X

Fact Check : नागपुर में दिनदहाड़े हुई हत्‍या को यूपी के IAS का मर्डर बताकर किया जा रहा है वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: October 13, 2020

नई दिल्‍ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया में एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें सड़क के बीचोंबीच दिनदहाड़े कार में सवार एक व्‍यक्ति की कुछ लोग बेहरमी से हत्‍या करते हुए देखे जा सकते हैं। दावा किया जा रहा है कि जिस व्‍यक्ति की हत्‍या हुई है, वह एक शिड्यूल कास्‍ट के आईएएस अफसर थे। इनकी बेटी के साथ दुष्‍कर्म की वारदात को भी अंजाम दिया गया। यह सब करने वाले संघ और भाजपा से जुड़े लोग थे। दावा किया गया कि घटना यूपी की है।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की जांच की। हमें पता चला कि वायरल पोस्‍ट झूठी है। महाराष्‍ट्र के नागपुर में जुए का अड्डा चलाने वाले एक व्‍यक्ति की हत्‍या के सीसीटीवी फुटेज को कुछ लोग यूपी का बताकर वायरल कर रहे हैं।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर मधु डी उरकनाकन ने 30 सितंबर को एक सीसीटीवी फुटेज अपलोड करते हुए दावा किया कि संघ और भाजपा के गुंडों ने यूपी में एक दलित IAS अफसर को मार डाला और कार में 16 साल की बेटी के साथ दुष्‍कर्म किया। अंग्रेजी में लिखा गया : ‘It is alleged that ruling Upper Caste Nazi RSSBJP goondas chopped to death a Scheduled Caste IAS officer in UP and raped his 16 year old daughter in the car, just because he neglects directions of RSS BJP not to distribute govt.’s alms to poor scheduled caste people. Where is the exact place of murder and rape?

फेसबुक पोस्‍ट का आर्काइव्‍ड वर्जन देखें।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले वायरल वीडियो को InVID टूल में अपलोड करके कई ग्रैब्‍स निकाले। इसके बाद इसे गूगल रिवर्स इमेज में सर्च करना शुरू किया। यह वीडियो हमें कई यूट्यूब चैनल पर मिला। 28 सितंबर को NEW J नाम के यूट्यूब चैनल पर इस वीडियो को अपलोड करते लिखा गया कि नागपुर में जुए का अड्डा चलाने वाले बाल्‍या किशोर बिनेकर (Balya Binekar) का सिग्‍नल पर मर्डर हुआ। पूरा वीडियो देखें।

इसके बाद हमने गूगल सर्च में संबंधित कीवर्ड टाइप करके खबरों को खोजना शुरू किया। हमें द लाइव नागपुर नाम की एक वेबसाइट पर खबर मिली। 26 सितंबर 2020 को पब्लिश्ड खबर में बाल्‍या बिनेकर की हत्‍या के बारे में बताया गया।

सर्च के दौरान हमें ANI का एक ट्वीट मिला। इसमें बताया गया कि हत्‍या के आरोप में नागपुर क्राइम ब्रांच ने चार आरोपियों को पकड़ा है।

पड़ताल के अगले चरण में हमने नागपुर के एएनआई के ब्‍यूरो चीफ सौरभ जोशी से संपर्क किया। उन्‍होंने पुष्टि की कि वायरल पोस्‍ट की घटना नागपुर की है। किशोर बिनेकर की हत्‍या के आरोप में नागपुर क्राइम ब्रांच ने कुछ लोगों को अरेस्‍ट भी किया है।

पड़ताल के अंत में हमने नागपुर की घटना को झूठे दावे के साथ यूपी की बताकर वायरल करने वाले फेसबुक यूजर मधु डी उरकनाकन के अकाउंट की जांच की। हमें पता चला कि यूजर को 1277 लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की जांच में यूपी के नाम पर वायरल पोस्‍ट फर्जी निकली। नागपुर में हुई हत्‍या को कुछ लोग यूपी की घटना बताकर वायरल कर रहे हैं।

  • Claim Review : यूपी में दलित आईएएस की दिनदहाड़े हत्‍या, बेटी से रेप।
  • Claimed By : फेसबुक यूजर मधु डी उरकनाकन
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later