X

Fact Check: कुतुब मीनार पर नहीं जगमगाया रूस का झंडा, गलत दावा हुआ वायरल

दिल्ली में कुतुब मीनार की इमारत को रूस के झंडे के रंगों की रोशनी से नहीं जगमगाया गया है, बल्कि यह आयुष मंत्रालय के कार्यक्रम के तहत हुआ है। कुतुब मीनार को आजादी के अमृत महोत्सव और प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना थीम की रोशनी से जगमगाया गया था।

  • By Vishvas News
  • Updated: March 8, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। रूस—यूक्रेन युद्ध के बीच सोशल मीडिया पर रोशनी में जगमगाते हुए कुतुब मीनार की कुछ फोटो वायरल हो रही हैं। दावा किया जा रहा है कि भारत ने रूस के समर्थन में कुतुब मीनार को रूस के झंडे से जगमगा दिया है। विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में दावे को गलत पाया। दरअसल, कुतुब मीनार आजादी के अमृत महोत्सव और जन औषधि थीम से जगमगाया था।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक यूजर Olga Kovač ने 7 मार्च को रोशनी में नहाए कुतुब मीनार की फोटो पोस्ट करते हुए लिखा,
India has just lit Kutub Minar with the colors of the Russian flag and appropriately called it “NECTOR FREEDOM! “
Proud of the stand India has taken. The principles are important. Never give in to a genocide bully. (भारत ने अभी-अभी कुतुब मीनार को रूसी ध्वज के रंगों से जगमगाया है। इसे ‘नेक्टर फ्रीडम!’ कहा है। भारत ने जो रुख अपनाया है, उस पर गर्व है। सिद्धांत महत्वपूर्ण हैं।)

सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट

पड़ताल

वायरल दावे की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले फोटो को ध्यान से देखा। कुतुब मीनार पर लाइट से प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना लिखा हुआ दिखा।

इसके बाद कीवर्ड से इसे सर्च किया। 8 मार्च 2022 को indiatv में छपी खबर के मुताबिक, चीन के मीडिया ने इस तरह का दावा किया था। मीडिया की तरफ से 7 मार्च को ट्वीट करके कहा गया था कि दिल्ली स्थित कुतुब मीनार की इमारत को रूसी झंडे के रंगों से रोशन किया गया है। ट्वीट में कुछ तस्वीरों का इस्तेमाल किया गया है, जिसमें कुतुब मीनार नीले और लाल रंग की रोशनी में नहाया हुआ दिख रहा है। जबकि इमारत को प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना थीम के रंगों में रंगा गया था।

इस बारे में और पड़ताल करने पर हमें Pradhan Mantri Bhartiya Janaushadhi Pariyojana के ट्विटर हैंडल से किया गया ट्वीट मिला। इसमें वायरल फोटो से मिलती-जुलती फोटो पोस्ट की गई हैं। इसमें लिखा है, Qutub Minar illuminated with Azadi Ka Amrit Mahotsav and Jan Aushadhi theme from 5-7th March 2022. (5—7 मार्च 2022 के दौरान कुतुब मीनार आजादी का अमृत महोत्सव और जन औषधि परियोजना थीम से जगमगा रहा है।)

दिल्ली दैनिक जागरण के चीफ रिपोर्टर वीके शुक्ला के अनुसार, एएसआई का कहना है कि आयुष मंत्रालय का कार्यक्रम था। उसी आधार पर उसको कलर दिया गया था। रूस के झंडे वाली बात गलत है।

कुतुब मीनार की फोटो को गलत दावे से वायरल करने वाली फेसबुक यूजर Olga Kovač की प्रोफाइल को हमने स्कैन किया। वह सर्बिया में रहती हैं।

निष्कर्ष: दिल्ली में कुतुब मीनार की इमारत को रूस के झंडे के रंगों की रोशनी से नहीं जगमगाया गया है, बल्कि यह आयुष मंत्रालय के कार्यक्रम के तहत हुआ है। कुतुब मीनार को आजादी के अमृत महोत्सव और प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना थीम की रोशनी से जगमगाया गया था।

  • Claim Review : भारत ने रूस के समर्थन में कुतुब मीनार को रूस के झंडे से जगमगा दिया है
  • Claimed By : FB User- Olga Kovač
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later