X

Fact Check: वायरल वीडियो में महिला को गलत तरीके से छूने वाले व्यक्ति नहीं हैं अजरबैजान के राष्ट्रपति

  • By Vishvas News
  • Updated: June 7, 2021

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया पर आजकल एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक व्यक्ति को एक महिला को गलत तरीके से छूते हुए देखा जा सकता है। वीडियो में मौजूद व्यक्ति एक ऑफिस में बैठा दिखता है, जिसके पीछे एक महिला आती है और कुछ फाइलें रखने लगती है, जिसके बाद यह व्यक्ति उस महिला को गलत तरीके से छूता है। मगर यह अहसास होने पर कि वो ऑनलाइन लाइव मीटिंग में है, वो अपना हाथ हटा लेता है। इस पोस्ट के साथ दावा किया जा रहा है कि वीडियो में मौजूद व्यक्ति अजरबैजान के राष्ट्रपति हैं। हमने अपनी पड़ताल में पाया कि इस वीडियो में दिख रहा व्यक्ति अजरबैजान का एक सांसद था, जिसे इस घटना के बाद बर्खास्त कर दिया गया। यह व्यक्ति अजरबैजान का राष्ट्रपति नहीं है।

क्या है वायरल पोस्ट में

वायरल पोस्ट में एक व्यक्ति एक ऑफिस में बैठा दिखता है, जिसके पीछे एक महिला आती है और कुछ फाइलें रखने लगती है, जिसके बाद यह व्यक्ति उस महिला को गलत तरीके से छूता है। मगर यह अहसास होने पर कि वो ऑनलाइन लाइव मीटिंग में है, वो अपना हाथ हटा लेता है। इस पोस्ट के साथ दावा किया जा रहा है “Azerbaijan president forgot to exit after zoom meeting ” जिसका हिंदी अनुवाद होता है “जूम मीटिंग के बाद बाहर निकलना भूले अजरबैजान के राष्ट्रपति”

इस पोस्ट का आर्काइव लिंक यहाँ देखा जा सकता है।

पड़ताल

वायरल पोस्ट पर कमेंट में एक यूजर ने लिखा है कि वीडियो में दिख रहे व्यक्ति का नाम हुसैनबाला मिरालामोव है। यहाँ से हिंट लेते हुए हमने ने इस वीडियो के InVID टूल की मदद से कीफ्रेम्स निकाले और उन्हें गूगल रिवर्स इमेज पर ‘हुसैनबाला मिरालामोव’ कीवर्ड के साथ सर्च किया। हमें इस मामले में खबर panatimes.com पर मिली। इस खबर के साथ वायरल वीडियो भी एम्बेडेड था। खबर के अनुसार, “अज़रबैजान के पूर्व सांसद और विश्वविद्यालय के प्रोफेसर हुसैनबाला मिरालामोव को कैमरे में अपनी महिला कर्मचारी को अनुचित तरीके से छूने के बाद निकाल दिया गया था।”

इस मामले में मिरालामोव ने unikal.org को एक इंटरव्यू भी दिया था, जिसमें उन्होंने बताया था कि यह घटना विश्वविद्यालय के एक सम्मेलन के दौरान हुई थी।

आपको बता दें कि हुसैनबाला मिरालामोव अजरबैजान के सांसद थे पर इस घटना के बाद उन्हें निष्काषित कर दिया गया। वे विश्वविद्यालय में शिक्षक भी हैं।

वहीं, अजरबैजान के राष्ट्रपति इल्हाम अलीयेव हैं। इल्हाम अलीयेव और हुसैनबाला मिरालामोव के नाक-नक्श में कोई समानता नहीं है। यह फर्क साफ़ तौर पर नीचे दिए हुए कोलाज में देखा जा सकता है।

इस विषय में हमने unikal.org के वेब एडिटर मार्टिल अज़ुकि से संपर्क साधा। उन्होंने हमें बताया कि “वीडियो में दिख रहा व्यक्ति हुसैनबाला मिरालामोव है। मिरालामोव अजरबैजान के राष्ट्रपति नहीं हैं। वायरल हो रहा दावा फर्जी है।”

इस फर्जी पोस्ट को शेयर करने वाले फेसबुक यूजर S Jana चेन्नई के रहने वाले हैं और उनके फेसबुक पर 1,716 फ्रेंड्स हैं।

निष्कर्ष: हमने अपनी पड़ताल में पाया कि इस वीडियो में दिख रहा व्यक्ति अजरबैजान का एक सांसद है, जिसे इस घटना के बाद बर्खास्त कर दिया गया। यह व्यक्ति अजरबैजान के राष्ट्रपति नहीं हैं।

  • Claim Review : Azerbaijan president forgot to exit after zoom meeting
  • Claimed By : S Jana
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later