X

Fact Check: आधार कार्ड को लेकर मुंबई पुलिस के नाम से वायरल हो रही ऑडियो क्लिप फर्जी

  • By Vishvas News
  • Updated: June 27, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर आधार कार्ड को लेकर एक ऑडियो क्लिप वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि मुंबई पुलिस की तरफ से इस ऑडियो क्लिप को जारी किया गया है, जिसमें आधार कार्ड के इस्तेमाल को लेकर जरूरी सूचना दी गई है।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। वायरल हो रहा ऑडियो क्लिप मुंबई पुलिस की तरफ से नहीं जारी किया गया है। मुंबई पुलिस का नाम लेकर इस ऑडियो क्लिप को शेयर किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक पेज ‘Sky News India’ ने ऑडियो क्लिप (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”आधार कार्ड बने हुए उनके लिए जरूरी सुचना | GOV. OF INDIA | Mumbai Police
जिनके आधार कार्ड बने हुए उनके लिए जरूरी सुचना – सभी सावधान रहे और ये रिकॉर्डिंग जरूर सुने और जल्दी से जल्दी आगे पहुँचाया जाये प्लीज़ – धन्यवाद।”

सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर अन्य यूजर्स ने इस ऑडियो क्लिप को मुंबई पुलिस की तरफ से जारी की गई वॉर्निंग के तौर पर शेयर किया है।

पड़ताल

वायरल हो रहा ऑडियो क्लिप मराठी भाषा में हैं, जिसका हिंदी में ऐसे पढ़ा जा सकता है।

‘एक महत्वपूर्ण सूचना: आपके मोबाइल पर आधार कार्ड वेरिफिकेशन से जुड़ी हुई कॉल किसी भी क्षण आ सकती है। उसी क्षण आप सतर्क हो जाएं। आपसे आपका आधार कार्ड नंबर पूछा जाएगा और फिर कहा जाएगा कि आइडिया, एयरटेल या वोडाफोन के मुख्य ऑफिस से बात कर रहा हूं। यह आवाज किसी महिला या पुरुष की हो सकती है। सामने से बात करने वाला मात्र हिंदी भाषी होता है। इस बात का भी ध्यान रखें। उनकी पूरी बात ध्यान से सुनें। यह वेरिफिकेशन कॉल हैं, ऐसा बताया जायेगा। आपके पास यदि आधार कार्ड होगा तो आपसे एक दबाने के लिए कहा जाएगा। इसके बाद आपसे आपके आधार कार्ड का नंबर पूछा जाएगा। आप सभी को पता है कि सभी के बैंक अकाउंट आधार कार्ड से जुड़े हुए होते हैं। आपसे बात करते समय और एक बटन दबाए ऐसा कहा जाएगा। इसके बाद आपके मोबाइल पर आया हुआ OTP नंबर तुरंत पूछा जाएगा। वह पासवर्ड बताते ही अगले ही पल आपके सारे अकाउंट से सारा पैसा निकाल लिया जाता हैं। इसके बाद वह कॉल कट हो जाता है और आपके कितना भी प्रयास करने के बाद उस नंबर पर दोबारा बात नहीं होती हैं। दोस्तों यह वस्तुस्थिति हैं। ऐसे नकली और बोगस कॉल से खुद को बचाएं। अपने परिवार को बचाएं। आप अपना आधार नंबर किसी को भी न बताएं। आपके बैंक अकाउंट में मेहनत से जमा पैसा आपकी एक चूक से खाली हो सकता हैं। अगर किसी भी मोबाइल कंपनी या बैंक को आपके आधार कार्ड के नंबर की आवश्यकता होती है तो उनके कर्मचारी उसकी एक कॉपी अपने ऑफिस में जमा करने के लिए कहते हैं। आपको उस ऑफिस में व्यक्तिगत तौर पर जाना पड़ता हैं, लेकिन ऐसे फंसाने वाले कॉल से हमेशा सावधान रहने की आवश्यकता है। यह ऑडियो अधिक से अधिक लोगों तक पहुचाएं। आपका विनम्र, लाइव महाराष्ट्र के लिए किशोर गावडे, भांडुप से।’

मुंबई पुलिस अपने वेरिफाइड ट्विटर हैंडल से लगभग सभी महत्वपूर्ण अपडेट को साझा करती रही है। मिसाल के तौर पर उन्होंने 25 जून को ट्वीट कर ईमेल के जरिए ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचने की सलाह दी है।

वायरल हो रहे ऑडियो क्लिप में आधार से जुड़े फर्जीवाड़ा को लेकर लोगों को आगाह किया जा रहा है, लेकिन हमें मुंबई पुलिस के ट्विटर हैंडल पर ऐसी कोई जानकारी या चेतावनी नहीं मिली, जो आधार कार्ड और उसके इस्तेमाल से जुड़ी हो।

इसके बाद हमने मुंबई पुलिस के प्रवक्ता और डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस प्रणय अशोक से संपर्क किया। उन्होंने कहा, ‘मुंबई पुलिस ने ऐसी कोई ऑडियो क्लिप नहीं जारी की है।’

आधार कार्ड बनाने वाली संस्था यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) समय-समय पर आधार कार्ड के इस्तेमाल और इसकी वजह से होने वाले फ्रॉड लेकर लोगों को सावधान करती रही है। हमें उनके आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर 17 मार्च 2018 को किया गया ट्वीट मिला, जिसमें उन्होंने बताया है कि अगर कोई व्यक्ति किसी सर्विस का इस्तेमाल करने के लिए इंटरनेट पर अपने आधार कार्ड का इस्तेमाल करता है, तो उन्हें विशेष सावधानी बरतनी चाहिए जैसा कि अन्य डिजिटल ट्रांजैक्शंस के दौरान होता है।

UIDAI के मुताबिक, ‘आधार अन्य आईडी कार्ड की तरह ही पहचान पत्र है और इसे किसी भी गोपनीय दस्तावेज की तरह नहीं देखा जा सकता। केवल आधार नंबर जानकर कोई किसी के साथ धोखाधड़ी नहीं कर सकता। इसके लिए बायोमेट्रिक जानकारी के सत्यापन की जरूरत होती है।’

वायरल ऑडियो क्लिप शेयर करने वाले पेज को लगभग दो हजार से अधिक लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: आधार कार्ड से जुड़ी धोखाधड़ी से बचने के लिए मुंबई पुलिस के नाम से वायरल हो रही ऑडियो क्लिप फर्जी है। मुंबई पुलिस की तरफ से ऐसी कोई चेतावनी नहीं जारी नहीं की गई है।

  • Claim Review : आधार कार्ड के इस्तेमाल को लेकर मुंबई पुलिस के नाम से वायरल हो रहा ऑडियो क्लिप
  • Claimed By : FB Page Sky News India
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later