X

Fact Check: कोलकाता में हिंसक प्रदर्शन के दौरान पुलिसवाले की गोली मारकर हत्या किए जाने का दावा गलत और दुष्प्रचार

कोलकाता में नूपुर शर्मा विवाद के बाद हुए हिंसक प्रदर्शन में पुलिसवाले की गोली माकर हत्या किए जाने का दावा गलत है। वायरल वीडियो कोलकाता में हुए शूटआउट का है, जब बांग्लादेशी डिप्टी हाई कमीशन से कुछ मीटर की दूरी पर एक पुलिसवाले ने अचानक से गोलीबारी शुरू कर दी थी, जिसमें एक महिला की मौत हो गई।

  • By Vishvas News
  • Updated: June 15, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि यह कोलकाता का है, जहां उन्मादियों ने हिंसक प्रदर्शन के दौरान एक पुलिसवाले की गोली मारकर हत्या कर दी।

विश्वास न्यूज ने अपनी जांच में पाया कि वायरल हो रहा वीडियो कोलकाता का ही है, लेकिन संबंधित घटना का कोलकाता में हुए किसी भी हिंसक प्रदर्शन से कोई संबंध नहीं है। वास्तव में यह मामला बांग्लादेशी हाई कमीशन के बाहर हुई घटना से संबंधित है, जिसमें एक पुलिसवाले ने फायरिंग कर दी, जिसमें एक महिला की मौत हो गई और बाद में उस कॉन्स्टेबल ने खुद को भी गोली मार ली थी। इस घटना का नूपुर शर्मा विवाद के बाद कोलकाता में हुए किसी भी विरोध प्रदर्शन से कोई लेना-देना नहीं है।

क्या है वायरल?

फेसबुक यूजर ‘अशोक पाण्डेय हिन्दू योद्धा’ ने वायरल वीडियो (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”Just in कोलकाता में दंगाइयों ने पुलिस वाले को मार डाला,,उसके बाद उसके साथी को भी धमकी दे रहे है।।।😡😡😡😡😡ममताबनर्जी।”

सोशल मीडिया पर गलत दावे के साथ वायरल रहे वीडियो का स्क्रीनशॉट

पड़ताल

वायरल वीडियो में सड़क पर एक पुलिसवाले का शव नजर आ रहा है। वीडियो के की-फ्रेम्स को रिवर्स इमेज सर्च करने पर एनडीटीवी के यूट्यूब चैनल पर 10 जून 2022 को अपलोड किया हुआ वीडियो बुलेटिन मिला, जिसमें नजर आ रहा दृश्य वायरल वीडियो से मेल खाता है।

दी गई जानकारी के मुताबिक, ‘कोलकाता में बांग्लादेश डिप्टी हाई कमीशन के बाहर तैनात एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने अचानक से गोलीबारी शुरू कर दी। इस गोलीबारी में एक महिला की भी मौत हो गई और बाद में उस कॉन्स्टेबल ने खुद को भी गोली मार ली।’ रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिसवाले की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

कई अन्य वीडियो रिपोर्ट में भी इस घटना का विवरण है। वन इंडिया न्यूज के यूट्यूब चैनल पर 10 जून 2022 को अपलोड किया गया वीडियो इसी घटना से संबंधित है।

हिन्दुस्तान टाइम्स की वेबसाइट पर 10 जून 2022 को प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, बांग्लादेश के डिप्टी हाई कमीशन से करीब 500 मीटर की दूरी पर लोअर रेंज रोड के पास एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने अचानक से गोलीबारी शुरू कर दी, जिसमें एक महिला की मौत हो गई। बाद में उस सिपाही ने खुद को भी गोली मार ली।

रिपोर्ट में कोलकाता के पुलिस कमिश्नर विनीत कुमार गोयल के हवाले से बताया गया है कि कॉन्स्टेबल चौदुप लेप्चा 10 दिनों की छुट्टी पर अपने घर गया था और छुट्टी खत्म होने के बाद उसने ड्यूटी ज्वाइन की थी। गोयल ने कहा, ‘यह स्पष्ट नहीं है कि उसने गोली क्यों चलाई। हम घटना के कारणों की जांच कर रहे हैं।’

टाइम्स नाउ न्यूज डॉट कॉम की 14 जून की रिपोर्ट के मुताबिक, कॉन्स्टेबल लेप्चा काल्पनिक एनकाउंटर फोबिया से ग्रसित था और वह अक्सर किसी छापेमारी अभियान में जाने से इनकार कर देता था।

स्पष्ट है कि वायरल हो रहा वीडियो किसी प्रदर्शन से संबंधित नहीं है, जिसमें पुलिसवाले की हत्या कर दी गई हो। वायरल वीडियो को लेकर हमने हमारे सहयोगी दैनिक जागरण के कोलकाता ब्यूरो चीफ जे के वाजपेयी से संपर्क किया। उन्होंने पुष्टि करते हुए बताया कि यह वीडियो पार्क सर्कस शूटआउट की घटना से संबंधित है, जिसमें एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने अचानक से गोलीबारी शुरू कर दी थी और इसमें एक महिला की मौत हो गई। बाद में पुलिसवाले ने खुद को भी गोली मार ली थी। उन्होंने कहा कि गोली चलाने वाले पुलिस कॉन्स्टेबल एनकाउंटर फोबिया से ग्रसित था।

न्यूज रिपोर्ट्स के मुताबिक, नूपुर शर्मा विवाद के बाद कोलकाता समेत देश के कई हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। बंगाल के हावड़ा में सर्वाधिक हिंसक प्रदर्शन हुआ और रिपोर्ट के मुताबिक, हावड़ा हिंसा में अब तक 60 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है और कई पुलिस अधिकारियों का भी तबादला किया गया है।

वायरल वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर ने स्वयं को उत्तर प्रदेश के जौनपुर का निवासी बताया है। यह प्रोफाइल विचारधारा विशेष से प्रेरित है।

निष्कर्ष: कोलकाता में नूपुर शर्मा विवाद के बाद हुए हिंसक प्रदर्शन में पुलिसवाले की गोली माकर हत्या किए जाने का दावा गलत है। वायरल वीडियो कोलकाता में हुए शूटआउट का है, जब बांग्लादेशी डिप्टी हाई कमीशन से कुछ मीटर की दूरी पर एक पुलिसवाले ने अचानक से गोलीबारी शुरू कर दी थी, जिसमें एक महिला की मौत हो गई। बाद में पुलिसवाले ने खुद को भी गोली मार ली, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

  • Claim Review : कोलकाता में दंगाइयों ने पुलिस वाले को मार डाला
  • Claimed By : FB User-अशोक पाण्डेय हिन्दू योद्धा
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later