X

Fact Check: मेजर विभूति शंकर की शहादत को हो चुके हैं 2 साल, पुरानी तस्वीरें भ्रामक दावे के साथ वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: December 23, 2020

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर 3 तस्वीरों वाली एक पोस्ट वायरल हो रही है। पहली तस्वीर में एक ताबूत के सामने रोती हुई महिला को देखा जा सकता है। दूसरी तस्वीर में एक भारतीय आर्मी के जवान की तस्वीर है और तीसरी तस्वीर में ताबूत के ऊपर मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल लिखा देखा जा सकता है। पोस्ट के साथ दावा किया जा रहा है कि मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की हाल ही में शहादत हुई।

विश्वास न्यूज़ ने अपनी पड़ताल में पाया कि दावा भ्रामक है। मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की शहादत 2019 में ही हो चुकी है। मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल फरवरी 2019 में पुलवामा में आतंकवादी मुठभेड़ में शहीद हुए थे।

क्या है वायरल पोस्ट में

इस पोस्ट को Jeet Kr नाम के यूजर SUPPORT INDIAN ARMY नाम के फेसबुक पेज पर शेयर किया और साथ में लिखा, “8 महीने पहले हुई थी शादी 😢 मां बाप के एकलौता पुत्र थे मेजर विभूति शंकर जी 😭😭और आज इनकी पत्नी विधवा हो गई। #विनम्र_श्रद्धांजलि 😢😭 #Jai_hind 🇮🇳🇮🇳”

पोस्ट का आर्काइव लिंक यहाँ देखें।

पड़ताल

अपनी पड़ताल शुरू करते हुए हमने सबसे पहले इन तस्वीरों को Google रिवर्स इमेज टूल के जरिये सर्च किया। हमें 18 फरवरी 2019 की जागरण की एक खबर में मेयर विभूति शंकर की तस्वीर मिली। खबर की हेडलाइन थी, “शहीद मेजर विभूति ढौंडियाल और चित्रेश बिष्ट को एक ही ‘पाठशाला’ से मिली देशभक्ति की सीख।” खबर के अनुसार, मेजर विभूति ढौंडियाल की शहादत फरवरी 2019 में पुलवामा में आतंकवादी मुठभेड़ में हुई थी।

हमें वायरल हो रही बाकी दोनों तस्वीरें अमर उजाला की 20 फरवरी 2019 को अपलोडेड एक गैलरी में मिलीं। रिपोर्ट की हेडलाइन थी, “पुलवामा एनकाउंटर: शहीद विभूति के घर से आई ऐसी तस्वीरें जिन्हें देखकर फट जाएगा कलेजा।”

हमने दावे को सत्यापित करने के लिए भारतीय सेना के पीआरओ के अरुण से संपर्क किया। उन्होंने कहा, “मेजर विभूति शंकर की शहादत 2 साल पहले फरवरी 2019 में पुलवामा आतंकी हमले में हो चुकी है।”

अंत में, विश्वास न्यूज ने SUPPORT INDIAN ARMY नाम के फेसबुक पेज की सोशल स्कै।निंग की। फेसबुक अकाउंट के अनुसार, पेज के 566.9K फ़ॉलोअर्स हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ ने अपनी पड़ताल में पाया कि दावा भ्रामक है। मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल फरवरी 2019 में पुलवामा में आतंकवादी मुठभेड़ में शहीद हुए थे।

  • Claim Review : 8 महीने पहले हुई थी शादी मां बाप के एकलौता पुत्र थे मेजर विभूति शंकर जी और आज इनकी पत्नी विधवा हो गई ।
  • Claimed By : SUPPORT INDIAN ARMY
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later