X

Fact Check: पोलैंड के नेता का एक भी मुस्लिम को प्रवेश नहीं देने के बयान वाला वीडियो 2018 का है, यूक्रेन वार से नहीं है संबंध

पोलैंड के नेता डोमिनिक टार्जीस्की के बयान का यह वीडियो जुलाई 2018 के आसपास का है। इसका रूस—यूक्रेन यूद्ध से कोई संबंध नहीं है।

  • By Vishvas News
  • Updated: March 3, 2022
Ukraine Crisis, Russia Ukraine Crisis, Ukraine Fact Check, russia ukraine war, russia ukraine war news, russia ukraine war news in hindi, poland ukraine, poland ukraine border, Poland Leader Dominik Tarczyuski Video, Fact Check,

नई दिल्ली (फैक्ट चेक)। यूक्रेन और रूस युद्ध की वजह से लाखों लोग यूक्रेन से छोड़ चुके हैं। उसके पड़ोसी देश पोलैंड में हजारों लोगों ने शरण ली है। इस बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें न्यूज एंकर जब एक शख्स से पूछती हैं कि पोलैंड ने कितने शरणार्थियों को शरण दी है तो वह कहता है कि अगर आप मुझसे मुस्लिमों के अवैध इमिग्रेशन के बारे में पूछ रही हैं तो हम एक भी मुस्लिम को पोलैंड में प्रवेश नहीं करने देंगे। हमने 20 लाख यूक्रेनियन को देश में घुसने की अनुमति दी है, लेकिन एक भी मुस्लिम को घुसने नहीं देंगे। यह हमने अपनी जनता से वादा किया था। जनता हमारी सरकार से यह उम्मीद करती है। इस वजह से पोलैंड सुरक्षित है। हमारे यहां कोई आतंकी हमला नहीं हुआ। आप मुझे कुछ भी कहिए, लेकिन मैं अपने परिवार और देश की फिक्र करता हूं। वीडियो में इस शख्स की पहचान Dominik Tarczyuski MP, Polish Law and Justice Party के रूप में दी गई है। इस वीडियो हालिया यूक्रेन—रूस यूद्ध से जोड़कर वायरल किया जा रहा है। विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में पाया कि वीडियो 2018 का है। इसका रूस—यूक्रेन युद्ध से कोई संबंध नहीं है।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक पेज PK Support PM (आर्काइव) पर 25 फरवरी को यह वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा गया, मर्जी अपनी-अपनी
पोलैंड के सांसद का बयान, हम दो मिलियन युक्रेन शरणार्थी ले सकते है लेकिन एक भी मुस्लिम शरणार्थी नहीं…….

पड़ताल

वायरल वीडियो की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले InVID टूल की मदद से इसके कीफ्रेम्स निकाले और रिवर्स इमेज से यांडेक्स पर सर्च किया। इसमें हमें altcensored पर यह वीडियो मिला। 11 जुलाई 2018 को इसे अपलोड किया गया है।

इसको और सर्च करने पर हमें Oppressed Media यूट्यूब चैनल पर इस न्यूज का बड़ा वीडियो मिला। 23 जुलाई 2018 को इसे अपलोड किया गया है। इसके डिस्क्रिप्शन में लिखा है, Poland Law and Justice Party MP Dominik Tarczyński shocks Cathy Newman and German Green Party politician with truth. (पोलैंड लॉ एंड जस्टिस पार्टी के एमपी डोमिनिक ने सच से कैथी न्यूमैन और जर्मन ग्रीन पार्टी की राजनीतिज्ञ को चौंका दिया।)

कीवर्ड से इसको सर्च करने पर हमें thenewamerican पर भी हमें न्यूज में यह वीडियो मिला। इसमें लिखा है कि यूरोप में अब बदलाव देखा जा सकता है। कुछ साल पहले तक इमिग्रेशन के मुद्दे पर कोई सवाल नहीं उठाता था। इसके ताजा उदाहरण पॉलिश अधिकारी हैं।

30 अगस्त 2020 को oneindia में छपी खबर के अनुसार, पोलैंड कैथोलिक-ईसाई बहुल देश है। यहां मुस्लिमों की आबादी 15 हजार से 30 हजार के बीच है, जबकि यहां की कुल आबादी करीब 3.08 करोड़ है। पोलैंड में गैर ईसाई शरणार्थियों को पोलैंड में शरण देने के मुद्दे पर वहां के सांसद डोमिनिक टार्जीस्की ने एक बार कहा था कि वे नहीं चाहते कि पोलैंड पर बौद्ध, मुस्लिम या कोई और कब्जा कर ले।

इस बारे में पोलैंड की राजनीति पर लिखने वाले फ्रीलांस जर्नलिस्ट Tomasz Oryński ने कहा, वायरल वीडियो 2018 का है। यह तब का था, जब PiS सरकार सीरिया से प्रवासियों को लेने से इंकार कर रही थी और वे कह रहे थे कि यूक्रेन के सभी आर्थिक प्रवासी शरणार्थी हैं।

वीडियो को भ्रामक दावे के साथ वायरल करने वाले फेसबुक पेज PK Support PM को स्कैन किया। 16 फरवरी 2014 को बने इस पेज को 84 हजार से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं।

डिस्क्लेमर: इस खबर के लिए पोलैंड की राजनीति पर लिखने वाले फ्रीलांस जर्नलिस्ट Tomasz Oryński का बयान हमें लेट मिला था। उनका बयान हमारी पड़ताल की और पुष्टि करता है।

निष्कर्ष: पोलैंड के नेता डोमिनिक टार्जीस्की के बयान का यह वीडियो जुलाई 2018 के आसपास का है। इसका रूस—यूक्रेन यूद्ध से कोई संबंध नहीं है।

  • Claim Review : पोलैंड के सांसद ने कहा है, हम दो मिलियन युक्रेन शरणार्थी ले सकते है लेकिन एक भी मुस्लिम शरणार्थी नहीं
  • Claimed By : FB Page- PK Support PM
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later