X

Fact Check: वायरल हो रहा वीडियो नहीं है एमडीएच के मालिक धर्मपाल गुलाटी के अंतिम समय का वीडियो

  • By Vishvas News
  • Updated: December 5, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। एमडीएच के मालिक धर्मपाल गुलाटी के निधन के बाद से ही सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में उन्हें हॉस्पिटल के बेड पर लेटे देखा जा सकता है, जबकि उनके पास खड़े कुछ लोगों में से एक व्यक्ति देशभक्ति गीत गा रहा है। दावा किया जा रहा है कि यह धर्मपाल गुलाटी के अंतिम समय का वीडियो है।

विश्वास न्यूज ने पड़ताल में पाया कि वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक है। यह वीडियो धर्मपाल गुलाटी का ही है, लेकिन इसे​ पिछले साल सितंबर—अक्टूबर में शूट किया गया था, यह उनका अंतिम वीडियो नहीं है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

सोशल मीडिया पर इस वीडियो को कई लोगों ने शेयर किया है। फेसबुक पेज Himanshu Singh Rajawat – Police officer Raj. ने भी इस वीडियो को शेयर करते हुए कैप्शन ​में लिखा — मसाला किंग महाशय धर्मपाल जी (MDH) की आख़िरी समय की तस्वीरें, आख़िरी समय में भी उनका दिल देश के लिए ही धड़कता रहा…

पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।

विश्वास न्यूज को वॉट्सऐप चैटबॉट नंबर 9599299372 पर भी इस पोस्ट को फैक्ट चेक करने की रिक्वेस्ट मिली।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने सबसे पहले सोशल मीडिया पर शेयर किए गए इस वीडियो के कमेंट्स पढ़ना शुरू किया। इस वीडियो को एबीपी न्यूज के जर्नलिस्ट विकास भदौरिया ने भी शेयर किया था, जिनकी पोस्ट पर गगन आहूजा नामक यूजर ने कमेंट करते हुए लिखा कि वीडियो में लाल टीशर्ट में गाना गाता हुआ व्यक्ति अंबाला का रहने वाला उनका बड़ा भाई राकेश आहूजा है।

हमें गगन आहूजा का फेसबुक पोस्ट भी मिला, जिसमें उन्होंने वायरल वीडियो के साथ राकेश आहूजा को टैग किया था।

विश्वास न्यूज ने राकेश आहूजा से संपर्क किया, जिन्होंने बताया कि वायरल हो रहा वीडियो धर्मपाल गुलाटी के अंतिम समय का वीडियो नहीं है। यह वीडियो पिछले साल सितंबर या अक्टूबर में शूट किया गया था। उस समय गुलाटी दिल्ली के जनकपुरी स्थित माता चंदन देवी हॉस्पिटल में एडमिट थे। यह उनका खुद का ही हॉस्पिटल है। हमने वहां डॉक्टर की परमिशन लेकर यह गाना गाया था। महाशय को म्यूजिक का बहुत शौक था और जहां भी म्यूजिक सुनते थे, वे खुशी से झूम उठते थे। इस वीडियो में भी आप देख सकते हैं कि वे साथ एन्जॉय कर रहे हैं।

राकेश ने बताया कि अंबाला में वे एमडीएच मसालों के डिस्ट्रीब्यूटर हैं, लिहाजा धर्मपाल गुलाटी से उनका मिलना होता रहता था। इसलिए जब पता चला कि महाशय बीमार हैं और अस्पताल में हैं तो हम उनसे मिलने गए थे।

फेसबुक पर यह पोस्ट  Himanshu Singh Rajawat – Police officer Raj. नामक पेज पर साझा की गई थी। पेज की प्रोफाइल स्कैन करने पर हमने पाया कि खबर लिखे जाने तक इस पेज को 45036 लोग फॉलो कर रहे थे।

निष्कर्ष: वायरल हो रहा वीडियो एमडीएच के मालिक धर्मपाल गुलाटी के अंतिम समय का वीडियो नहीं है। वायरल पोस्ट भ्रामक है।

  • Claim Review : एमडीएच के मालिक धर्मपाल गुलाटी के अंतिम समय का वीडियो।
  • Claimed By : Facebook page:Himanshu Singh Rajawat - Police officer Raj.
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later