X

Fact Check: यह तस्वीर 2014 में इराकी व्यक्ति के सिर पर बुलेट लगने की है, फलस्तीन-इजरायल टकराव से नहीं है कोई संबंध

हमने अपनी पड़ताल में पाया कि यह दावा गलत है। असल में ये तस्वीर इराक की है। जिस व्यक्ति के सिर पर गोली लगी है उसका नाम इराक का शेख मोहम्मद ओबैद अल-रवी है। 2014 में इराकी सैनिकों और इराकी धार्मिक गुटों के बीच हुए संघर्ष के दौरान शेख अल-रवी को उनके सिर में एक गोली लगी थी। ये तस्वीरें उस समय की है। इन तस्वीरों का इजरायली और फलस्तीनियों के बीच हुई झड़पों से कोई लेना-देना नहीं है।

  • By Vishvas News
  • Updated: June 8, 2021

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया पर आज कल एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें एक व्यक्ति को सिर में गोली के साथ हंसते हुए देखा जा सकता है। पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि ये फलस्तीन की तस्वीर है। हमने अपनी पड़ताल में पाया कि ये दावा गलत है। असल में ये तस्वीर इराक की है।

जिस व्यक्ति के सिर पर गोली लगी है उसका नाम शेख मोहम्मद ओबैद अल-रवी है। 2014 में इराकी सैनिकों और इराकी धार्मिक गुटों के बीच हुए संघर्ष के दौरान शेख अल-रवी को उनके सिर में एक गोली लगी थी। ये तस्वीरें उस समय की है। इन तस्वीरों का इजरायली और फलस्तीनियों के बीच हुई झड़पों से कोई लेना-देना नहीं है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

वायरल पोस्ट में 3 तस्वीरों का कोलाज हैं, जसमें एक व्यक्ति को सिर पर लगी गोली देखी जा सकता है। इस विपत्ति के बावजूद यह व्यक्ति मुस्कुराता दिख रहा है। फोटो के साथ कैप्शन लिखा है, “Allaahu Akbar The power of Allaah. A Palestinian Sheikh who was worshipping in the mosque aqsa was shot by the Zionist of Israel. By the power of Allaah a zionist sniper bullet that was as big as a thumb could not penetrate the head of the sheikh.” जिसका हिंदी अनुवाद होता है “अल्लाह हू अकबर। अल्लाह की ताकत। एक फलस्तीनी शेख, जो मस्जिद अक्सा में नमाज़ पढ़ रहा था, को इजरायल के यहूदियों ने गोली मार दी थी। अल्लाह की शक्ति से एक यहूदी स्नाइपर की गोली जो कि एक अंगूठे के बराबर बड़ी थी, शेख के सिर में प्रवेश नहीं कर सकी।”

इस पोस्ट का आर्काइव लिंक यहाँ देखा जा सकता है।

पड़ताल

इस पोस्ट की पड़ताल करने के लिए हमने इन तस्वीरों को गूगल रिवर्स इमेज पर ‘man smiling with bullet in his head’ कीवर्ड्स के साथ ढूंढा। हमारे हाथ alarabiya.net की एक खबर लगी, जिसमें इस घटना को इराक का बताया गया था। खबर 10 अगस्त 2014 को फाइल हुई थी और इसमें बताया गया था कि यह घटना इराक की है।

हमें इसी जानकारी के साथ ये खबर 9news.com.au पर भी 13 अगस्त 2014 को पब्लिश्ड मिली।

ज़्यादा जानकारी के लिए हमने alarabiya.net के वेब एडिटर हसन अल साकिब से बात की। उन्होंने कहा,“हमारी वेबसाइट पर इस तस्वीर के विषय में जो जानकारी दी गयी है वो सही है। यह तस्वीर इराक की है, जब फालुजाह शहर के निवासी शेख मोहम्मद ओबैद अल-रवी, क्रांतिकारियों और इराकी सरकारी सैनिकों के बीच गोलीबारी के दौरान सिर में गोली लगने से घायल हो गए थे।”

इस पोस्ट को पांडिचेरी के रहने वाले फेसबुक यूजर Au Ro ने शेयर किया था। यूजर के फेसबुक पर 814 फ़ॉलोअर्स हैं।

निष्कर्ष: हमने अपनी पड़ताल में पाया कि यह दावा गलत है। असल में ये तस्वीर इराक की है। जिस व्यक्ति के सिर पर गोली लगी है उसका नाम इराक का शेख मोहम्मद ओबैद अल-रवी है। 2014 में इराकी सैनिकों और इराकी धार्मिक गुटों के बीच हुए संघर्ष के दौरान शेख अल-रवी को उनके सिर में एक गोली लगी थी। ये तस्वीरें उस समय की है। इन तस्वीरों का इजरायली और फलस्तीनियों के बीच हुई झड़पों से कोई लेना-देना नहीं है।

  • Claim Review : Allaahu Akbar The power of Allaah. A Palestinian Sheikh who was worshipping in the mosque aqsa was shot by the Zionist of Israel. By the power of Allaah a zionist sniper bullet that was as big as a thumb could not penetrate the head of the sheikh
  • Claimed By : Au Ro
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later