X

Fact Check: वायरल वीडियो में दिख रहा शख्स हिमालया कंपनी के मालिक नहीं, सुप्रीम कोर्ट के वकील हैं

वायरल वीडियो में दिख रहे शख्स हिमालया कंपनी के मालिक नहीं, बल्कि सुप्रीम कोर्ट के एडवोकेट भानु प्रताप सिंह हैं। वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: July 18, 2022
Supreme court advocate, himalaya company owner, fact check, fake news,

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर 1.40 मिनट का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें कोट पहने एक शख्स रिलायंस और पतंजलि के उत्पादों के बहिष्कार की बात कर रहा है। उसके आसपास खड़े लोग सीएए, एनपीआर और एनआरसी के विरोध के झंडे लिए हुए हैं। वीडियो में वह एक सभा को संबोधित करता दिख रहा है। वीडियो को शेयर करके यूजर्स दावा कर रहे हैं कि वीडियो में दिख रहे शख्स हिमालया कंपनी के मालिक मोहम्मद मनल हैं। 

विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में पाया कि वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है। वीडियो में रिलायंस और पतंजलि के प्रोडक्ट्स की बहिष्कार की बात करने वाले शख्स सुप्रीम कोर्ट के वकील भानु प्रताप सिंह हैं। उनका हिमालया कंपनी से कोई संबंध नहीं है। 

क्या है वायरल पोस्ट में 

फेसबुक यूजर ‘हरियाणा जंक्शन‘ (आर्काइव लिंक) ने 6 जुलाई को वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा,

ये है Himalaya कंपनी का मालिक मोहम्मद मनल। देखिए कैसे जहर उगल रहा है।कृपया जल्दी इस पोस्ट को आगे शेयर करे।ये है Himalaya कंपनी का मालिक मोहम्मद मनल। देखिए कैसे जहर उगल रहा है। Himalaya का नाम सुन के हम भावुक हो जाते है लेकिन आगे से सच्चाई देखिए। इसके प्रोडक्ट हम ब्यूटी से लेकर आयुर्वेदिक मेडीशन तक खरीदते है कृपया शतर्क हो जाएं।

सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट।

पड़ताल 

वायरल दावे की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले वीडियो को ध्यान से देखा। इस पर Times Express, Voice Of Democracy का लोगो लगा हुआ है। यूट्यूब पर हमने इसे कीवर्ड से सर्च किया। इसमें हमें 25 जनवरी 2020 को Times Express यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया गया वीडियो मिला। इसमें 4.35 मिनट के बाद वायरल वीडियो को देखा जा सकता है। वीडियो का टाइटल है, हिंदुस्तानी कहना बंद करो – भानु प्रताप सिंह! CAA पर मुसलमानों के बीच मचाया तहलका। इसके डिस्क्रिप्शन में लिखा है कि सीएए को लेकर वकील भानु प्रताप सिंह ने दिल्ली के मुस्तफाबाद में धरने पर बैठे लोगों को संबोधित किया। 

10 जनवरी 2021 को News24 के यूट्यूब चैनल पर भी अपलोड की गई वीडियो में वायरल वीडियो में दिख रहे शख्स को देखा जा सकता है। इसके टाइटल में लिखा है, किसान आंदोलन: सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई से पहले सीनियर वकील भानु प्रताप सिंह से जानिए कल क्या होगा…।


हिमालय कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, एम. मनल हिमालया कंपनी के संस्थापक हैं। 1930 में कंपनी की शुरुआत हुई थी। 1986 में एम. मनल का निधन हो गया था। 

इसकी अधिक पुष्टि के लिए हमने वकील भानु प्रताप सिंह से बात की। उनका कहना है,’वीडियो में दिख रहा शख्स मैं ही हूं। मुस्तफाबाद में मैंने लोगों को संबोधित किया था। मेरा हिमालया कंपनी से कोई संबंध नहीं है। यह पहले भी कई बार गलत नाम से वायरल हो चुका है।

इससे पहले भी वीडियो गलत दावे के साथ शेयर किया जा चुका है। विश्वास न्यूज की पड़ताल को यहां पढ़ा जा सकता है। 

वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले फेसबुक पेज ‘हरियाणा जंक्शन‘ को हमने स्कैन किया। 27 मार्च 2020 को बने इस पेज को 2871 लोग फॉलो करते हैं। 

निष्कर्ष: वायरल वीडियो में दिख रहे शख्स हिमालया कंपनी के मालिक नहीं, बल्कि सुप्रीम कोर्ट के एडवोकेट भानु प्रताप सिंह हैं। वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : वीडियो में दिख रहे शख्स हिमालय कंपनी के मालिक मोहम्मद मनल हैं।
  • Claimed By : FB User- हरियाणा जंक्शन
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later