है, बल्कि यह चेचेन युद्ध पर बनी फिल्म का दृश्य है, जिसे गलत संदर्भ में रूस-यूक्रेन सैन्य संघर्ष का बताकर वायरल किया जा रहा है।

क्या है वायरल?

फेसबुक यूजर ‘Babul Sayeedi’ ने वायरल वीडियो (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”क्या आप जानते हैं!?…
सन 1999 में जब #यूक्रेनी सेना #चेचन्या की जमीन पर दाखिल हुआ था और बिना रहम किए एक बूढ़े व्यक्ति को मार डाला था। वो भी तब जब वह अपनी बीवी के साथ सूरत अल-फातिहा पढ़ रहा था….😰आज वही कहानी उलट गई है और चेचन्या रूसी सेना के साथ प्रवेश करती है। यूक्रेनियन ने उनके साथ जो किया उसका बदला लेने के लिए….बेशक अल्लाह बेहतर बदला लेने वाला है *Allahuakbar ☝️”

गलत दावे के साथ वायरल हो रहे वीडियो का स्क्रीनशॉट

कई अन्य यूजर्स ने इस वीडियो को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है। वहीं, सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर भी इस वीडियो को समान दावे के साथ शेयर किया गया है।

पड़ताल


ब्लैक एंड व्हाइट फॉर्मेट के वायरल वीडियो में कुछ सैनिकों को एक बुजुर्ग पुरुष और महिला की गोली मारकर हत्या करते हुए देखा जा सकता है। वायरल वीडियो के की-फ्रेम्स को गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें कई पुराने लिंक्स मिले, जिसमें वायरल वीडियो के साथ किए गए दावे का खंडन करते हुए उसे एक फिल्म का फुटेज बताया गया है।

zen.yandex.by की वेबसाइट पर 14 अक्टूबर 2019 को प्रकाशित रिपोर्ट में इस्तेमाल की गई तस्वीर वायरल वीडियो का फुटेज है। दी गई जानकारी के मुताबिक, यह फिल्म ‘द सर्च’ का दृश्य है, जिसमें यूक्रेन के एक अभिनेता ने चेचेन युद्ध पर बनी फिल्म में रूसी सैनिक की भूमिका निभाई थी।

zen.yandex.by की वेबसाइट पर 14 अक्टूबर 2019 को प्रकाशित रिपोर्ट

सर्च में हमें एक अन्य वेबसाइट yablor.ru पर 21 अप्रैल 2015 को प्रकाशित रिपोर्ट मिली, जिसमें रूसी सैनिक का किरदार निभा रहे यूक्रेनी अभिनेता (मैक्सिम जैपिसोकनी) को फिल्म ‘द सर्च’ के निर्देशक के साथ देखा जा सकता है।

yablor.ru पर 21 अप्रैल 2015 को प्रकाशित रिपोर्ट

इस रिपोर्ट में भी वायरल वीडियो के फुटेज का इस्तेमाल किया गया है। दोनों ही आर्टिकल रूस-यूक्रेन युद्ध शुरू होने के पहले के हैं और दी गई जानकारी में साफ-साफ उल्लेख किया गया है कि यह चेचेन युद्ध पर बनी फिल्म का दृश्य है।

यूट्यूब पर यह फिल्म मौजूद है, जिसे 29 मार्च 2021 को अपलोड किया गया है।

गौरतलब है कि 1994 से 1996 के बीच रूस और चेचेन्या के बीच चेचेन युद्ध हुआ और चेचेन्या ने रूस से स्वतंत्र होने की घोषणा कर दी। हालांकि, दूसरे चेचेन युद्ध के दौरान रूस ने इस क्षेत्र को फिर से अपने नियंत्रण में ले लिया।

न्यूज रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूक्रेन पर हमले के दौरान चेचेन लड़ाके रूसी सैनिकों की मदद कर रहे हैं और इसी संदर्भ में वायरल वीडियो को शेयर किया जा रहा है।

रूस-यूक्रेन के बीच सैन्य संघर्ष का आज 19वां दिन है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, 24 फरवरी को रूस ने यूक्रेन पर हमला किया था और अब दोनों देशों के बीच इस सैन्य संघर्ष को खत्म करने की दिशा में कूटनीतिक कोशिशों में तेजी आई है।

दोनों देशों के बीच सैन्य संघर्ष की वजह से यूरोप में शरणार्थी समस्या गंभीर हो चली है। यूएनएचसीआर की रिपोर्ट के मुताबिक, अब तक करीब 27 लाख लोग यूक्रेन को छोड़ चुके हैं और इनमें से करीब 17 लाख लोगों ने पोलैंड का रुख किया है।

रूस-यूक्रेन सैन्य संघर्ष के साथ ही सोशल मीडिया पर ऐसे वीडियो और तस्वीरें वायरल हो रही है, जिसका इस युद्ध से कोई संबंध नहीं है। विश्वास न्यूज पर रूस-यूक्रेन युद्ध से संबंधित गलत और भ्रामक दावों की पड़ताल आधारित विस्तृत कवरेज को यहां क्लिक कर पढ़ा जा सकता है। वायरल वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर को फेसबुक पर करीब 30 हजार से अधिक लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: चेचेन युद्ध पर बनी फिल्म के एक दृश्य को चेचेन युद्ध का बताकर मौजूदा रूस-यूक्रेन युद्ध के संदर्भ में गलत दावे से वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : सन 1999 में जब #यूक्रेनी सेना #चेचन्या की जमीन पर दाखिल हुआ था और बिना रहम किए एक बूढ़े व्यक्ति को मार डाला था।
  • Claimed By : FB User-Babul Sayeedi
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later