X

Fact Check : विवेकानंद पर बनी फिल्म के वीडियो को उनका असली वीडियो बताकर किया जा रहा शेयर

शिकागो में स्वामी विवेकानंद के भाषण’ के असली वीडियो के नाम पर वायरल क्लिप फर्जी निकली। यह क्लिप ‘विवेकानंद बाय विवेकानंद” नामक एक डॉक्युमेंट्री फिल्म का हिस्सा है, जिसे अब गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: January 18, 2023
Swami Vivekananda Speech

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि यह 13 सितंबर 1983 को शिकागो में स्वामी विवेकानंद के भाषण का असली वीडियो है।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल दावा गलत साबित हुआ। वायरल वीडियो में नजर आ रहे शख्स कन्‍नड़ मूवी के एक्टर बालाजी मनोहर हैं। यह वीडियो असली घटना का नहीं, बल्कि स्वामी विवेकानंद की आत्मकथा पर बनी एक फिल्म का सीन का है। इसे अब गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘कपिल गुप्ता’ ने 18 जनवरी 2023 को वीडियो शेयर करते हुए लिखा है, “दुर्लभ ओरिजनल वीडियो शायद कितने ही भाई होंगे जिन्होंने आजतक हिदू ह्रदय सम्राट श्री स्वामी विवेकानंद जी को देखा भी नही होगा जिन्होंने डूबते हुए सनातन धर्म को बचाया उन्ही  श्री स्वामी विवेकानंद जी के व्याख्यान का ये एक दुर्लभ वीडियो जो स्वामी विवेकानन्द ने अमेरिका के शिकागो में 13 सितम्बर1893 को दिया। जरूर सुनें ।”

सोशल मीडिया पर अन्य यूजर इस पोस्ट को मिलते-जुलते दावों के साथ शेयर कर रहे हैं। पोस्ट के आर्काइव वर्जन को यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

स्वामी विवेकानंद के नाम पर वायरल हो रहे वीडियो की पड़ताल के लिए हमने संबंधित कीवर्ड (स्वामी विवेकानंद शिकागो 1983) लिखकर गूगल पर सर्च किया। हमें यह वीडियो “Vivekananda Samiti, IIT Kanpur” के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया हुआ मिला। वीडियो को 2 जनवरी 2016 को पोस्ट किया गया था। कैप्शन में दी गई जानकारी के मुताबिक, यह वीडियो “Vivekananda by Vivekananda” मूवी के दृश्य का है। यह फिल्म स्वामी विवेकानंद के जीवन पर आधारित है।

सर्च के दौरान हमें वायरल वीडियो वाला दृश्य “Sri Ramakrishna Math Chennai”  के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर 28 सितंबर 2018 को अपलोड किया हुआ मिला। वीडियो के साथ डिस्क्रिप्शन लिखा गया था, “स्वामी विवेकानंद की आत्मकथा | उन्ही के शब्दों में | Vivekananda Ki Atmakatha” दी गई जानकारी के मुताबिक, “श्री रामकृष्ण मठ, चेन्नई इस फिल्म के निर्माता है।” वीडियो में वायरल वीडियो के हिस्से को 13 मिनट 34 सेकंड से लेकर 15 मिनट 58 सेकंड के बीच में देखा जा सकता है।

कई और यूट्यूब चैनल्स पर यह वीडियो देखा जा सकता है। अधिक जानकारी के लिए हमने श्री रामकृष्ण मठ, चेन्नई से मेल के जरिए संपर्क किया। मेल का जवाब देते हुए उन्होंने बताया,”यह वीडियो कुछ साल पहले हमारे मठ द्वारा जारी “विवेकानंद बाय विवेकानंद” नामक एक डॉक्युमेंट्री का है। जो व्यक्ति विवेकानंद के रूप में दिख रहे हैं, वह कर्नाटक के एक्टर बालाजी मनोहर हैं।”

पहले भी यह वीडियो समान दावे के साथ सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है। इसकी जांच विश्वास न्यूज़ ने की थी। आप हमारी पहले की पड़ताल को यहां पढ़ सकते हैं।

विश्वास न्यूज ने पड़ताल के अंत में फर्जी पोस्ट को शेयर करने वाले यूजर कपिल गुप्ता की सोशल स्कैनिंग की। प्रोफाइल पर दी गई जानकारी के मुताबिक, यूजर उत्तर प्रदेश के आगरा का रहने वाला है।

निष्कर्ष: शिकागो में स्वामी विवेकानंद के भाषण’ के असली वीडियो के नाम पर वायरल क्लिप फर्जी निकली। यह क्लिप ‘विवेकानंद बाय विवेकानंद” नामक एक डॉक्युमेंट्री फिल्म का हिस्सा है, जिसे अब गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

  • Claim Review : स्‍वामी विवेकानंद का शिकागो भाषण का असली वीडियो।
  • Claimed By : फेसबुक यूजर -कपिल गुप्ता
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later