X

Fact Check: राजस्थान के भीलवाड़ा में श्मशान घाट में भाइयों के बीच संपत्ति को लेकर हुई लड़ाई का वीडियो गलत दावे के साथ वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: June 9, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में कुछ लोगों को आपस में लड़ते हुए देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि यह लड़ाई शव को जलाने के लिए लकड़ियों की कमी के कारण श्मशान घाट में हुई। दो पक्षों में हुई यह लड़ाई इस बात को लेकर हुई कि शव का दाह संस्कार पहले कौन करेगा

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। श्मशान घाट में हुई लड़ाई का यह वीडियो भाइयों के बीच आपसी विवाद का नतीजा था। इसका श्मशान में लकड़ियों की कमी जैसे दावे के साथ कोई लेना-देना नहीं है। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान देश के कई राज्यों के अलग-अलग हिस्सों में मौजूद श्मशान घाटों में लकड़ियों की कमी की खबरें आई थी और वायरल हो रहे वीडियो को उसी संदर्भ से जोड़कर साझा किया जा रहा है।

क्या है वायरल वीडियो में?

फेसबुक यूजर ‘Md Shahid Iqubal’ ने अपनी प्रोफाइल से वीडियो (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”यह लड़ाई सिर्फ इस बात पर हो रही है, श्मशान में मुर्दा जलाने के लिए लकड़ी पहले हमे मिले. आखिर हम किस मुकाम पर आ गए है?…. सोचो और सोचो…।”

ट्विटर पर भी कई अन्य यूजर्स ने इस वीडियो को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

वायरल हो रहे वीडियो के की-फ्रेम्स को रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें यह वीडियो inkhabar के वेरिफाइड यूट्यूब चैनल पर पांच मई 2021 को अपलोड किए गए वीडियो बुलेटिन में लगा मिला।

दी गई जानकारी के मुताबिक, यह घटना राजस्थान के भीलवाड़ा की है, जहां पिता की मौत के बाद श्मशान में ही तीन भाइयों के बीच मारपीट हो गई।

न्यूज सर्च में हमें tv9hindi.com की वेबसाइट पर 7 मई को प्रकाशित खबर मिली, जिसमें इस घटना का जिक्र किया गया है। खबर में लगी तस्वीर इस वीडियो का एक हिस्सा है।

tv9hindi की वेबसाइट पर 7 मई को प्रकाशित खबर

खबर के मुताबिक, ‘भीलवाड़ा के सांगनेर कस्बे में पिता की मौत के तीन दिन बाद श्मशान घाट पर अस्थियां चुनने के दौरान तीनों बेटों में पैतृक संपत्ति में हिस्सेदारी को लेकर झगड़ा हो गया। झगड़े का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।’

वायरल वीडियो के साथ किए गए दावे की सत्यता को जांचने के लिए विश्वास न्यूज ने सांगनेर कस्बे के एएसआई राजेंद्र पाल सिंह ने कहा, ‘यह मई महीने की घटना है और अस्थियां चुनने के दौरान मृतक रामप्रताप राव के तीनों बेटों के बीच लड़ाई हो गई। पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज की थी। हालांकि, तीनों में सुलह होने के बाद यह मामला अब सुलझ गया है।’

सिंह ने कहा, ‘इस घटना का श्मशान घाट में लकड़ियों की कमी जैसे दावे से कोई लेना-देना नहीं है।’

वायरल वीडियो को गलत दावे के साथ साझा करने वाले यूजर ने अपनी प्रोफाइल में खुद को बिहार के जहानाबाद का रहने वाला बताया है।

निष्कर्ष: राजस्थान के भीलवाड़ा के सांगनेर कस्बा के श्मशान घाट में तीन भाइयों के बीच हुई लड़ाई के वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। तीनों भाइयों के बीच पैतृक संपत्ति के विवाद को लेकर झगड़ा हुआ था, जिसे श्मशान घाट में लकड़ियों की कमी के गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later