X

Fact Check : देश के दूसरे सबसे बड़े कोविड सेंटर के नाम पर वायरल हुई कतर स्‍टेडियम की तस्‍वीर

  • By Vishvas News
  • Updated: June 9, 2021

विश्‍वास न्‍यूज (नई दिल्‍ली) सोशल मीडिया में एक तस्‍वीर वायरल हो रही है। इसे लेकर यूजर्स दावा कर रहे हैं कि यह तस्‍वीर राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ के द्वारा बनाए गए भारत के दूसरे सबसे बड़े कोविड केयर सेंटर की है। विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में वायरल पोस्‍ट फर्जी साबित हुई। जिसे कोविड सेंटर बताया जा रहा है, वह दरअसल कतर का अल बयात स्‍टेडियम है। इस पड़ताल को मराठी में भी पढ़ा जा सकता है।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर महेश तारी ने एक तस्‍वीर को वायरल करते हुए दावा करते हुए लिखा : ‘बहुत बढ़िया काम आरएसएस!!’

तस्‍वीर के ऊपर लिखा गया, “2nd largest Covid care center in India. RSS has built 6000 bed covid care center and 4 oxygen plants in 45 acres of land in Indore.”

फेसबुक पोस्‍ट का आर्काइव्‍ड वर्जन यहां देखें।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले वायरल हो रही तस्‍वीर को इंटरनेट पर ढूंढना शुरू किया। इसके लिए हमने गूगल रिवर्स इमेज टूल का उपयोग किया। सर्च के दौरान हम सीधे अल जजीरा की वेबसाइट पर पहुंचे। अल जजीरा की रिपोर्ट में 2022 में होने वाले फुटबॉल वर्ल्‍ड कप को लेकर बताया गया कि कतर कप के लिए तैयार है। खबर में उन 8 स्‍टेडियम के बारे में बताया गया, जहां मैच होने हैं। एक तस्‍वीर को अल बयात स्‍टेडियम का बताया गया, जो कि वायरल पोस्‍ट से मिलता-जुलता था।

पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए हमने गूगल में अल बयात स्‍टेडियम कीवर्ड टाइप करके सर्च किया। हमें ओरिजनल तस्‍वीर कतर ट्रिब्‍यून नाम की एक वेबसाइट पर मिली। यह इमेज हमें गेट्टी की वेबसाइट पर भी मिली। इसे 18 दिसंबर 2019 को पब्लिश किया गया था।

अब तक की पड़ताल से यह साबित हो गया था कि जिस तस्‍वीर को भारत के कोविड सेंटर की बता कर वायरल किया गया, वह दरअसल कतर के एक स्‍टेडियम की है। अब हमें यह जानना था कि क्‍या वाकई भारत में संघ ने देश का दूसरा सबसे बड़ा कोविड सेंटर बनवाया है। गूगल सर्च के दौरान हमें न्‍यूज 18 डॉट कॉम की एक खबर मिली। इस खबर में बताया गया कि इंदौर में 6200 बिस्‍तरों का देश का दूसरा सबसे बड़ा मॉडर्न कोविड केयर सेंटर बनाया गया। पूरी खबर में कहीं भी संघ का जिक्र नहीं था।

पड़ताल के अंतिम चरण में विश्‍वास न्‍यूज ने संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेंद्र कुमार से संपर्क किया। उन्‍होंने बताया कि वायरल तस्‍वीर संघ के दवारा बनाए गए कोविड सेंटर की नहीं है। वैसे भी संघ ने कोविड केयर सेंटर नहीं बनाया। उसने केवल मदद की थी।

अब बारी थी फर्जी पोस्‍ट करने वाले यूजर की जांच करने की। सोशल स्‍कैनिंग में हमें पता चला कि फेसबुक यूजर महेश तारी मुंबई का रहने वाला है। उसके 415 फ्रेंड हैं।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में वायरल पोस्‍ट फर्जी साबित हुई। जिस तस्‍वीर को भारत का दूसरा सबसे बड़ा कोविड सेंटर बताकर वायरल किया गया, वह कतर के एक स्‍टेडियम की तस्‍वीर है।

  • Claim Review : देश का दूसरा सबसे बड़ा कोविड सेंटर की तस्‍वीर
  • Claimed By : फेसबुक यूजर महेश तारी
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later