X

Fact Check: ऑनलाइन पढ़ाई के लिए 3 महीने का रिचार्ज फ्री में देने का दावा झूठा, वायरल लिंक पर क्लिक करना खतरनाक

विश्वास न्यूज की पड़ताल में भारत सरकार की तरफ से तीन महीने का फ्री रीचार्ज मिलने का ये दावा झूठा निकला है। फ्री रिचार्ज के नाम पर स्पैम लिंक वायरल किया जा रहा है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, ऐसे लिंक पर क्लिक करने से आपको वित्तीय नुकसान भी उठाना पड़ सकता है।

  • By Vishvas News
  • Updated: July 22, 2021

विश्वास न्यूज (नई दिल्ली)। सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल की जा रही है, जिसमें दावा किया गया है कि भारत सरकार ऑनलाइन पढ़ाई के लिए सभी Jio, Airtel या Vi यूजर्स को 3 महीने वाला रीचार्ज प्लान फ्री में दे रही है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में ये दावा झूठा निकला है। फ्री रिचार्ज के नाम पर स्पैम लिंक वायरल किया जा रहा है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, ऐसे लिंक पर क्लिक करने से आपको वित्तीय नुकसान भी उठाना पड़ सकता है।

क्या हो रहा है वायरल

विश्वास न्यूज को अपने फैक्ट चेकिंग वॉट्सऐप चैटबॉट (+91 95992 99372) पर ये दावा फैक्ट चेक के लिए मिला है। कीवर्ड्स से सर्च करने पर हमें यही दावा फेसबुक पर भी मिला। फेसबुक यूजर Bali Ram Mourya की ओर से 19 जुलाई को फेसबुक पर एक पोस्ट शेयर करते हुए लिखा गया है कि भारत 🇮🇳 सरकार द्वारा Online पढ़ाई के लिए सभी भारतीय यूजर्स को 3 महीने वाला Recharge Plan फ्री में दिया जा रहा है।

अगर आपके पास Jio , Airtel या Vi का Sim हैं तो आप इस ऑफर का लाभ उठा सकते है। मैंने फ्री रिचार्ज पाया, आप भी कर सकते हो। नोट:- नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करके अपना फ़्री रीचार्ज प्राप्त करें 👉🏼 https://www.claimoffer.in 👉🏼 https://www.claimoffer.in कृपया ध्यान दे: यह ऑफर केवल 29 JULY 2021 तक ही सिमित है! जल्दि करें..!’ फैक्ट चेक के उद्देश्य से इस पोस्ट में लिखी गई बातों को ज्यों का त्यों पेश किया गया है। इस पोस्ट के आर्काइव्ड वर्जन को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

पड़ताल

कोरोना संक्रमण के दौरान लॉकडाउन काफी लंबे समय तक देखने को मिला। ऐसे में फ्री रीचार्ज के ऐसे मैसेज अक्सर वायरल होते हुए भी दिखे। विश्वास न्यूज पहले भी ऐसे वायरल मैसेजों की पड़ताल कर चुका है। इस वायरल मैसेज की जांच के लिए हमने सबसे पहले इसे इंटरनेट पर ओपन सर्च किया। तीन दिग्गज टेलिकॉम कंपनियों एयरटेल, जियो और वी के यूजर्स को अगर ये ऑफर मिल रहा होता, तो निश्चित तौर पर इनकी प्रामाणिक मीडिया कवरेज मौजूद होती। हमें ऐसी कोई न्यूज रिपोर्ट नहीं मिली। इसके उलट हमें कई ऐसी रिपोर्ट और पोस्ट मिली, जिसमें इसी तरह के दावे को फर्जी बताया गया है।

हमें हमारे सहयोगी दैनिक जागरण की वेबसाइट पर 22 अप्रैल 2021 प्रकाशित एक रिपोर्ट मिली। इस रिपोर्ट में सेलुलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया (COAI) के हवाले से बताया गया है कि भारत सरकार की तरफ से 3 महीने का फ्री रिचार्ज मिलने का दावा झूठा है। इस रिपोर्ट को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

वायरल मैसेज की पड़ताल के लिए हमने इसमें मौजूद लिंक पर क्लिक किया (एक्सपर्ट्स की सलाह है कि किसी अनजान लिंक पर क्लिक न करें और भूलकर भी अपनी निजी जानकारियां साझा न करें)। ये लिंक दावे में मौजूद किसी भी टेलिकॉम कंपनी के आधिकारिक लिंक से मेल नहीं खाता। यहां क्लिक करने पर यूजर से तीनों कंपनियों में से एक का चुनाव करने को कहा जा रहा है। इसके बाद यूजर से उसका मोबाइल नंबर और प्रदेश की जानकारी मांगी जा रही है। अगले स्टेप में 10 वॉट्सऐप ग्रुप में शेयर करने को कहा जा रहा है। सिर्फ जांच के उद्देश्य से हमने सभी ऑप्शन में गलत जानकारियां भरीं और नेक्स्ट स्टेप पर बढ़ते रहे। इस लिंक पर अंत में एक बधाई संदेश पॉपअप हो रहा है और तमाम ऐड डिस्प्ले हो रहे हैं। साइबर एक्सपर्ट्स का कहना है कि ऐसे लिंक क्लिकबेट द्वारा कमाई के उद्देश्य और निजी जानकारियों को चुराने के लिए बनाए जाते हैं। इनपर क्लिक करना खतरनाक हो सकता है।

विश्वास न्यूज ने इस वायरल दावे के संबंध में एयरटेल के प्रवक्ता से बात की। उन्होंने इस तरह के दावे को पूरी तरह से फर्जी बताया। साथ ही उन्होंने इस तरह के किसी भी ऑफर के लिंक पर क्लिक न करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि लिंक पर क्लिक करने से आप ठगी का शिकार हो सकते हैं। हमने अपनी पड़ताल को और पुख्ता करने के लिए टेलिकॉम मामलों के एक्सपर्ट हेमंत उपाध्याय को वायरल लिंक भेज कर इसके बारे में उनसे पूछा। उन्होंने बताया कि इस तरह के दावे पूरी तरह से फर्जी हैं। न तो कोई टेलिकॉम कंपनी इस तरह का ऑफर देती है और न ही सरकार। यह एक तरह का स्कैम है। उन्होंने कहा कि ग्राहकों को इस तरह के वायरल लिंक से बचकर रहना चाहिए।

विश्वास न्यूज ने इस वायरल दावे को शेयर करने वाले FB यूजर Bali Ram Mourya की प्रोफाइल को स्कैन किया। इस यूजर के फेसबुक पर करीब 2000 फॉलोअर हैं। इन्होंने अपने बारे में बहुत अधिक जानकारी साझा नहीं की है।

(With inputs from Vivek Tiwari)

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की पड़ताल में भारत सरकार की तरफ से तीन महीने का फ्री रीचार्ज मिलने का ये दावा झूठा निकला है। फ्री रिचार्ज के नाम पर स्पैम लिंक वायरल किया जा रहा है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, ऐसे लिंक पर क्लिक करने से आपको वित्तीय नुकसान भी उठाना पड़ सकता है।

  • Claim Review : भारत सरकार द्वारा Online पढ़ाई के लिए सभी भारतीय यूजर्स को 3 महीने वाला Recharge Plan फ्री में दिया जा रहा है।
  • Claimed By : FB यूजर Bali Ram Mourya
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें

और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later