X

Fact Check : डिप्रेशन पर शेयर किए गए दीपिका के पुराने वीडियो को फिल्म ‘पठान’ से जोड़कर किया जा रहा शेयर

विश्वास न्यूज ने पड़ताल में पाया कि अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के पुराने वीडियो को फिल्म पठान के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन से जोड़कर गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। हमारी जांच में यह दावा भ्रामक। वीडियो 2018 से सोशल मीडिया पर मौजूद है।

  • By Vishvas News
  • Updated: December 19, 2022
Deepika Padukone Old video

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। पठान फिल्म में शाहरुख़ खान और दीपिका पादुकोण पर फिल्माए गीत ‘बेशर्म रंग’ को लेकर सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक जमकर विरोध किया जा रहा है। कुछ लोगों द्वारा फिल्म को बायकॉट करने की अपील की जा रही है। अब इसी से जोड़कर अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का 1 मिनट 43 सेकंड का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है, जिसमें दीपिका को कहते हुए सुना जा सकता है,’मुझे सुबह उठने में डर लगता है। मैं जागना नहीं चाहती। मुझे सोते रहने में अच्छा लगता है, क्योंकि ये बचने का सबसे अच्छा तरीका है। अब कुछ लोग वीडियो को शेयर करते हुए दावा कर रहे हैं कि फिल्म पठान के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन को देखकर दीपिका पादुकोण दुखी हैं।

विश्वास न्यूज़ ने वायरल वीडियो क्लिप की जांच की और दावे को भ्रामक पाया। असल में 10 अक्टूबर 2018 में वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे के मौके पर दीपिका पादुकोण ने लोगों से डिप्रेशन को गंभीरता से लेने की हिदायत देते हुए खुद से जुड़ा एक वाकया शेयर किया था,जिसे अब पठान से जोड़कर गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर  ‘काशी टॉक ’ ने 17 दिसंबर को वायरल क्लिप को शेयर किया है। इसमें दावा किया गया है: पठान’ फिल्म के विरोध प्रदर्शन को लेकर अभिनेत्री दीपिका पादुकोण हुई भावुक
मैं सुबह उठने से डरती हूँ, मेरे लिए सोकर उठना सबसे बड़ा संघर्ष था- दीपिका पादुकोण
मुझे डर लग रहा है- दीपिका पादुकोण
मेरे लिए हर एक दिन चुनौती थी- दीपिका पादुकोण
@deepikapadukone #Pathan #PathanMovie “

ऐसे ही एक अन्य फेसबुक पेज “फेकूजी ” ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है,”दीपिका पादुकोण श्री प्रकाश पादुकोण की बेटी है, फिल्म स्टार श्री रणवीर की पत्नी हैं। फिल्मों को लेकर देश में कैसा माहौल भाजपाइयों ने और उनकी सरकार ने बना दिया है। आँखों में ये आँसू…. इस फिल्म को दुनियाभर में शोहरत मिलेगी और 500 करोड़ रु0 से ज्यादा का व्यापार करेगी यह फ़िल्म।

फेसबुक पर कई अन्य यूजर्स ने इस पोस्ट को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है।

पोस्ट का आर्काइव लिंक यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के वायरल हो रहे वीडियो की पड़ताल के लिए हमने वीडियो के स्क्रीनशॉट को स्निप्पिंग टूल से कट कर के गूगल इमेज पर सर्च किया। हमें वायरल वीडियो से जुड़ी कई न्यूज़ रिपोर्ट्स मिली। एनडीटीवी डॉट कॉम पर 10 अक्टूबर 2018 को प्रकाशित खबर में वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट का इस्तेमाल करते हुए बताया गया, “वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे पर दीपिका पादुकोण ने अपने प्रशंसकों से मानसिक बीमारी से जूझने की अपनी कहानियों को साझा करने का आग्रह किया था। पोस्ट किए गए वीडियो में दीपिका ने बताया कि उन्हें 2014 में क्लीनिकल डिप्रेशन का पता चला था। वीडियो में दीपिका ने अपने डिप्रेशन से जूझने के बारे में भी बात की थी।

सर्च के दौरान हमें वायरल वीडियो का पूरा भाग द लाइव लव लाफ फाउंडेशन के यूट्यूब चैनल द्वारा 10 अक्टूबर 2018 को अपलोड मिला। वीडियो के साथ कैप्शन लिखा गया था,“दीपिका को अपनी कहानी साझा करने में शर्म नहीं है। उन्होंने उन लोगों द्वारा महसूस की गई शर्म को दूर किया है, जो मानसिक बीमारी से प्रभावित हैं।”

वीडियो में दीपिका को यह कहते हुए सुना जा सकता है, “मुझे सुबह बिस्तर से उठने में डर लगता था। मैं जागना नहीं चाहती थी। मुझे सोते रहने में अच्छा लगता था, क्योंकि ये उससे बचने का सबसे अच्छा तरीका था। सुबह उठना एक संघर्ष की तरह था.. मुझे अच्छा नहीं लगता था। मुझे अलार्म की आवाज से डर लगता था। हां.. बिस्तर से उठने में मुझे डर लगता था, क्योंकि मैं दिन का सामना करना नहीं चाहती थी। मैं अपने आसपास के लोगों से काफी डरी थी। मैं टूट जाऊंगी। ”  

सर्च के दौरान हमें पता चला कि लाइव लव लाफ फाउंडेशन की स्थापना 2015 में अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने की थी। फाउंडेशन ने एक कैंपेन #NotAshamed की शुरुआत की थी, जिसका मकसद उन लोगों को प्रेरित करना है, जो मेंटल हेल्थ से जुड़ी किसी समस्या का सामना कर रहे हैं। इसी कैंपेन में दीपिका ने अपने डिप्रेशन और एंग्जाइटी के अनुभव पर खुलकर बात की थी,ताकि दूसरे भी उनसे प्रेरित हो सकें।

वायरल वीडियो से जुड़ी अन्य न्यूज़ रिपोर्ट्स को यहां पढ़ा जा सकता है। हमारी अब तक की जांच से यह बात साफ़ हुई कि वायरल वीडियो पुराना है, जिसे अब गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। अधिक जानकारी के लिए हमने मुंबई में एंटरटेनमेंट के वरिष्ठ पत्रकार पराग छापेकर से बात की। उनके साथ वायरल वीडियो को शेयर किया। इस बारे में उनका कहना है, “वीडियो पुराना है। यह बात उन्होंने अपने डिप्रेशन के बारे में बताते हुए कही थी। इसका फिल्म पठान या हाल-फिलहाल से कोई संबंध नहीं है।

पड़ताल के अंत में हमने पुराने वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले पेज की जांच की। जांच में पता चला कि इस पेज को 55 लोग फॉलो करते हैं। फेसबुक पर इस पेज को 27 अक्टूबर को बनाया गया है।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज ने पड़ताल में पाया कि अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के पुराने वीडियो को फिल्म पठान के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन से जोड़कर गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। हमारी जांच में यह दावा भ्रामक। वीडियो 2018 से सोशल मीडिया पर मौजूद है।

  • Claim Review : पठान फिल्म के विरोध प्रदर्शन को लेकर अभिनेत्री दीपिका पादुकोण हुई भावुक।
  • Claimed By : फेसबुक पेज : काशी टॉक
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later