X

Fact Check: श्रीराम कृष्णन नहीं बने ट्विटर के नए सीईओ, वायरल दावा गलत

विश्वास न्यूज की पड़ताल में श्रीराम कृष्णन को ट्विटर का नया सीईओ बनाए जाने का वायरल दावा गलत साबित हुआ। अभी तक ट्विटर की कमान एलन मस्क के हाथ में है। श्रीराम कृष्णन ट्विटर के प्रोजेक्ट्स में मदद कर रहे हैं। अभी तक ट्विटर के नए सीईओ के नाम का ऐलान नहीं किया गया है।

  • By Vishvas News
  • Updated: November 9, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। एलन मस्क ने ट्विटर को खरीदने के बाद कई चौकाने वाले फैसले लिए हैं। उन्होंने सैकड़ों कर्मचारियों को ट्विटर से निकाल दिया। इसी बीच ट्विटर से जुड़ी एक पोस्ट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। सोशल मीडिया पर एक पोस्ट को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि एलन मस्क ने श्रीराम कृष्णन को ट्विटर का नया सीईओ बना दिया है।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल दावा गलत साबित हुआ। अभी तक ट्विटर की कमान एलन मस्क के हाथ में है। श्रीराम कृष्णन ट्विटर के प्रोजेक्ट्स में मदद कर रहे हैं। अभी तक ट्विटर के नए सीईओ के नाम का ऐलान नहीं किया गया है।

क्या है वायरल पोस्ट में ?

फेसबुक यूजर राजेश वर्मा ने 2 नवंबर 2022 को वायरल पोस्ट को शेयर किया है। पोस्ट पर लिखा हुआ है, “बड़ी खबर :श्री “राम कृष्णम्” होंगे Twitter के नए “CEO”…पूरे विश्व में बज रहा “हिंदुत्व” का ..जय श्रीराम।”

सोशल मीडिया पर अन्य यूजर इस पोस्ट से मिलते-जुलते दावों को शेयर कर रहे हैं। पोस्ट के आर्काइव वर्जन को यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

वायरल दावे की सच्चाई जानने के लिए हमने गूगल पर संबंधित कीवर्ड्स से सर्च किया। इस दौरान हमें दावे से जुड़ी एक रिपोर्ट रॉयटर्स की आधिकारिक वेबसाइट पर मिली। रिपोर्ट को 1 नवंबर 2022 को प्रकाशित किया गया था। दी गई जानकारी के अनुसार, ट्विटर को खरीदने के बाद एलन मस्क ने कहा था कि वो ट्विटर के सीईओ के तौर पर खुद काम करेंगे।

न्यूयॉर्क टाइम्स में 4 नवंबर 2022 को प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, एलन मस्क ने ट्विटर के सीईओ का पद संभाल लिया है। सीईओ बनते ही एलन मस्क ने कंपनी को लेकर कई अहम फैसले लिए हैं। एलन मस्क ने कई बड़े अधिकारियों सहित कंपनी के कई कर्मचारियों को निकाल दिया है।

सर्च के दौरान हमें ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं मिली, जिसमें बताया गया हो कि श्रीराम कृष्णन ट्विटर के नए सीईओ हैं।

पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए हमने श्रीराम कृष्णन के आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट्स को खंगालना शुरू किया। इस दौरान हमें दावे से जुड़ा एक ट्वीट उनके 31 अक्टूबर 2022 को पोस्ट हुआ मिला। ट्वीट में श्रीराम कृष्णन ने बताया है कि वो ट्विटर के कुछ प्रोजेक्ट्स में अस्थाई तौर पर मस्क की सहायता करेंगे। इसके बाद उन्होंने एक अन्य ट्वीट करते हुए बताया कि वो अभी भी Andreessen Horowitz (A16z) कंपनी से जुड़े हुए हैं और उसके लिए अभी भी काम कर रहे हैं। हमें श्रीराम कृष्णन के सोशल मीडिया अकाउंट्स पर कहीं भी ये जानकारी नहीं मिली कि वो ट्विटर के नए सीईओ बन गए हैं। कई न्यूज वेबसाइट ने भी इस खबर को प्रकाशित किया है।

हिंदुस्तान लाइव में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, श्रीराम कृष्णन एक जाने-माने टेक्नोलॉजिस्ट और इंजीनियर हैं। वो ट्विटर, मेटा और माइक्रोसॉफ्ट में बतौर प्रोडक्ट हेड काम कर चुके हैं। वो एक इन्वेस्टर भी हैं, श्रीराम कृष्णन नए स्टार्टअप में इन्वेस्ट करते हैं।

अधिक जानकारी के लिए हमने ट्विटर के एक पूर्व अधिकारी से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि वायरल दावा गलत है। श्रीराम कृष्णन ट्विटर के लिए अस्थाई तौर काम कर रहे हैं। उन्हें अभी तक सीईओ नहीं बनाया गया है।

विश्वास न्यूज ने पड़ताल के अंत में फर्जी पोस्ट को शेयर करने वाले यूजर राजेश वर्मा की सोशल स्कैनिंग की। प्रोफाइल पर दी गई जानकारी के मुताबिक, यूजर दिल्ली का रहने वाला है। राजेश वर्मा के तकरीबन 5 हजार मित्र हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की पड़ताल में श्रीराम कृष्णन को ट्विटर का नया सीईओ बनाए जाने का वायरल दावा गलत साबित हुआ। अभी तक ट्विटर की कमान एलन मस्क के हाथ में है। श्रीराम कृष्णन ट्विटर के प्रोजेक्ट्स में मदद कर रहे हैं। अभी तक ट्विटर के नए सीईओ के नाम का ऐलान नहीं किया गया है।

  • Claim Review : श्रीराम कृष्णन को ट्विटर का नया सीईओ बनाया गया।
  • Claimed By : राजेश वर्मा
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later