X

Fact Check: बाबरी मस्जिद के नाम पर वायरल हो रही तस्वीर गुलबर्ग के जामिया मस्जिद की है

  • By Vishvas News
  • Updated: August 6, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर के भूमि पूजन के बाद सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसे बाबरी मस्जिद का बताया जा रहा है।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा गलत निकला। जिस तस्वीर को अयोध्या में (विध्वंस पूर्व) बाबरी मस्जिद का बताकर वायरल किया जा रहा है, वह वास्तव में कर्नाटक के गुलबर्ग में मौजूद जामिया मस्जिद की है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘অসমৰ ৰাজনীতি’ ने वायरल तस्वीर (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”#आज _ पूरी _ दुनिया _ के _ लिए _ काला _ दिन _ है । भारत की न्याय व्यवस्था ही एकमात्र ऐसी व्यवस्था है जहां बिना जानकारी के विश्वास और विश्वास के आधार पर किसी को संतुष्ट करने के लिए न्याय दिया जाता है । नाम पर सेक्युलर देश में अगर 500 साल की बाबरी मस्जिद टूट कर सेक्युलर देश के नाम पर मंदिर बनवाया जाए तो दुनिया के मुसलमानों के दिल में रहेगा कि मस्जिद थी आप सभी को शुभ रात्रि।”

बाबरी मस्जिद के दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर

पड़ताल किए जाने तक इस तस्वीर को करीब सात सौ से अधिक लोग शेयर कर चुके हैं। कई अन्य यूजर्स ने इस तस्वीर को सच मानते हुए इसे समान दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

गूगल रिवर्स इमेज सर्च किए जाने पर हमें यह तस्वीर फोटो एजेंसी alamy.com की वेबसाइट पर मिली। दी गई जानकारी के मुताबिक, यह तस्वीर कर्नाटक के गुलबर्ग में मौजूद जामिया मस्जिद की है।

Source-alamy.com

‘कलबुर्गी जामिया मस्जिद’ की-वर्ड से सर्च करने पर हमें यूट्यूब पर कई ऐसे वीडियो मिले, जिसमें गुलबर्ग का किला और इस मस्जिद की तस्वीरों को देखा जा सकता है।

28 सितंबर 2014 को ‘Dream Media’ नामक यूट्यूब चैनल पर अपलोड किए गए वीडियो में मस्जिद को देखा जा सकता है, जो वायरल हो रही तस्वीर से मेल खाती है।

हमारे सहयोगी दैनिक जागरण के अयोध्या के प्रभारी रिपोर्टर रमा शरण अवस्थी ने बताया, ‘वायरल हो रही तस्वीर के साथ किया जा रहा दावा निराधार है। यह बाबरी मस्जिद की तस्वीर नहीं है।’

अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन से पहले कई तस्वीरें और वीडियो गलत दावे के साथ वायरल हो चुकी हैं, जिसकी पड़ताल को विश्वास न्यूज पर पढ़ा जा सकता है।

वायरल पोस्ट को शेयर करने वाले पेज को करीब 18 हजार से अधिक लोग फॉलो करते हैं और यह पेज दिसंबर 2016 से सक्रिय है।

निष्कर्ष: अयोध्या में (विध्वंस पूर्व) बाबरी मस्जिद के दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर वास्तव में कर्नाटक के गुलबर्ग में मौजूद जामिया मस्जिद की है।

  • Claim Review : बाबरी मस्जिद की तस्वीर
  • Claimed By : FB User-অসমৰ ৰাজনীতি
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later