X

Fact Check: ‘द कश्मीर फाइल्स’ से जोड़ कर वायरल की जा रही यह तस्वीर एडिटेड है

विश्वास न्यूज़ ने पोस्ट की पड़ताल की और पाया कि वायरल की जा रही तस्वीर फ़र्ज़ी है। विदेशी व्यक्ति के हाथ में नज़र आ रहे प्लाकार्ड को एडिट किया गया है। असल फोटो 2019 की है, इसमें प्लाकार्ड पर ‘stop using group pics for your dating profile.’ लिखा हुआ था।

  • By Vishvas News
  • Updated: March 22, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज़)। पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर ‘द कश्मीर फाइल्स’ ट्रेंड कर रहा है। अब इसी तर्ज़ पर एक तस्वीर को शेयर किया जा रहा है, जिसमें एक विदेशी व्यक्ति के हाथ में एक प्लाकार्ड है और उस पर लिखा है, ‘Kashmir files is not a movie. It’s a wake-up call for Hindus.’। इस फोटो को सच मान कर बहुत से सोशल मीडिया यूजर इसे फैला रहे हैं। विश्वास न्यूज़ ने पोस्ट की पड़ताल की और पाया कि वायरल की जा रही तस्वीर फ़र्ज़ी है। विदेशी व्यक्ति के हाथ में नज़र आ रहे प्लाकार्ड को एडिट किया गया है। असल फोटो 2019 की है, इसमें प्लाकार्ड पर ‘stop using group pics for your dating profile.’ लिखा हुआ था।

क्या है वायरल पोस्ट में ?

ट्विटर यूजर ‘Ashish Rayal’ (Archive Link)ने इस फोटो को शेयर किया, जिसमें उनके हाथ में एक प्लाकार्ड है और उस पर लिखा है, ‘Kashmir files is not a movie. It’s a wake-up call for Hindus.” जिसका हिंदी अनुवाद होता है “कश्मीर फाइल कोई फिल्म नहीं है। यह हिंदुओं के लिए एक वेक-अप कॉल है।”

पोस्ट के आर्काइव वर्जन को यहाँ देखें।

पड़ताल

अपनी पड़ताल को शुरू करते हुए सबसे पहले हमने गूगल रिवर्स इमेज के ज़रिये वायरल तस्वीर को सर्च किया। सर्च में हमें यह तस्वीर dudewithsign नाम के एक वेरिफाइड इंस्टाग्राम हैंडल पर 25 नवंबर, 2019 को अपलोडेड मिली। पर इस तस्वीर में व्यक्ति की टीशर्ट का रंग लाल नहीं काला था और प्लाकार्ड पर भी कुछ और लिखा था। इस तस्वीर में प्लाकार्ड के ऊपर लिखा था, “stop using group pics for your dating profile” जिसका हिंदी अनुवाद होता है “अपने डेटिंग प्रोफाइल के लिए ग्रुप फोटो का इस्तेमाल बंद करें।”

dudewithsign इंटाग्राम हैंडल के बारे में ढूंढ़ने पर हमें पता चला कि इस तस्वीर में दिख रहे और इस अकाउंट को चलाने वाले व्यक्ति सेथ सेठ फिलिप्स हैं। हमें सेथ को लेकर कई खबरें मिली, जिन्हें यहाँ और यहाँ पढ़ा जा सकता है।

हमने dudewithsign के पूरे इंस्टाग्राम हैंडल को छाना मगर हमें कहीं भी द कश्मीर फाइल्स फिल्म से जुड़ी कोई पोस्ट नहीं मिली।

अब यह तो साफ़ है कि जिस तस्वीर को वायरल किया जा रहा है, वह एडिटेड है। मगर पुष्टि के लिए हमने डूड विद साइन के सेथ फिलिप्स से मेल के ज़रिये संपर्क साधा है। वहां से जवाब आते ही इस खबर को अपडेट किया गया है।

पोस्ट को फ़र्ज़ी दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर Ashish Rayal की सोशल स्कैनिंग में हमें पता चला कि यूजर ऋषिकेश के रहने वाले हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ ने पोस्ट की पड़ताल की और पाया कि वायरल की जा रही तस्वीर फ़र्ज़ी है। विदेशी व्यक्ति के हाथ में नज़र आ रहे प्लाकार्ड को एडिट किया गया है। असल फोटो 2019 की है, इसमें प्लाकार्ड पर ‘stop using group pics for your dating profile.’ लिखा हुआ था।

  • Claim Review : Kashmir files is not a movie. It’s a wake-up call for Hindus
  • Claimed By : Ashish Rayal
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later