X

Fact Check : वर्ष 2019 की तस्‍वीर को अब किसान आंदोलन से जोड़कर किया जा रहा वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: February 3, 2021

नई दिल्‍ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया में एक व्‍यक्ति की तस्‍वीर वायरल हो रही है। नीली जींस और लाल स्‍वेटर पहने हुए इस शख्‍स के हाथ में डंडा है। यूजर्स दावा कर रहे हैं कि इस शख्‍स को किसान आंदोलन में लगाया गया है। इस शख्‍स के अलावा भी कई लोग बिना वर्दी के दिख रहे हैं।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की जांच की। हमें पता चला कि 2019 में जामिया में हुए विरोध प्रदर्शन के दौरान इन पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई थी। किसी भी धरने-प्रदर्शन में सादी वर्दी में पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाना आम बात है। इस तस्‍वीर का किसान आंदोलन से कोई संबंध नहीं है। हमारी जांच में वायरल पोस्‍ट फर्जी निकली।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर ‘दीपेंद्र सिंह हुड्डा – नेक्‍स्‍ट सीएम ऑफ हरियाणा’ के ग्रुप में एक तस्‍वीर को अपलोड करते हुए दावा किया कि यह किसान आंदोलन में ड्यूटी पर लगे पुलिस के जवान की इमेज है। अंग्रेजी में लिखा गया : ‘Great Delhi police jisme jeans aur sweatshirts daal kar kisan andolan mein duty krne bheja jata hai’

फेसबुक पोस्‍ट का आर्काइव्‍ड वर्जन यहां देखें।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले वायरल तस्‍वीर को गूगल रिवर्स इमेज टूल में अपलोड करके सर्च किया। हमें द प्रिंट की खबर मिली। खबर में उसी शख्‍स की तस्‍वीर का यूज किया गया था, जिसे अब किसान आंदोलन में तैनात बताया जा रहा है। 17 दिसंबर 2019 में पब्लिश खबर में डीसीपी (सेंट्रल) एम. एस. रंधावा के हवाले से बताया गया कि तस्‍वीर में दिख रहा शख्‍स एंटी ऑटो थेफ्ट स्‍क्‍वाड (AATS) का कॉन्स्‍टेबल अरविंद है।

खबर में बताया गया कि जामिया में हुए प्रदर्शन के दौरान कानून-व्‍यवस्‍था बनाए रखने के लिए इनकी ड्यूटी लगाई गई थी। पूरी खबर को यहां क्लिक करके पढ़ें।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल तस्‍वीर को दैनिक जागरण, दिल्‍ली के क्राइम रिपोर्टर राकेश सिंह से संपर्क किया। उन्‍होंने बताया कि वायरल हो रही तस्‍वीर 2019 में जामिया में हुए प्रोटेस्‍ट के दौरान की है।

किसान आंदोलन के नाम पर वायरल हो रही पुलिसकर्मी की इस तस्‍वीर को लेकर दिल्‍ली पुलिस के अतिरिक्‍त जनसंपर्क अधिकारी एसीपी अनिल मित्तल का कहना है कि इस तस्‍वीर का वर्तमान से कोई संबंध नहीं है। यह पुरानी तस्‍वीर है।

पड़ताल के अंत में हमने उस यूजर की जांच की, जिसने फर्जी पोस्‍ट अपलोड की। हमें पता चला कि फेसबुक यूजर ‘दीपेंद्र सिंह हुड्डा – नेक्‍स्‍ट सीएम ऑफ हरियाणा’ को पांच सौ लोगों ने लाइक किया।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की जांच में वायरल पोस्‍ट फर्जी निकली। 2019 में जामिया में हुए विरोध प्रदर्शन के दौरान डयूटी पर लगाए गए कॉन्स्‍टेबल की तस्‍वीर अब किसान आंदोलन से जोड़कर वायरल की जा रही है।

  • Claim Review : किसान आंदोलन में तैनात पुलिस जवान की तस्‍वीर
  • Claimed By : दीपेंद्र सिंह हुड्डा - नेक्‍स्‍ट सीएम ऑफ हरियाणा'
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later