X

Fact Check: राजा रवि वर्मा की कलाकृति पर आधारित फोटोशूट को बताया जा रहा असल पेंटिंग, पोस्ट का दावा भ्रामक

विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल तस्वीर को लेकर किया जा रहा दावा भ्रामक निकला है। कोलाज में जिसे राजा रवि वर्मा की पेटिंग बताया जा रहा है, असल में वह उनकी पेंटिंग पर आधारित एक फोटोशूट है। कैमरे से क्लिक की गई तस्वीर को पेंटिंग बताकर वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: July 14, 2021

विश्‍वास न्‍यूज (नई दिल्‍ली)। सोशल मीडिया पर एक कोलाज वायरल हो रहा है। इसमें दाहिनी तरफ लियोनार्डो द विंची की मशहूर पेंटिंग मोनालिसा है और बाएं तरफ एक महिला की तस्वीर है। वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि बाएं तरफ की तस्वीर मशहूर पेंटर राजा रवि वर्मा की पेंटिंग है। पोस्ट के माध्यम से यह दिखाने की कोशिश की जा रही है कि राजा रवि वर्मा की कलाकृति के बेहतर होने के बावजूद मार्केटिंग और प्रोपेगेंडा लॉबी की वजह से मोनालिसा पेंटिग जितना प्रचार-प्रसार नहीं हो सका। विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल दावा भ्रामक निकला है। कोलाज में जिसे राजा रवि वर्मा की पेटिंग बताया जा रहा है, असल में वह उनकी पेंटिंग पर आधारित एक फोटोशूट है। कैमरे से क्लिक की गई तस्वीर को पेंटिंग बताकर वायरल किया जा रहा है।

क्या हो रहा है वायरल

फेसबुक पेज Sanatan is Alive ने फेसबुक पर एक तस्वीर साझा की है। इस पोस्ट में लिखा है, Choose between two portraits, One is by Raja Ravi Verma, which perhaps, you have never seen. Another is by Leonardo da Vinci which you must have seen million times. Now think about how marketing and propaganda lobbies bias our minds. दरअसल पोस्ट में दो तस्वीरें हैं। दावा किया गया है कि एक पेंटिंग राजा रवि वर्मा की है और दूसरी पेंटिंग लियोनार्डो द विंची की है। पोस्ट में कहा गया है कि राजा रवि वर्मा की पेंटिंग ज्यादा बेहतर है और वह प्रोपेगेंडा व मार्केटिंग की वजह से उतनी लोकप्रिय नहीं हुई। इस पोस्ट के आर्काइव्ड वर्जन को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने इस वायरल तस्वीर की सच्चाई जानने के लिए सबसे पहले राजा रवि वर्मा की पेंटिंग बताई जा रही तस्वीर को ध्यान से देखा। उस पर कुछ लिखा हुआ दिखा, जो धुंधला था। हमने इसे जूम टूल से बड़ा करके देखा, तो उस पर @Sruvam Studios लिखा मिला। इसके बाद हमने रजा रवि वर्मा की पेंटिंग बताई जा रही तस्वीर के उस हिस्से को स्नीपिंग टूल की मदद से क्रॉप किया। हमने इस क्रॉप हिस्से को गूगल रिवर्स इमेज टूल की मदद से सर्च किया, तो हमें https://www.pinterest.com पर ये तस्वीर दिखाई दी। Pinterest पर इंस्टाग्राम पेज bridesofhyderabad को क्रेडिट देते हुए इस तस्वीर को शेयर किया गया है। यहां बताया गया है कि यह राजा रवि वर्मा रीक्रिएशन सीरीज के तहत किया गया Sruvam Studios की तरफ से किया गया फोटोशूट है।

हमें bridesofhyderabad नाम के इंस्टाग्राम पेज पर ओरिजनल पोस्ट भी मिल गई। इसे यहां नीचे देखा जा सकता है।

वायरल तस्वीर पर भी हमें Sruvam Studios लिखा हुआ मिला और Pinterest की पोस्ट में भी इस स्टूडियो का जिक्र हमें मिला। इस क्लू के आधार पर हमने Hyderabad स्थिति Sruvam Studios से वायरल तस्वीर को लेकर संपर्क किया। Sruvam Studios के सीईओ Vamsi krishna ने बताया कि उन्होंने ये तस्वीर दो साल खुद अपने कैमरे से खींची थी। इससे साफ हो गया कि ये पेंटिंग नहीं है, बल्कि राजा रवि वर्मा की पेंटिंग का रीक्रिएशन है, जिसे कैमरे से क्लिक किया गया है।

हमने इस वायरल दावे को शेयर करने वाले फेसबुक पेज Sanatan is Alive को स्कैन किया। फैक्ट चेक किए जाने तक इस पेज के 908 फॉलोअर्स थे।

(With inputs from Vivek Tiwari)

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल तस्वीर को लेकर किया जा रहा दावा भ्रामक निकला है। कोलाज में जिसे राजा रवि वर्मा की पेटिंग बताया जा रहा है, असल में वह उनकी पेंटिंग पर आधारित एक फोटोशूट है। कैमरे से क्लिक की गई तस्वीर को पेंटिंग बताकर वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : बाएं तरफ की तस्वीर मशहूर पेंटर राजा रवि वर्मा की पेंटिंग है।
  • Claimed By : फेसबुक पेज Sanatan is Alive
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later