X

Fact Check: पुलिसवाले की पिटाई का ये वीडियो सूरत का नहीं, मप्र के खरगोन का है

  • By Vishvas News
  • Updated: September 26, 2019

नई दिल्‍ली (विश्‍वास टीम)। सोशल मीडिया पर आजकल एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें कुछ महिलाएं एक पुलिसकर्मी को सड़क पर पीटती नज़र आ रहीं हैं। वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि सूरत हाईवे पर इस पुलिसकर्मी को अवैध वसूली करने पर पीटा गया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि दो महिलाएं पुलिसकर्मी को बीच सड़क पर, डंडे से पीटते हुए कहीं ले जा रही हैं, जबकि उनके पीछे कुछ लोगों की भीड़ चलती दिख रही है। हमने अपनी पड़ताल में पाया कि ये दावा सही नहीं है। असल में ये वीडियो मध्य प्रदेश के खरगोन में स्थित महेश्वर का है जब आबकारी विभाग को ये सूचना मिली थी कि महेश्वर में एक घर में अवैध शराब का व्यापार चल रहा है और शराब बेची जा रही है। इस पर आबकारी विभाग के अधिकारी पुलिस बल के साथ घर में छापा मारने पहुंचे थे। जिसके बाद ये घटना हुई।

CLAIM

वायरल पोस्ट में एक वीडियो है, जिसमें कुछ महिलाएं एक पुलिसकर्मी को सड़क पर पीटती नज़र आ रहीं हैं। वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है, “सूरत हाईवे पर नाजायेक वसुली करनें वालें पुलिस कर्मियों का पिटाई का विडियो जरुर देखें और आगे शेर करे ये पुलिस वाला इतनी हद करता था कि जिसके पास पुरा कगजात होते हुए भी पैसा लेता था अब ये हाल देखिए इसका। “

FACT CHECK

हमें इस वीडियो का एक और वर्जन मिला जिसमें इसी वीडियो को दूसरे एंगल से फिल्माया गया था। वीडियो में कई गाड़ियां देखी जा सकती हैं और सबकी नंबर प्लेट पर MP (मध्य प्रदेश) लिखा था।

इस पोस्ट की पड़ताल करने के लिए हमने इस वीडियो को Invid टूल पर डाला और कीफ्रेम्स को गूगल रिवर्स इमेज पर “Women beat policeman” कीवर्ड्स के साथ ढूँढा। सर्च में हमारे हाथ टाइम्स नाउ हिंदी की एक खबर लगी जिसमें इस घटना के बारे में लिखा था। खबर के अनुसार, ‘खरगोन आबकारी विभाग को सूचना मिली थी कि एक घर में अवैध तरीके से शराब का व्यापार चल रहा है और शराब बेची जा रही है। इस पर आबकारी विभाग के अधिकारी पुलिस बल के साथ घर में छापा मारने पहुंचे थे,लेकिन जब आबकारी विभाग के अधिकारियों ने छापा मारा, तो उन्हें वहां शराब नहीं मिली।’ खबर के अनुसार, ये घटना मध्य प्रदेश के खरगोन के महेश्वर की है।

हमें ये खबर वन इंडिया की वेबसाइट पर भी मिली। खबर वीडियो फॉर्मेट में थी जिसमें बताया गया था, “खरगोन जिले के महेश्वर नगर के वार्ड क्रमांक 8 में चल रहे अवैध शराब के कारोबार पर दबिश देने गए पुलिस अधिकारी को महिलाओं ने जमकर पीटा।”

ये खबर आज तक पर भी मिली। इसके अनुसार भी ये घटना मध्य प्रदेश की है।

ज़्यादा पुष्टि के लिए जागरण के खरगोन संवाददाता विवेक वर्द्धन श्रीवास्तव ने सुनील कुमार पांडेय एसपी,खरगोन (एमपी) से बात की तो उन्होंने कहा, “मप्र के खरगोन जिले में लगातार शराब के अवैध कारोबार व व्यावसायियों पर आबकारी और पुलिस प्रशासन लगातार कार्रवाई कर रहा है।12 सितंबर को इसी जिले के महेश्वर मुख्यालय पर अवैध कारोबारियों ने कार्रवाई के दौरान टीम पर हमला किया। यहां तक कि महिलाओं ने आबकारी सब इंस्पेक्टर मोहन लाल भायल पर हमला कर मारपीट की। ये वीडियो वहीं का है। उनकी सर्विस रिवॉल्वर व मोबाइल भी लुटा गया था। महिलाओं पर प्रकरण दर्ज किया गया है।”

इस पोस्ट को Jagdish B नाम के फेसबुक यूजर ने शेयर किया था। इनके कुल 680 फेसबुक फ्रेंड्स हैं।

निष्कर्ष: हमने अपनी पड़ताल में पाया कि ये दावा सही नहीं है। असल में ये वीडियो सूरत का नहीं, बल्कि मध्य प्रदेश के खरगोन में स्थित महेश्वर का है। आबकारी विभाग को ये सूचना मिली थी कि महेश्वर के एक घर में अवैध शराब का व्यापार चल रहा है।आबकारी विभाग के अधिकारी पुलिस बल के साथ घर में छापा मारने पहुंचे थे। जिसके बाद ये घटना हुई।

  • Claim Review : सूरत हाइवे पर नाजायेक वसुली करनें वालें पुलिस कर्मियों का पिटाई का विडियो जरुर देखें और आगे शेर करे ये पुलिस वाला इतनी हद करता था कि जिसके पास पुरा कगजात होते हुए भी पैसा लेता था अब ये हाल देखिए इसका
  • Claimed By : Jagdish B
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later