X

Fact Check: नेशनल ज्योग्राफिक ने नहीं खरीदा है यह वीडियो; चीतों के साथ खेल रही महिला का वीडियो गलत दावे के साथ वायरल

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। महिला के चीतों को वश में करने के वीडियो को नेशनल ज्योग्राफिक द्वारा खरीदे जाने का दावा गलत है।

  • By Vishvas News
  • Updated: July 20, 2021

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में एक महिला को काफी सारे चीतों के बीच उनसे खेलते और उन्हें वश में करते देखा जा सकता है। पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि इस वीडियो फुटेज को दक्षिण अफ्रीका के क्रूगर नेशनल पार्क में शूट किया गया था और नेशनल ज्योग्राफिक ने इसे 1,00,000 डॉलर में खरीदा है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला।

क्या है फेसबुक पोस्ट में?

फेसबुक यूजर Somender Singh ने वायरल वीडियो को शेयर करते हुए लिखा, ”THIIS FILM SOLD FOR $1,000,000 TO NATIONAL GEOGRAPHIC. IT is virtually impossible not to keep watching this footage which was captured by a guy on his cell phone at Kruger National park. The video was sold to National Geographic for $1 million dollars. It has been declared one of the best short videos on wildlife by animal lovers. The girl in this video has some guts (so does the camera guy) 👇”

पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है

पड़ताल

हमने सबसे पहले Invid टूल की मदद से इस वीडियो के स्क्रीनग्रैब्स निकाले। फिर इन स्क्रीनग्रैब्स को हमने गूगल रिवर्स इमेज पर “woman taming cheetahs ” कीवर्ड्स के साथ सर्च किया। हमें दैनिक भास्कर के वेरिफाइड यूट्यूब चैनल पर 2015 में एक वीडियो अपलोडेड मिला, जिसमें इस वीडियो के बारे में जानकारी थी। इसके अनुसार, वीडियो में दिख रही महिला का नाम मार्लिस वान वुरेन है, जो अपने पालतू चीतों के साथ हैं। खबर में इस वीडियो के 1 मिलियन डॉलर में बिकने की बात कहीं नहीं कही गयी थी।

यहाँ से क्लू लेते हुए हमें इन कीफ्रेम्स को मार्लिस वान वुरेन कीवर्ड्स के साथ सर्च किया। हमें इस वीडियो के क्लिप के साथ मार्लिस के बारे में www.wanderlust.co.uk पर डिटेल्स मिलीं। इस खबर में भी इस वीडियो के 1 मिलियन डॉलर में बिकने की बात कहीं नहीं कही गयी थी।

खोजने पर हमें पता चला कि मार्लिस और उनके पति डॉ रूडी वान वुरेन एक साथ नामीबिया, अफ्रीका में ‘नानकुस वन्यजीव अभयारण्य’ चलाते हैं। मार्लिस 13 साल की उम्र से जानवरों के साथ फिल्म निर्माण में काम कर रही हैं और उन्होंने कई प्रसिद्ध फिल्मों के लिए काम किया है।

हमने इस विषय में पुष्टि के लिए नामीबिया के नानकुस फाउंडेशन और वन्यजीव अभयारण्य में कॉल किया। यहाँ हमारी बात नानकुस मीडिया विभाग की हेड कोप्लिन मेरिन से हुई। उन्होंने हमें बताया कि वीडियो में दिख रही महिला मार्लिस वान वुरेन हैं। कोप्लिन ने ये भी बताया कि वायरल वीडियो लगभग 12 साल पुराना है। पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि ये अफवाह है और यह वीडियो 100000 डॉलर में नहीं खरीदा गया है।

अब हमने नेशनल ज्योग्राफिक के यूट्यूब चैनल पर इस वीडियो को कीवर्ड्स सर्च की मदद से ढूंढा। मगर हमें कहीं भी यह वीडियो नहीं मिला। हालांकि, हमें 2 वीडियो ज़रूर मिले, जहां नेशनल ज्योग्राफिक चैनल ने 2019 में मार्लिस वान वुरेन और उनके पति डॉ. रूडी वान वुरेन दोनों का इंटरव्यू लिया था। इंटरव्यू में यह कहीं भी नहीं बताया गया था कि उनके पालतू चीतों के साथ उनका फुटेज नेशनल ज्योग्राफिक चैनल को 1 मिलियन डॉलर में बेचा गया था।

वायरल वीडियो शेयर करने वाले फेसबुक यूजर Somender Singh के 2,983 Followers हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। महिला के चीतों को वश में करने के वीडियो को नेशनल ज्योग्राफिक द्वारा खरीदे जाने का दावा गलत है।

  • Claim Review : THIIS FILM SOLD FOR $1,000,000 TO NATIONAL GEOGRAPHIC
  • Claimed By : Somender Singh
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later