X

Fact Check: वीडियो में दिख रहे शख्स नहीं हैं सुप्रीम कोर्ट के जज

वीडियो में दिख रहे शख्स का नाम राजीव वेदेरा है। वह सुप्रीम कोर्ट के जज नहीं, बल्कि एक निजी संस्थान के चेयरमैन हैं। उनके वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: June 13, 2022
Viral Video, Supreme Court Judge, Patiala News, Thapar Institute of Engineering & Technology, Fact Check, Fake News,

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर यूजर्स 50 सेकंड का एक वीडियो शेयर कर रहे हैं। इसमें एक शख्स जिंदगी जीने का तरीका बता रहा है। यूजर्स वीडियो पोस्ट करके दावा कर रहे हैं कि सुप्रीम कोर्ट के जज एक मिनट में जिंदगी के बारे में बता रहे हैं। विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में दावे को गलत पाया। वीडियो में दिख रहे शख्स सुप्रीम कोर्ट के जज नहीं, बल्कि एक निजी संस्थान के चेयरमैन हैं।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक यूजर Nitish Jha (आर्काइव लिंक) ने 11 जून को वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा,

Supreme Court Judge Explains Life In a Minute

पड़ताल

वायरल वीडियो की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले इसके कीफ्रेम्स निकालकर गूगल रिवर्स इमेज से सर्च किया। इसमें हमें Thapar Institute of Engineering & Technology के यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो मिला। इसे 15 नवंबर 2021 को अपलोड किया गया है। इसमें 17:40 मिनट के बाद वायरल वीडियो को देखा जा सकता है। इसके डिस्क्रिप्शन में लिखा है कि थापर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के चेयरमैन राजीव वेदेरा ने 35वीं वार्षिक कन्वोकेशन के मौके पर संबोधित किया।

कीवर्ड से राजीव वेदेरा के बारे में सर्च करने पर bilt पर पब्लिश एक रिपोर्ट मिली। इसमें कहीं भी नहीं लिखा है कि वह सुप्रीम कोर्ट के जज हैं या रह चुके हैं।

इसकी अधिक पुष्टि के लिए हमने पटियाला स्थित थापर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के रजिस्ट्रार डॉ. हरविंदर सिंह से बात की। उनका कहना है, ‘वायरल वीडियो संस्थान के चेयरमैन राजीव का है। व​ह सुप्रीम कोर्ट के जज नहीं हैं और न इससे पहले रहे हैं। सोशल मीडिया पर गलत मैसेज वायरल हो रहा है।

वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले फेसबुक पेज ‘नितिश झा‘ को हमने स्कैन किया। 12 सितंबर 2020 को बने इस पेज को 7500 से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: वीडियो में दिख रहे शख्स का नाम राजीव वेदेरा है। वह सुप्रीम कोर्ट के जज नहीं, बल्कि एक निजी संस्थान के चेयरमैन हैं। उनके वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : सुप्रीम कोर्ट के जज एक मिनट में जिंदगी के बारे में बता रहे हैं।
  • Claimed By : FB User- Nitish Jha
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later